VIDEO: राजस्थान मंत्रिमंडल फेरबदल मुद्दे पर अभी भी कुछ मतभेद! एक कैबिनेट सीट को लेकर पेंच फंसने के संकेत 

VIDEO: राजस्थान मंत्रिमंडल फेरबदल मुद्दे पर अभी भी कुछ मतभेद! एक कैबिनेट सीट को लेकर पेंच फंसने के संकेत 

VIDEO:  राजस्थान मंत्रिमंडल फेरबदल मुद्दे पर अभी भी कुछ मतभेद! एक कैबिनेट सीट को लेकर पेंच फंसने के संकेत 

जयपुर: राजस्थान मंत्रिमंडल फेरबदल मुद्दे पर अभी भी कुछ मतभेद है ! आलाकमान तथा गहलोत-पायलट कैम्प के बीच मतभेद हैं. भरोसेमंद सूत्रों ने अब संकेत दिए है कि एक कैबिनेट सीट को लेकर पेंच फंसने के संकेत हैं. अलबत्ता मतभेद के दूसरे मुद्दे भी हो सकते है. इसी प्रकार राजनीतिक नियुक्ति और कुछ जिलाध्यक्षों के नामों पर भी DIFFERENCE OF OPINION. हालांकि बिना कंट्रोवर्सी वाले जिलों में अध्यक्षों की जल्द घोषणा होगी और इनकी नियुक्ति के लिए सीनियर लीडर्स से भी सलाह मशविरा किया जा रहा हैं.

अब इस माह के अंत तक हो सकती हैं मंत्रिमंडल फेरबदल की घोषणा:

अब अजय माकन इन विवादों को निपटाने में जुटे हैं. इसलिए मंत्रिमंडल फेरबदल में अब कुछ और समय लग सकता है और 31 अगस्त से पहले कभी भी मंत्रिमंडल फेरबदल-राजनीतिक नियुक्तियों-जिलाध्यक्षों की घोषणा हो सकती हैं.पहले 28 या 29 जुलाई को मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा थी. फिर 5 अगस्त को लेकर मंत्रिमंडल विस्तार के संकेत थे, लेकिन अब इस माह के अंत तक मंत्रिमंडल फेरबदल की घोषणा हो सकती हैं और इस माह में पूरे 29 दिन शेष है. इसी बीच सोनिया गांधी का 5 अगस्त को विदेश जाने का कार्यक्रम हैं.

एक बार फिर फेरबदल की तारीख को लेकर अनिश्चितता का माहौल:

केसी वेणुगोपाल और अजय माकन मुद्दों को SORT OUT करने का प्रयास कर रहे है, लेकिन बहुत कुछ गहलोत के मूड पर भी निर्भर करेगा. इसलिए कुल मिलाकर एक बार फिर फेरबदल की तारीख को लेकर अनिश्चितता का माहौल है. पहले भी कई बार इन तारीखों की घोषणा पिट चुकी है. इसलिए अब आलाकमान किसी तारीख की घोषणा कर नहीं लेना चाहता कोई RISK. इसी बीच आलाकमान से जुड़े सूत्रों ने स्पष्ट संकेत देते हुए कहा कि पायलट को राजस्थान में कोई जिम्मेदारी नहीं मिलेगी.

सोनिया-राहुल-प्रियंका उनकी तय करेंगी अगली जिम्मेदारी:

अलबत्ता उन्हें AICC में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिल सकती हैं. पिछले कुछ दिनों से जयपुर में उनके PCC चीफ बनने की चर्चा थी, लेकिन इस स्टेज पर उनके PCC चीफ बनने का कोई सवाल नहीं हैं. वैसे भी अपने समर्थकों की PROPER POWER SHARING के बाद ही पायलट खुद के बारे में कोई मन बनाएंगे और पायलट से चर्चा के बाद ही सोनिया-राहुल-प्रियंका उनकी अगली जिम्मेदारी तय करेंगी. 

और पढ़ें