केंद्र सरकार से राज्यों को समय पर नहीं मिल रहा ब्लैक फंगस का इंजेक्शन, मरीजों को हो रही परेशानी - CM गहलोत

केंद्र सरकार से राज्यों को समय पर नहीं मिल रहा ब्लैक फंगस का इंजेक्शन, मरीजों को हो रही परेशानी - CM गहलोत

केंद्र सरकार से राज्यों को समय पर नहीं मिल रहा ब्लैक फंगस का इंजेक्शन, मरीजों को हो रही परेशानी - CM गहलोत

जयपुर: कोरोना (coronavirus) संक्रमण के बीच ब्लैक फंगस (Black fungus) की बिमारी चिंता बढ़ा रही है. राजस्थान सहित देश के कई राज्यों में इस बिमारी के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. इसी को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि ब्लैक फंगस का इंजेक्शन (Black fungus injection) राज्यों को समय पर नहीं मिल पा रहा है जिससे मरीजों को बहुत परेशानी हो रही है. 

सीएम गहलोत ने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए लिखा कि जिस प्रकार पहले रेमडिसिविर इंजेक्शन के राज्यों का आवंटन का जिम्मा केन्द्र सरकार ने अपने हाथों में लिया था वैसे ही अब ब्लैक फंगस के इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन का आवंटन भी केन्द्र सरकार कर रही है. राज्यों को समय पर इंजेक्शन नहीं मिल पा रहा है जिससे मरीजों को बहुत परेशानी हो रही है. 

उन्होंने कहा कि यदि समय रहते यह इंजेक्शन मरीज को मिल जाए तो जान बचाई जा सकती है. मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं केंद्रीय चिकित्सा मंत्री डॉ हर्षवर्धन से अपील करता हूं कि समयबद्ध तरीके से एम्फोटेरिसिन इंजेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित करवाएं जिससे मरीजों का समय पर इलाज हो सकेगा एवं उनकी जान बचाई जा सकेगी. 

प्रियंका ने कहा - बार-बार दवाइयों की कमी हुई, ज़िम्मेदार कौन है? 
वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट करते हुए लिखा कि म्यूकोर माइकोसिस (ब्लैक फंगस) के इंजेक्शन को लेकर गुहार मची हुई है. ’दुनिया का दवाखाना’ की उपलब्धि होने के बाद भी हमें इस आपदा में बार-बार दवाइयों की कमी हुई है. ज़िम्मेदार कौन है? इंजेक्शन महँगा है, आयुष्मान योजना में कवर नहीं होता. मोदीजी, कृपया इस दिशा में तुरंत कदम उठाइए. 

और पढ़ें