नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक संबंधी याचिका पर शुक्रवार को करेगा सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक संबंधी याचिका पर शुक्रवार को करेगा सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक संबंधी याचिका पर शुक्रवार को करेगा सुनवाई

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को उस याचिका पर सुनवाई करेगा, जिसमें यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया गया है कि भविष्य में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई सेंध न हो.

प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण, न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ ने बृहस्पतिवार को वरिष्ठ अधिवक्ता मनिंदर सिंह के उस प्रतिवेदन पर गौर किया, जिसमें कहा गया है कि पंजाब में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में गंभीर चूक हुई. इसके बाद प्रधानमंत्री को पंजाब में एक रैली में शामिल हुए बगैर ही वापस दिल्ली लौटना पड़ा था. पीठ ने कहा कि हम कल सबसे पहले इस पर सुनवाई करेंगे. 

वहीं पंजाब सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिरोजपुर जाते समय सुरक्षा में हुई ‘‘चूक’’ की जांच के लिए गुरुवार को दो सदस्यों वाली उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है. एक आधिकारिक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. समिति में न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) मेहताब सिंह गिल और प्रधान सचिव (गृह मामले और न्याय) अनुराग वर्मा शामिल हैं. प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री के कल फिरोजपुर जाते समय सुरक्षा में हुई चूक की गहन जांच के लिए पंजाब सरकार ने एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया है. प्रवक्ता ने कहा कि समिति तीन दिनों के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी.

प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में ‘‘गंभीर चूक’’ की घटना हुई: 
पंजाब के दौरे के दौरान प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में बुधवार को उस वक्त ‘‘गंभीर चूक’’ की घटना हुई जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने उस सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर दिया जहां से उन्हें गुजरना था. प्रधानमंत्री इस व्यवधान के कारण एक फ्लाईओवर पर 15-20 मिनट तक फंसे रहे. इसके बाद प्रधानमंत्री रैली सहित किसी भी कार्यक्रम में शामिल हुए बिना पंजाब से दिल्ली लौट गए. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस घटना को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में ‘बड़ी चूक’ करार दिया.

और पढ़ें