नई दिल्ली सोनिया गांधी ने उत्तराखंड बाढ़ के कारण नुकसान पर दुख जताया, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की

सोनिया गांधी ने उत्तराखंड बाढ़ के कारण नुकसान पर दुख जताया, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की

सोनिया गांधी ने उत्तराखंड बाढ़ के कारण नुकसान पर दुख जताया, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उत्तराखंड के चमोली में हिमखंड टूटने के कारण उत्पन्न विकराल बाढ़ से जानमाल के नुकसान पर दुःख जताया और कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राहत और बचाव के प्रयासों में लोगों और अधिकारियों की मदद करने की अपील की.

सोनिया गांधी ने कहा- सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करती हूंः
सोनिया गांधी ने अपने बयान में कहा कि ग्लेशियर टूटने के कारण उत्तराखंड में बाढ़ और तबाही की परेशान करने वाली खबर से चिंतित हूं जिसके कारण गंगा नदी के निचले जलग्रहण क्षेत्र में खतरे की आशंका व्यक्त की जा रही है. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मैं सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करती हूं और कांग्रेस कार्यकर्ताओं और वालंटियर से अनुरोध करती हूं कि वे राहत और बचाव के प्रयासों में लोगों और अधिकारियों की मदद करें. उन्होंने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस इस त्रासदी और संकट की घड़ी में उत्तराखंड के लोगों के साथ खड़ी है.

प्रियंका गांधी ने भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से बचाव कार्यों में सहयोग देने की अपीलः
वहीं, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने ट्वीट किया कि उत्तराखंड में ग्लेशियर फटने से आई त्रासदी की खबर बहुत दुखद है. इस मुश्किल समय में पूरा देश उत्तराखंड के निवासियों के साथ खड़ा है. उन्होंने कहा कि आपदा में फंसे लोगों के लिए मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूं. प्रियंका ने कहा कि सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से निवेदन है कि राहत और बचाव कार्यों में भरपूर सहयोग करें.

राहुल गांधी ने किया ट्वीट, लिखा- राज्य सरकार सभी पीड़ितों को तुरंत सहायता देंः
राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि चमोली में ग्लेशियर फटने से बाढ़ त्रासदी बेहद दुखद है. मेरी संवेदनाएं उत्तराखंड की जनता के साथ हैं. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी पीड़ितों को तुरंत सहायता दें. कांग्रेस साथी भी राहत कार्य में हाथ बटाएं.

150 से अधिक श्रमिकः
गौरतलब है कि उत्तराखंड के जोशीमठ में नंदादेवी ग्लेशियर के फटने ने के कारण धौलीगंगा नदी में विकराल बाढ़ आ गई इसके कारण जानमाल के नुकसान की खबर है. अधिकारियों ने बताया कि एक जलविद्युत परियोजना में काम कर रहे 150 से अधिक श्रमिक लापता है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें