मुंबई Stock Exchange: बाजार नई ऊंचाई पर, सेंसेक्स पहली बार 56,000 अंक के ऊपर बंद

Stock Exchange: बाजार नई ऊंचाई पर, सेंसेक्स पहली बार 56,000 अंक के ऊपर बंद

Stock Exchange: बाजार नई ऊंचाई पर, सेंसेक्स पहली बार 56,000 अंक के ऊपर बंद

मुंबई: वैश्विक बाजारों से कमजोर संकेत के बावजूद शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजारों में तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 175 अंक से अधिक चढ़कर पहली बार 56,000 अंक के ऊपर बंद हुआ. बुनियादी ढांचा, वित्त और दवा कंपनियों के शेयरों में जोरदार लिवाली से बाजार में तेजी आई. कारोबारियों के अनुसार अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में 53 पैसे की जोरदार बढ़त से भी धारणा को मजबूती मिली.

शुरूआती कारोबार में 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स गिरावट के साथ खुला. लेकिन बाद में अच्छी तेजी आयी और यह 175.62 अंक यानी 0.31 प्रतिशत मजबूत होकर रिकार्ड 56,124.72 अंक पर बंद हुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 68.30 अंक यानी 0.41 प्रतिशत मजबूत होकर अब तक के उच्चतम स्तर 16,705.20 अंक पर बंद हुआ.

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में 3.64 प्रतिशत की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में अल्ट्राटेक सीमेंट रहा. इसके अलावा एल एंड टी, डा. रेड्डीज, बजाज फिनसर्व, सन फार्मा, टीसीएस और कोटक बैंक में भी प्रमुख रूप से तेजी रही. दूसरी तरफ गिरावट वाले प्रमुख शेयरों में इन्फोसिस, इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, नेस्ले इंडिया, एचसीएल टेक, एचडीएफसी बैंक और टेक महिंद्रा शामिल हैं. इनमें 1.07 प्रतिशत तक की गिरावट आई.

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘वैश्विक बाजारों में मिले-जुले रुख के बावजूद घरेलू बाजार में तेजी रही. वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख का कारण निवेशकों को जैक्सन होल आर्थिक संगोष्ठि में होने वाली घोषणा का इंतजार है. मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों का प्रदर्शन बेहतर रहा जबकि धातु और दवा क्षेत्र में सुधार देखने को मिला.

उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर बाजार को अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर फेडरल रिजर्व के चेयरमैन की टिप्पणी और भविष्य में नीतियों में बदलाव के बारे में स्पष्टता की प्रतीक्षा है. सप्ताह के दौरान सेंसेक्स 795.40 अंक यानी 1.43 प्रतिशत चढ़ा जबकि निफ्टी में 254.70 अंक यानी 1.54 प्रतिशत की तेजी आयी.

पूंजीगत सामान (2.14 प्रतिशत), मूल सामग्री (1.69 प्रतिशत), औद्योगिक (1.58 प्रतिशत) और बिजली (1.46 प्रतिशत) की अगुवाई में बीएसई के सभी खंडवार सूचकांक शुक्रवार को लाभ में रहे. बीएसई मझोली और छोटी कंपनियों से जुड़े सूचकांकों में 1.04 प्रतिशत की तेजी रही. वैश्विक स्तर पर एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई और सियोल लाभ में रहें जबकि हांगकांग और तोक्यो में गिरावट रही. यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में गिरावट का रुख रहा.

इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.94 प्रतिशत मजबूत होकर 71.74 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 53 पैसे उछलकर 71.74 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. शेयर बाजार में उपलब्ध अस्थायी आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे. उन्होंने बृहस्पतिवार को 1,974.48 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.(भाषा) 

और पढ़ें