नई दिल्ली सुपरस्टार रजनीकांत को मिलेगा 51वां दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड, प्रकाश जावड़ेकर ने किया ऐलान

सुपरस्टार रजनीकांत को मिलेगा 51वां दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड, प्रकाश जावड़ेकर ने किया ऐलान

सुपरस्टार रजनीकांत को मिलेगा 51वां दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड, प्रकाश जावड़ेकर ने किया ऐलान

नई दिल्ली: दक्षिण फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत को 51वां दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. आज केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडे़कर ने इसकी घोषणा की है. दादा साहब फाल्के को भारतीय सिनेमा का सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड माना जाता है.  उन्होंने बताया है कि रजनीकांत को दादा साहब फाल्के अवार्ड तीन मई को दिया जाएगा.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडे़कर ने कहा कि सिनेमा में शानदार योगदान के लिए अभी तक ये अवार्ड 50 बार अलग-अलग हस्तियों को दिया जा चुका है. अब 51वां अवार्ड सुपरस्टार रजनीकांत को दिया जाएगा. इस अवार्ड के लिए रजनीकांत के चयन से देश को खुशी मिलेगी. 

रजनीकांत बीते 5 दशक से सिनेमा की दुनिया पर राज कर रहे: 
बता दें कि रजनीकांत बीते 5 दशक से सिनेमा की दुनिया पर राज कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं. यही कारण है कि इस बार दादा साहेब फाल्के की ज्यूरी ने रजनीकांत को ये अवॉर्ड देने का फैसला लिया गया है. इस साल ये सिलेक्शन ज्यूरी ने किया है. इस ज्यूरी में आशा भोंसले, मोहनलाल, विश्वजीत चटर्जी, शंकर महादेवन और सुभाष घई इन पांचों ज्यूरी ने बैठक करके एक राय से महानायक रजनीकांत को दादा साहब फाल्के अवॉर्ड देने की सिफारिश की.  

रजनीकांत का बचपन मुश्किलों से भरा रहा:
12 दिसंबर 1950 को रजनीकांत का जन्म बेंगलुरू के मराठी परिवार में हुआ था. रजनीकांत का बचपन मुश्किलों से भरा रहा है. बचपन में उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा. रजनीकांत की असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ था. यही शिवाजी राव आगे चलकर रजनीकांत बने. गरीब परिवार में जन्मे रजनीकांत ने अपनी मेहनत और कड़े संघर्ष की बदौलत टॉलीवुड में ही नहीं बॉलीवुड में भी काफी नाम कमाया. साउथ में तो रजनीकांत को थलाइवा और भगवान कहा जाता है.


 

और पढ़ें