शशि थरूर ने शायरी के जरिये अपनी उम्मीदवारी के समर्थन का दायरा बढ़ने का किया दावा

शशि थरूर ने शायरी के जरिये अपनी उम्मीदवारी के समर्थन का दायरा बढ़ने का किया दावा

शशि थरूर ने शायरी के जरिये अपनी उम्मीदवारी के समर्थन का दायरा बढ़ने का किया दावा

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने जा रहे पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने 30 सितंबर को नामांकन दाखिल करने से पहले बुधवार को एक शायरी के जरिये परोक्ष रूप से यह दावा किया कि उनकी उम्मीदवारी के समर्थन का दायरा बढ़ता जा रहा है.

उन्होंने ट्वीट किया कि मैं अकेला ही चला था जानिब-ए-मंज़िल, मगर लोग साथ आते गए और कारवां बनता गया. ये पंक्तियां मशहूर शायर और गीतकार मजरूह सुल्तानपुरी की हैं. थरूर 30 सितंबर को पूर्वाह्न 11 बजे नामांकन पत्र दाखिल करेंगे.

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार, अधिसूचना 22 सितंबर को जारी की गई और नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से आरम्भ हुई, जो 30 सितंबर तक चलेगी. नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है. एक से अधिक उम्मीदवार होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और नतीजे 19 अक्टूबर को घोषित किये जाएंगे. सोर्स- भाषा

और पढ़ें