श्वेता तिवाड़ी हत्याकांड मामले की गुत्थी सुलझी, पुलिस दोपहर 1.30 बजे करेगी मामले का खुलासा

FirstIndia Correspondent Published Date 2020/01/10 11:40

जयपुर: जयपुर के चर्चित श्वेता तिवारी व उसके 21 महिने के बेटे श्रीयम हत्याकांड मामले की गुत्थी आखिरकार सुलझ गई है. अब दोपहर 1.30 बजे कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव कमिश्नरेट में प्रेस वार्ता कर पूरे मामले का खुलासा करेंगे. जयपुर पुलिस ने हत्या के दो आरोपियों पकड़ लिया है पुलिस ने हत्या के आरोप में कॉन्ट्रैक्ट किलर सौरभ तिवारी को गिरफ्तार कर लिया है. मृतका का पति रोहित सौरभ तिवारी के साथ मिलकर पिछले 3 दिनों से पुलिस को गुमराह कर रहा था लेकिन साइबर सेल की मदद से आखिरकार पुलिस ने सौरभ चौधरी को धर दबोचा है जिसके बाद मामले का खुलासा हो सका है. 

VIDEO: श्वेता तिवाड़ी मर्डर मिस्ट्री का हुआ पर्दाफाश, पति रोहित तिवाड़ी ही निकला हत्याकांड का मास्टरमांइड

पत्नी और बच्चे की हत्या की योजना बनाई थी:
पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया कि रोहित तिवारी ने अपनी पत्नी और बच्चे की हत्या की योजना बनाई थी. रोहित तिवारी पहले आईओसी के आगरा स्थित कार्यालय में पोस्टेड था. तब उसकी आगरा निवासी गौरव से दोस्ती हुई थी. जिसके बाद उसकी मुलाकात गौरव के रिश्तेदार सौरभ चौधरी से हुई थी, जो कि भरतपुर में रहता था. भरतपुर निवासी सौरभ चौधरी पिछले कुछ समय से जयपुर में रह रहा था और उसकी मुलाकात रोहित तिवारी से होती रहती थी. मृतका के प्रति रोहित तिवारी ने अपनी पत्नी श्वेता तिवारी व 21 महीने के बेटे श्रीयम को मारने के लिए सौरभ चौधरी को सुपारी दी थी. शुरुआती जांच में माना जा रहा है कि इसके लिए 10 हजार रुपये का भुगतान भी किया था और हत्या के बाद में बाकी बचा भुगतान भी करना था. 

श्वेता तिवाड़ी हत्याकांड: रोहित तिवाड़ी के ऑफिस के सीसीटीवी कैमरे मिले खराब

मोबाइल पर मैसेज भेज कर फिरौती की मांग की:
रोहित तिवारी की ओर से सुपारी मिलने के बाद सौरव चौधरी ने मंगलवार दोपहर को श्वेता तिवारी व उसके बेटे की हत्या कर दी. हालांकि इस मर्डर की पहले से प्लानिंग की गई थी और इस हत्या में रोहित तिवारी का नाम पुलिस की जांच में नहीं आए, इसलिए बेटे के अपहरण की साजिश रची गई और उसके शव को ले जाकर जंगल में फेंक दिया गया. जिसके बाद रोहित तिवारी अपने फ्लैट पर पहुंचा और पहले से बनाई योजना के मुताबिक सौरभ चौधरी ने उसके मोबाइल पर मैसेज भेज कर फिरौती की मांग की. यह मैसेज पुलिस के सामने ही रोहित तिवारी के मोबाइल पर आया था, जिससे कि पुलिस को हत्या के मामले में पति रोहित तिवारी पर शक ना हो. 

VIDEO: श्वेता तिवाड़ी हत्याकांड: मां ने लगाया दामाद रोहित और उसके परिजनों पर हत्या का आरोप

पुलिस पर प्रताड़ित करने का आरोप भी लगाया:
सौरभ चौधरी ने हत्या के बाद श्वेता तिवारी का फोन तोड़ कर सिम निकाल ली और सांगनेर से नया मोबाइल लेकर उसमें सिम डाली और फोन से फिरौती के लिए मैसेज कर रहा था. पुलिस को गुमराह करने के लिए जयपुर की अलग-अलग जगह से फिरौती के लिए मैसेज भेजे जा रहे थे. लेकिन पुलिस को आशंका थी कि इस मामले में श्वेता तिवारी का पति रोहित मिला हो सकता है. जिसके चलते पुलिस ने लगातार परिवादी होने के बावजूद भी आशंका के आधार पर रोहित तिवारी को अपनी कस्टडी में रखा. इस दौरान रोहित तिवारी ने अपने वकील के जरिए कोर्ट में एक याचिका भी डलवाई जिसमें पुलिस पर प्रताड़ित करने का आरोप भी लगाया. लेकिन जयपुर पुलिस ने मामले में मुस्तैदी दिखाई और साइबर सेल की सहायता लेते हुए हत्या करने वाले आरोपी सौरभ चौधरी को धर दबोचा जिसने रोहित तिवारी के इशारे पर ही हत्या करना स्वीकार किया. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in