वर्षों से बस स्टैंड की कमी से जूझ रहा है सिरोही रोड़

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/02/08 09:06

पिंडवाड़ा(सिरोही)। सिरोही रोड़ ऐसा क्षेत्र जहां पर आने जाने वाले यात्रियों का अक्सर मेला रहता है लेकिन दुर्भाग्य की बात यह रही आज तक यहां कोई भी सरकार समुचित बस स्टैंड तक नही बना सकी। जबकि यहां पर कई राज्यों में जाने वाली बसों का ठहराव होता है। वही आमजनता को शिकायत दोनों पार्टियों के जिम्मेदारों से है। क्योकि दोनों पार्टियों ने बारी बारी से सता पाकर राज किया है।

बस स्टैंड के अभाव में कई बार देखा गया है की ट्रैफिक का दबाव बढ़ जाने से बसों को अंदर आने में व यात्रियों को गंतव्य तक छोड़ने में काफ़ी समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। चाहे सर्दी हो या गर्मी या फिर बारिश कई दरम्यान देखा गया है की जो लोग यात्रा करने के लिए यहां आते है उनको कई कठिनाइयों से गुजरना पड़ता है। पास में ही रेलवे स्टेशन होने से कई गाड़ियों का ठहराव होता है। ट्रेन से उतकर यात्रियों को अपने अपने घर जाने हेतु रोडवेज बसों के सहयोग से अपने घर जाते है। परंतु उन रोड़वेज की बसों के ठहराव का कोई उपयुक्त बस स्टैंड नही है। जिससे आलम यह कि आख़िर आमजन को हो रही इन तकलीफ़ को कोई कब समझ पाएंगा...? यदि आज दिन तक समझा होता तो शायद यह दुविधा नही होती..ना ही यात्रियों के लिए कोई सुविधायुक्त यात्री प्रतीक्षालय बगैरा है। इसके अभाव में यात्रा करने वाले उम्र दराज बुजुर्गों को भी मजबूरन घण्टों घण्टों धूप में खड़ा रहना पड़ता है।

विकास को लेकर बड़े बड़े मंचों से दावें तो खूब किए जाते है लेकिन सरकार के जिम्मेदार नुमाइंदे आज तक सिरोही रोड़ को बस स्टैंड की सौगात नही दे सके। जबकि चुनावी समय मे वोट बटोरने के लिए जनता की चौखट पर अवश्य जाते है। यूं कहें कि चुनाव में गरीब जनता की खूब याद आती परन्तु सता प्राप्त हो जाने के बाद एक-एक वादा हवाई फायर की तरह निकल जाता है ।

कई सरकार आई व गई लेकिन आमजन को सुविधा हो व बेहतर बस स्टैंड क्षेत्र में बने.. यह पहल जिम्मेदार सरकार के नेता क्यों नही कर पाएं आज तक यह एक अपने आप मे बड़ा सवाल है..?

गौरतलब है की जिस जगह अभी बसों को खड़ा रहना पड़ रहा है। वहां काफी भीड़-भाड़ वाला इलाका है। ऐसे में कई बार दुर्घटना घटने की भी पूर्ण आशंका है और यदि ज्यादा देर तक बस रुक भी जाएं किसी कारणवंश तो ट्रैफ़िक भी जाम हो जाता है...। ऐसे में कांग्रेस सरकार के जिम्मेदार मंत्री जी को इस बार विषय पर गम्भीरता दिखानी होगी जिससे आमजन को इस समस्या से निजात मिले व क्षेत्र को सभी सुविधाओं से युक्त बस स्टैंड की सौगात जल्द मिले। यह पहल करते हुए विषय को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने रखना होगा। ताकि कुछ विषय पर संज्ञान लिया जा सके। इस बार सता कांग्रेस की है तो जिम्मेदारी भी इन्हीं के नेताओं को निभानी होगी और आमजन को इस बार उम्मीद भी रहेगी की तत्काल समस्या का समाधान हो।

...फर्स्ट इंडिया न्यूज से तुषार राजपुरोहित की रिपोर्ट

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in