अलवर गैंगरेप मामले में कुछ इस तरह है पूरा घटनाक्रम

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/05/07 05:18

थानागाजी(अलवर)। जिले के थानागाजी क्षेत्र में 26 अप्रैल अपराह्न एक बड़ी घटना घटी। जब एक पति-पत्नी बाइक से जा रहे थे तो सरे राह 5 लोगों ने बाइक से उनको रोका और पास ही रेत के टीलों पर ले गए। उसके बाद पति से जमकर मारपीट की गई और पत्नी से पांचों आरोपियों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया।

घटना दिल दहलाने वाली थी लेकिन पूरी घटना को पहले तो पति पत्नी ने परिजनों को नहीं बताई। बाद में पीड़िता की मां को घटना का पता लग गया। उसने लड़की के ससुराल में घटना के बारे में बताया। इस बीच घटना का वीडियो बनाने वाले आरोपियों ने पीड़ितों से पैसे की डिमांड की और कहा अगर पैसा नहीं मिला तो इस वीडियो को वायरल कर देंगे। 29 तारीख को पीड़ित ने पुलिस से संपर्क किया और 30 अप्रैल को अलवर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर एसपी के सामने न्याय देने की गुहार लगाई । 

थाना अधिकारी को वीडियो वायरल होने की धमकी के बारे जानकारी थी
पुलिस अधीक्षक ने मामले की गंभीरता जाने बिना उन्हें थानागाजी थाने पर जाने के लिए बोल दिया। इस बीच थानागाजी विधायक कांति लाल मीणा ने भी पुलिस अधीक्षक से मिलकर मामला दर्ज करने और पीड़ितों को न्याय देने की मांग की, लेकिन बावजूद उसके इस हैवानियत वाली घटना पर पुलिस का दिल नहीं पसीजा। ना तो मुकदमा ही दर्ज किया गया और ना ही आरोपियों की कोई तलाश की गई। सबसे बड़ी बात यह देखिए कि जब पीड़ित पुलिस अधीक्षक कार्यालय में बैठे थे तो उनके पास आरोपियों के धमकी भरे फोन आ रहे थे यह बात पुलिस अधीक्षक को भी बताई गई। थानागाजी के थाना अधिकारी को भी बताई गई कि वह लगातार पैसे की डिमांड कर रहे हैं अगर आप जल्दी कार्रवाई कर देंगे तो अश्लील वीडियो वायरल नहीं होंगे, लेकिन शायद पुलिस को इन गरीबों की इज्जत की चिंता नहीं थी। इसीलिए इस गंभीर मामले को हल्के में लिया गया। 

विधायक की मांग के बाद भी मामला दर्ज होने में लग गए तीन दिन
पीड़ित कहते हैं एक दिन तो पुलिस ने आरोपियों को ढूंढने की कोशिश भी की और हमसे कहा गया कि आप लगातार उनसे बात करते रहिए, लेकिन उसके बाद यह कह दिया कि अभी चुनाव है और चुनाव के बाद ही इस पूरे मामले को देखेंगे। अब यह देखिए 30 अप्रैल को खुद विधायक ने पुलिस अधीक्षक से मुकदमा दर्ज करने की मांग की, लेकिन मुकदमा दर्ज हुआ 2 मई को दोपहर 2:30 बजे, इससे पहले 1 मई और 2 मई को पीड़िता को अलवर बुलाया गया और मेडिकल जांच कराने की बात कही गई। अब बड़ी बात यह कि मुकदमा दर्ज करने से पहले पुलिस पीड़िता की मेडिकल जांच कैसे करा रही थी । 2 मई को मुकदमा दर्ज हो गया उसके बाद भी पुलिस टस से मस नहीं हुई । 

मामला दर्ज नहीं होने तक आरोपियों ने कई कार्यक्रमों में शिरकत की
बताते हैं कि आरोपी खुद के गांव में ही थे और इस दौरान कई कार्यक्रमों में भी शिरकत करने की जानकारी सामने आई, लेकिन 6 मई को मतदान था और पुलिस पीड़िता का दर्द भूलकर चुनाव में व्यस्त रही। 6 मई को जब पूरा मामला फर्स्ट इंडिया के नजर में आया तो प्रदेश जान गया कि किस तरह पीड़िता न्याय की गुहार लगा रही है और पुलिस पर जूं ही नहीं रेंग रही। 4 मई तक पीड़िता के पास आरोपियों के फोन बजते रहे। पीड़िता के जेठ ने लगातार पुलिस से संपर्क किया और आगाह किया कि अगर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो आरोपी वीडियो वायरल कर देंगे। 

वीडियो वायरल होने पर मानसिक रूप से दबाव में आ गया पूरा परिवार
आखिरकार हुआ भी वही आरोपियों ने पहले 10000 मांगे थे इस मामले में भी आरोपियों की ओर से बारगेनिंग की गई थी फिर 9000 आरोपियों की ओर से तय किए गए  लेकिन जब 9000 भी नहीं मिले तो सोशल मीडिया पर वह वीडियो वायरल होने लगा। परिजनों के फोन बजने लगे, परिजन कहते हैं यह वक्त हमारे लिए और भी बुरा था । खास बात यह की पति और पत्नी दोनों ही पूरी घटना को लेकर इस कदर मानसिक रूप से दबाव में आ चुके हैं कि दूसरे परिजन उन्हें दिलासा दे रहे हैं की सब ठीक हो जायेगा। अलवर पुलिस पूरे मामले में अभी सामने आकर कुछ नहीं बोल रही है यह सही है कि कुछ टीम बनाई गई है आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर लेकिन अब पूरे मामले में राजनीतिक एंट्री भी हो गई है किरोड़ी लाल मीणा ने बैठक कर ली है भाजपा के नेता भी पीड़ितों को दिलासा देने पहुंच रहे हैं। हालांकि अब मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया जा चुका है, लेकिन बाकि चारों आरोपी अभी भी फरार चल रहे है। इस बारे में डीजीपी कपिल गर्ग ने प्रेस वार्ता करके जानकारी दी है। 

....अश्विनी यादव फर्स्ट इंडिया न्यूज अलवर

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in