नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को लेकर नुपुर शर्मा को लगाई फटकार, कहा- इस बयान के कारण देश में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुईं

सुप्रीम कोर्ट ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को लेकर नुपुर शर्मा को लगाई फटकार, कहा- इस बयान के कारण देश में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुईं

सुप्रीम कोर्ट ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को लेकर नुपुर शर्मा को लगाई फटकार, कहा- इस बयान के कारण देश में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुईं

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) से निलंबित नेता नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) की पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ ‘‘व्यथित करने वाली’’ टिप्पणी को लेकर उन्हें शुक्रवार को फटकार लगाते हुए कहा कि इस बयान के कारण देश में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुईं. सुप्रीम कोर्ट ने नूपुर शर्मा को पूरे देश से माफी मांगने के लिए कहा है. 

कोर्ट ने कहा कि शर्मा ने पैगंबर के खिलाफ टिप्पणी या तो सस्ता प्रचार पाने के लिए या किसी राजनीतिक एजेंडे के तहत या किसी घृणित गतिविधि के तहत की. न्यायमूर्ति सूर्य कांत और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला की अवकाशकालीन पीठ ने पैगंबर के खिलाफ टिप्पणी के लिए विभिन्न राज्यों में दर्ज प्राथमिकियों को एक साथ जोड़ने की शर्मा की याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया और उन्हें याचिका वापस लेने की अनुमति दी.

इन बयानों के कारण देश में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुईं:
पीठ ने सुनवाई के दौरान कहा कि ये बयान बहुत व्यथित करने वाले हैं और इनसे अहंकार की बू आती है. इस प्रकार के बयान देने से उनका क्या मतलब है? इन बयानों के कारण देश में दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं हुईं... ये लोग धार्मिक नहीं हैं. वे अन्य धर्मों का सम्मान नहीं करते. ये टिप्पणियां या तो सस्ता प्रचार पाने के लिए की गईं अथवा किसी राजनीतिक एजेंडे या घृणित गतिविधि के तहत की गईं. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें