धवन ने कहा-चोट से उबरकर वापसी के बाद लय ढूंढ रहे रोहित की इस कमी का फायदा उठाएंगे 

धवन ने कहा-चोट से उबरकर वापसी के बाद लय ढूंढ रहे रोहित की इस कमी का फायदा उठाएंगे 

धवन ने कहा-चोट से उबरकर वापसी के बाद लय ढूंढ रहे रोहित की इस कमी का फायदा उठाएंगे 

दुबई: दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने कहा कि मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा को हैमस्ट्रिंग की चोट से उबरकर वापसी करने के बाद लय हासिल करने में समय लगता है तो उनकी टीम गुरुवार को होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग क्वालीफायर में इसका फायदा उठाने की कोशिश करेगी. रोहित बायें पांव की हैमस्ट्रिंग के कारण दो सप्ताह तक नहीं खेल पाये. उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में वापसी की.

धवन ने कहा-चोट से उबरकर लय ढूंढ रहे रोहित की कमी का उठाएंगे फायदाः
धवन ने पहले क्वालीफायर की पूर्व संध्या पर कहा कि रोहित बहुत अच्छा खिलाड़ी है और उसने बहुत अधिक मैच नहीं खेले हैं इसलिए मुझे उसकी लय के बारे में पता नहीं है. इसका मतलब है कि हम निश्चित तौर पर इसका फायदा उठा सकते हैं.  उन्होंने कहा कि मेरी शुभकामनाएं उसके साथ हैं लेकिन विरोधी टीम में होने के कारण हम इसका फायदा उठा सकते हैं और हम उसी हिसाब से अपनी रणनीति बनाएंगे.  रोहित को चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिये भारतीय टीम में नहीं चुना गया है लेकिन लंबे समय तक राष्ट्रीय टीम में उनके जोड़ीदार रहे धवन ने कहा कि वह आईपीएल की अपनी अच्छी फॉर्म को ऑस्ट्रेलिया में भी बरकरार रखना चाहेंगे. 

14 पारियों में धवन ने बनाएं 525 रनः
आईपीएल में अब तक 14 पारियों में 525 रन बनाने वाले धवन ने कहा कि एक बार जब आप अच्छा स्कोर बनाना शुरू कर देते हो तो अगली शृंखला में उस फार्म को जारी रखना चाहते हो. मुझे आस्ट्रेलिया में खेलना पसंद है. वह क्रिकेट खेलने के लिये शानदार स्थान है. पिचें बहुत अच्छी होती है और मुझे उनकी गेंदबाजी खेलने में आनंद आता है. उन्होंने कहा कि यह विशेष शृंखला होगी क्योंकि भारतीय टीम लंबे समय बाद खेलेगी. मैं वहां अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं. 

धवन ने सलामी जोड़ीदार पृथ्वी शॉ के लचर प्रदर्शन पर किया बचावः
धवन ने लगातार लचर प्रदर्शन कर रहे अपने सलामी जोड़ीदार पृथ्वी शॉ का पक्ष भी लिया. सॉव ने पिछले छह मैचों में 4,0, 0, 7, 10 और 9 रन बनाये. धवन ने कहा कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जबकि किसी की फार्म गड़बड़ायी है और ऐसा आखिरी बार भी नहीं होगा. उसे शांतचित बने रहने की जरूरत है. ऐसा हर किसी के साथ होता है. वह अच्छी टाइमिंग से शॉट लगा रहा है. उसे सकारात्मक बने रहने और अपनी योग्यता पर विश्वास रखने की जरूरत है. धवन से पूछा गया कि क्या यह उनका आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ सत्र है, उन्होंने कहा कि मैंने आईपीएल में पहली बार 500 रन नहीं बनाये हैं. मैं इससे पहले भी ऐसा कर चुका हूं. हां ऐसा पहली बार हुआ जबकि मैंने दो शतक लगाये और दो बार शून्य पर आउट हुआ. यह मेरे लिये नया है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें