शोएब अख्तर ने की भारतीय टीम की तारीफ, कहा- भारतीयों ने सिखाया संकट में कैसे जज्बा दिखाना होता है

शोएब अख्तर ने की भारतीय टीम की तारीफ, कहा- भारतीयों ने सिखाया संकट में कैसे जज्बा दिखाना होता है

शोएब अख्तर ने की भारतीय टीम की तारीफ, कहा- भारतीयों ने सिखाया संकट में कैसे जज्बा दिखाना होता है

कराचीः पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अजिंक्य रहाणे की अगुवाई वाली टीम के मेलबर्न में किए गए प्रदर्शन की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत ने जीत का जज्बा और प्रतिबद्धता दिखाई. एडीलेड में 36 रन पर आउट होने के बाद भारतीय टीम ने मेलबर्न में दूसरे टेस्ट में आस्ट्रेलिया को आठ विकेट से हराकर श्रृंखला बराबर की.

अख्तर ने कहा- रहाणे ने विराट कोहली, मोहम्मद शमी और रोहित शर्मा की अनुपस्थिति के बावजूद सहजता से अपनी भूमिका निभाईः
शोएब अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि भारत ने असल में ऑस्ट्रेलिया को चारों खाने चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी. संकट में जज्बा दिखाया जाता है. भारतीय टीम ने बेहद संकट की स्थिति में अपना कौशल और जज्बा दिखाया. उन्होंने दिखाया कि वे हार मानने वाले नहीं हैं. अख्तर इस बात से ज्यादा प्रभावित दिखे कि रहाणे ने विराट कोहली, मोहम्मद शमी और रोहित शर्मा की अनुपस्थिति के बावजूद सहजता से अपनी भूमिका निभाई.

अजिंक्य ने गेंदबाजी में सही बदलाव कर नहीं खींचा किसा का ध्यान- 
रावलपिंडी एक्सप्रेस ने कहा कि अजिंक्य ने सहजता से टीम की अगुवाई की. उन्होंने गेंदबाजी में सही बदलाव करके किसी का ध्यान खींचने की कोशिश नहीं की और अब सफलता सारी कहानी बयां कर रही है. कहा जाता है कि अगर आप चुपचाप कड़ी मेहनत करते हैं तो सफलता कहानी बयां करती है. 

शोएब अख्तर ने मोहम्मद सिराज और शुभमन गिल की भी की तारीफः
शोएब अख्तर ने इसके बाद अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे मोहम्मद सिराज और शुभमन गिल की तारीफ की जिन्होंने दबाव में अच्छा प्रदर्शन किया. उन्होंने कहा कि सिराज ने अपना पिता गंवा दिया जो अपने बेटे को भारत की तरफ से खेलते हुए देखना चाहते थे. यह दुर्भाग्यपूर्ण था. उसने अपना सारा गुस्सा ऑस्ट्रेलिया पर निकाला और अपने पिता को सच्ची श्रद्धांजलि दी. अख्तर ने कहा कि जब आप गिल को देखते हो तो आपको लगता है कि वह बेजोड़ बल्लेबाज है जिसे आप भविष्य में देखने वाले हैं. रविंद्र जडेजा टीम में आये और हर विभाग में योगदान दिया.
सोर्स भाषा

और पढ़ें