CBSE बोर्ड: छठी से आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए हस्तशिल्प पर कौशल मॉड्यूल पेश

CBSE बोर्ड: छठी से आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए हस्तशिल्प पर कौशल मॉड्यूल पेश

CBSE बोर्ड: छठी से आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए हस्तशिल्प पर कौशल मॉड्यूल पेश

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने छठी कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए हस्तशिल्प (Handicrafts) पर कौशल मॉड्यूल (Skill Module) पेश किया है. सीबीएसई ने हस्तशिल्प और कालीन क्षेत्र कौशल परिषद (Carpet Sector Skill Council) के सहयोग से छठी कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए हस्तशिल्प पर कौशल मॉड्यूल पेश किया है. छात्र पुस्तिका का शुभारंभ सीबीएसई अध्यक्ष आईएएस मनोज आहूजा, एचसीएसएससी अध्यक्ष, एचसीएसएससी डायरेक्टर (कौशल शिक्षा और प्रशिक्षण) एवं सीबीएसई व एचसीएसएससी के सीईओ की उपस्थिति में किया गया.

छात्रों को मिलेगी 12 घंटे की अवधि: 
सीबीएसई इस कौशल मॉड्यूल के माध्यम से छठी से लेकर आठवीं कक्षा तक के छात्रों को 12 घंटे की अवधि प्रदान करता है. हस्तशिल्प पर यह कौशल मॉड्यूल व्यावहारिक गतिविधियों पर केंद्रित है और छात्रों को सीखने का अनुभव प्रदान करेगा. इस हैंडबुक में दो मॉड्यूल शामिल होंगे जो कि पेपर माचे और फैशन ज्वैलरी हैं. 

इस मौके पर सीबीएसई अध्यक्ष मनोज आहूजा ने कहा कि वह छात्रों के लिए इस पुस्तिका को विकसित करने के लिए एचसीएसएससी के अकादमिक विंग के प्रयासों की सराहना करते हैं. इसके साथ ही यह आशा करता हूं कि यह मॉड्यूल समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के बारे में जागरूकता पैदा करने में मदद करेगा. उन्होंने कहा कि यह नई शिक्षा नीति (New Education Policy) के भी अनुरूप है. मुझे यह भी उम्मीद है कि इस तरह के पाठ्यक्रम कम उम्र में छात्रों के बीच उद्यमशीलता की मानसिकता बनाने में मदद करेंगे.

 

और पढ़ें