जयपुर VIDEO: हवाई यात्रा पर ओमिक्रोन का खौफ! जयपुर एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स में यात्रियों की कमी, देखिए ये खास रिपोर्ट 

VIDEO: हवाई यात्रा पर ओमिक्रोन का खौफ! जयपुर एयरपोर्ट पर फ्लाइट्स में यात्रियों की कमी, देखिए ये खास रिपोर्ट 

जयपुर: एविएशन सेक्टर पर एक बार फिर संकट के बादल मंडराने लगे हैं. ओमिक्रोन का असर बढ़ने के साथ ही हवाई यात्रा पर असर दिखने लगा है. जयपुर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पिछले कुछ दिन में ही यात्रीभार में गिरावट देखी जा रही है. ओमिक्रोन के डर से आने वाले दिनों में यात्रीभार में और भी गिरावट हो सकती है.  जयपुर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर एक बार फिर प्रशासन के लिए चिंता बढ़ गई है. विशेषज्ञ देश में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका जता रहे हैं. 

राजस्थान ही नहीं, देशभर में कोरोना के केसेज की संख्या में एक साथ उछाल देखने को मिल रहा है. इसी को देखते हुए अब लोग अनावश्यक यात्रा करने से बचने लगे हैं. हालांकि जिन यात्रियों की पहले से टिकट बुक है और प्रोग्राम तय हो चुके हैं, वे हवाई यात्रा कर रहे हैं, लेकिन यात्रीभार में गिरावट के आंकड़े यह दर्शाने के लिए काफी है कि अब तीसरी बार कोरोना का खौफ हवाई यात्रियों के जेहन पर छाने लगा है. यही कारण है कि अब यात्री फिर से यात्रा करने से डरने लगे हैं.

ओमिक्रोन के खौफ से कम हुआ यात्रीभार:
- 1 दिसंबर को 57 फ्लाइट संचालित, 11326 यात्रियों का आवागमन
- 8 दिसंबर को 57 फ्लाइट संचालित, 14021 यात्रियों का आवागमन
- 11 दिसंबर को 56 फ्लाइट संचालित, यात्रीभार रहा 14250
- 15 दिसंबर को 58 फ्लाइट संचालित, यात्रीभार रहा 14479 
- 19 दिसंबर को 57 फ्लाइट संचालित, 14777 रहा यात्रीभार
- 20 दिसंबर को 58 फ्लाइट संचालित 13964 रहा यात्रीभार
- 25 दिसंबर को 56 फ्लाइट संचालित, यात्रीभार रहा 15164
- 28 दिसंबर को 60 फ्लाइट संचालित, 13881 रहा यात्रीभार
- 30 दिसंबर को 59 फ्लाइट्स से 13893 यात्रियों का आवागमन
- 1 जनवरी को 56 फ्लाइट्स से 11772 यात्रियों का हुआ आवागमन
- 4 जनवरी को 59 फ्लाइट संचालित, 10404 रहे यात्री
- 5 जनवरी को 56 फ्लाइट संचालित, 9870 रहे यात्री

जयपुर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर अभी तक औसतन 58 फ्लाइट्स का संचालन हो रहा है. दिसंबर माह में रोजाना 57 से 58 फ्लाइट संचालित हो रही थी, जबकि अब फ्लाइट्स की संख्या में गिरावट देखने को मिल रही है. एयरलाइन इन दिनों रोजाना 1 से 2 फ्लाइट रद्द कर रही हैं. इसके पीछे यात्रीभार में कमी को प्रमुख कारण माना जा रहा है. पिछले 2 माह में ऐसा पहली बार हुआ है जब हवाई यात्रीभार 10 हजार से कम हो गया है.

अब रोज 1-2 फ्लाइट होने लगी रद्द:
- 5 जनवरी को सुबह 5:15 बजे बेंगलूरु जाने वाली फ्लाइट 6E-839 हुई रद्द
- 5 जनवरी को शाम 5:10 बजे देहरादून जाने वाली फ्लाइट 6E-7328 हुई रद्द
- आज सुबह 9:05 बजे कोलकाता जाने वाली गो फर्स्ट की फ्लाइट G8-703 रद्द
- आज दोपहर 1:20 बजे हैदराबाद की गो फर्स्ट की फ्लाइट G8-506 रद्द

नवंबर और दिसंबर माह में जयपुर एयरपोर्ट से रोजाना औसतन 12 से 14 हजार यात्री यात्रा कर रहे थे, लेकिन जनवरी माह की शुरुआत से ही यात्रीभार में गिरावट देखी जा रही है. अब यात्रियों की संख्या 10 हजार से भी कम हो गई है. एयरलाइंस से जुड़े सूत्रों की मानें तो अभी तक फ्लाइट्स में 70 से 80 फीसदी तक यात्रीभार मिल रहा है, लेकिन आगामी दिनों में यात्रीभार में गिरावट और हो सकती है. यदि यात्रीभार 50 फीसदी से कम हुआ तो एयरलाइंस के लिए संकट बढ़ेगा और उस स्थिति में फ्लाइट्स के लिए संचालन कर पाना मुश्किल होगा.

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज, जयपुर

और पढ़ें