Live News »

Sushma Swaraj Birth Anniversary: प्रवासी भारतीय केंद्र का नाम बदलकर किया गया सुषमा स्वराज भवन

Sushma Swaraj Birth Anniversary: प्रवासी भारतीय केंद्र का नाम बदलकर किया गया सुषमा स्वराज भवन

नई दिल्ली: आज पूर्व विदेश मंत्री एवं भाजपा की दिवंगत नेता सुषमा स्वराज की जयंती है. इसी मौके पर सुषमा स्वराज को देशभर में श्रद्धांजलि दी गई. सुषमा स्वराज की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस जयशंकर, बेटी बांसुरी स्वराज ने उन्हें याद करते हुए असाधारण नेता बताया है. इस मौके पर विदेश मंत्रालय ने एक बड़ी पहल की है. 

विधानसभा में गूंजा मालवीय नगर लाठीचार्ज और महिला IAS अधिकारियों को की गई गलत टिप्पणी का मामला

केंद्र सरकार का बड़ा फैसला:
केंद्र सरकार ने दिल्ली के प्रवासी भारतीय केंद्र का नाम बदलकर सुषमा स्वराज भवन और विदेश सेवा संस्थान का नाम सुषमा स्वराज विदेश सेवा संस्थान करने का फैसला किया है. आपको बता दें कि सुषमा स्वराज की जयंती 14 फरवरी को है. उनका जन्म 14 फरवरी, 1952 को हरियाणा के अंबाला में हुआ था. गत वर्ष 6 अगस्त को 67 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया था. स्वराज ने दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में आखिरी सांस ली थी.विदेश मंत्रालय के मुताबिक स्वराज द्वारा किए गए कामों और विदेश मंत्री के तौर पर शानदार सेवा करने के लिए सम्मान के तौर पर यह फैसला लिया गया है. 

Valentine Day Special: उदयपुर अंचल में आदिवासी समुदाय के युवक-युवतियां खास अंदाज में करते हैं प्यार का इजहार

स्वराज विदेश मंत्री रहते हुए रहीं काफी लोकप्रिय: 
नरेंद्र मोदी के नेतृत्ववाली पहली सरकार में विदेश मंत्रालय संभाल चुकीं स्वराज को सहानुभूति और भारतीय कूटनीति के मानवीय रुख प्रदर्शित करने के लिए जाना जाता है. पिछले वर्ष छह अगस्त को हृदय गति रुकने के बाद उनका निधन हो गया. स्वराज बेहद लोकप्रिय मंत्री रही हैं. ट्विटर पर पूरी दुनिया में सबसे अधिक फॉलो की जाने वाली विदेश मंत्री वह रही हैं. उन्हें विदेश में संकट में फंसे भारतीयों की सहायता करने के लिए भी जाना जाता है. ट्विटर पर मदद की गुहार पर वह त्वरित प्रतिक्रिया भी देती थीं. यही नहीं वह पाकिस्तान में भी लोकप्रिय थीं.

और पढ़ें

Most Related Stories

पीएम मोदी ने की नए प्लेटफॉर्म की शुरुआत, कहा- अब ईमानदार का सम्मान होगा

पीएम मोदी ने की नए प्लेटफॉर्म की शुरुआत, कहा- अब ईमानदार का सम्मान होगा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ईमानदार टैक्सपेयर्स को प्रोत्साहन और कर प्रणाली में पारदर्शिता बढ़ाने के लिए एक नए खास प्लेटफॉर्म की शुरुआत की. इस प्लेटफॉर्म का नाम 'ट्रांसपैरेंट टैक्सेशन: ऑनरिंग द ऑनेस्ट' दिया गया है.  पीएम मोदी ने कहा कि ये प्लेटफॉर्म 21वीं सदी के टैक्स सिस्टम की शुरुआत है, जिसमें फेसलैस असेसमेंट-अपील और टैक्सपेयर्स चार्टर जैसे बड़े रिफॉर्म हैं.

Coronavirus in India: पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 66999 नए मामले सामने आए, अबतक 47 हजार से ज्यादा लोगों की मौत 

एक ईमानदार टैक्सपेयर राष्ट्र निर्माण में भूमिका निभाता है: 
उन्होंने कहा कि इनमें से कुछ सुविधा अभी से लागू हो गई है, जबकि पूरी सुविधा 25 सितंबर से शुरू होगी. पीएम ने कहा कि पिछले कुछ वक्त में हमने इन मसलों पर फोकस किया है, ये नई यात्रा की शुरुआत है. अब ईमानदार का सम्मान होगा, एक ईमानदार टैक्सपेयर राष्ट्र निर्माण में भूमिका निभाता है. इसके साथ ही पीएम ने कहा कि इससे सरकार का दखल कम होगा. 

अब सोच और अप्रोच, दोनों बदल गई: 
पीएम ने आगे कहा कि एक दौर था जब हमारे यहां रिफॉर्म्स की बहुत बातें होती थीं. कभी मजबूरी में कुछ फैसले लिए जाते थे, कभी दबाव में कुछ फैसले हो जाते थे, तो उन्हें रिफॉर्म्स कह दिया जाता था. इस कारण इच्छित परिणाम नहीं मिलते थे. अब ये सोच और अप्रोच, दोनों बदल गई है.

हर किसी को कर्तव्यभाव को आगे रखते हुए काम करना चाहिए:
उन्होंने कहा कि गलत तौर-तरीके सही नहीं है और छोटे रास्ते नहीं अपनाना चाहिए. हर किसी को कर्तव्यभाव को आगे रखते हुए काम करना चाहिए. प्रधानमंत्री ने कहा कि पॉलिसी स्पष्ट होना, ईमानदारी पर भरोसा, सरकारी सिस्टम में टेक्नोलॉजी का प्रयोग, सरकारी मशीनरी का सही उपयोग करना और सम्मान करना. पहले रिफॉर्म की बातें होती थीं, कुछ फैसले मजबूरी-दबाव में लिए जाते थे जिससे परिणाम नहीं मिलता था.

कल ही विश्वास मत हासिल करेगी सरकार! कांग्रेस के रणनीतिकारों ने बनाई रणनीति 

भारत के टैक्स सिस्टम में मौलिक और संरचनात्मक सुधार की जरूरत:
वहीं प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के टैक्स सिस्टम में मौलिक और संरचनात्मक सुधार की जरूरत इसलिए थी क्योंकि हमारा आज का ये सिस्टम गुलामी के कालखंड में बना और फिर धीरे-धीरे विकसित हुआ है. आजादी के बाद इसमें यहां वहां थोड़े बहुत परिवर्तन किए गए, लेकिन ज्यादातर सिस्टम का स्वरूप वही रहा. 

Coronavirus in India: पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 66999 नए मामले सामने आए, अबतक 47 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

Coronavirus in India: पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 66999 नए मामले सामने आए, अबतक 47 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

नई दिल्ली: भारत में तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 66 हजार 999 नए मरीज सामने आए हैं. एक दिन में मरीजों के मिलने की यह संख्या सबसे अधिक है. यह छठा दिन है जब 60,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. वहीं 942 मरीजों की मौत भी हुई है. ऐसे में देश में अबतक 23 लाख 96 हजार 637 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 47,033 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 6 लाख 53 एक्टिव केस हैं और 16 लाख 95 हजार लोग ठीक भी हुए हैं.

मुख्यमंत्री गहलोत ने जोधपुर पहुंच बहन विमला देवी से बंधवाई राखी, रिश्तों की दी अहमियत

मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में गिरावट हुई: 
राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में गिरावट हुई है. मृत्यु दर भी गिर कर 1.96% हो गई. इसके अलावा एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर भी घट कर 27.27% हो गई है. इसके साथ ही रिकवरी रेट यानी ठीक होने की दर 70.76% हो गई है. भारत में रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है. लेकिन दुनिया में सबसे तेजी से संक्रमण भारत में ही देश में फैल रहा है. 

कोरोना में सरकार और प्रदेश वासियों ने डटकर किया मुकाबला - मुख्यमंत्री गहलोत

बीते दिन दुनियाभर में 2.74 लाख नए मामले आए:
भारत के साथ ही दुनियाभर में भी कोरोना के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए जा रहे हैं. बीते दिन दुनियाभर में 2.74 लाख नए मामले आए, जबकि 6644 लोगों की मौत हुई. अबतक 2.07 करोड़ से ज्यादा संक्रमण के मामले आ चुके हैं, जबकि 7 लाख 51 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. वहीं इस बीमारी से सही होने वालों मरीजों का आंकड़ा  एक करोड़ 36 लाख के पार पहुंच गया है. हालांकि दुनियाभर में अभी भी 63.52 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं.


 

अमेरिका की आर्थिक पैकेज की चर्चा से सोने-चांदी की कीमतों में भारी गिरावट, जानिए आज का भाव

अमेरिका की आर्थिक पैकेज की चर्चा से सोने-चांदी की कीमतों में भारी गिरावट, जानिए आज का भाव

जयपुर: पिछले कुछ दिनों से लगातार सोने और चांदी के भाव आसमान छू रहे थे लेकिन अब अचानक उच्चतम स्तर पर पहुंचने के बाद सोना और चांदी के भावों में खासी गिरावट देखने को मिली है. अंतरराष्ट्रीय बाजारों में सोने और चांदी की कीमत में पिछले दो दिनों में जबरदस्त गिरावट आई है. सोने के भाव जहां 50441 प्रति दस ग्राम रह गए है तो वहीं चांदी 61972 पहुंच गई है.

अभिनेता संजय दत्त को स्टेज-3 का लंग कैंसर, संजय दंत की पत्नी मान्यता ने जारी किया बयान  

- एमसीएक्स सोने का भाव 3 फीसदी यानी 1500 रुपये गिरा
- एमसीएक्स पर 10 ग्राम सोने की कीमत अब 50,441 रुपये 
- हफ्ते सोना अपने रिकॉर्ड स्तर 56 हजार प्रति 10 ग्राम तक पहुंचा
- चांदी की कीमत 61,972 रुपये रह गई
- पिछले सप्ताह चांदी का भाव 78,000 रुपये प्रति किलोग्राम था
- चांदी 12 फीसदी यानी 9000 रुपये प्रति किलोग्राम गिरीं. 

कोरोना महामारी के दौर में सोने और चांदी के भावों में बेहतासा बढ़ोतरी देखने को मिली लेकिन पिछले दो दिनों के अंदर दोनों के भाव गिरने से बाजार में भी हलचल पैदा हो गई है एमसीएक्स सोने का भाव 3 फीसदी यानी 1500 रुपये गिरा है. MCX पर 10 ग्राम सोने की कीमत अब सिर्फ 50,441 रुपये रह गई है. वहीं, पिछले हफ्ते सोना अपने रिकॉर्ड स्तर 56 हजार प्रति 10 ग्राम तक पहुंच गया था. चांदी की कीमतों में भी भारी गिरावट आई है. चांदी की कीमत 05 फीसदी यानी प्रति किलोग्राम पांच हजार रुपये गिरकर 61,972 रुपये रह गई है. जबकि, पिछले सप्ताह चांदी का भाव 78,000 रुपये प्रति किलोग्राम से ऊपर चला गया था. पिछले सत्र मे सोने के भाव में 6 फीसदी यानी 3200 रुपये की गिरावट आई. वहीं, चांदी की कीमतें 12 फीसदी यानी 9000 रुपये प्रति किलोग्राम गिरीं. 

- सोने और चांदी के भाव टूटूने का कारण अमेरिका का आर्थिक पैकेज
- राष्ट्रपति के द्ववारा आर्थिक पैकेज की घोषणा की चर्चा के चलते टूटा बाजार
- अब निवेशको ने सोना और चांदी में अपना इनवेस्टमेंट हटाया
- जिसके चलते पिछले दो दिनों में सोने और चांदी के भाव टूटे

अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोने के कीमतों में गिरावट जारी है. हाजिर सोना की कीमतों में 2.1 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और इसकी कीमत 1872.61 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गई. वहीं, अंतरराष्ट्रीय बाजार में अमेरिकी वायदा सोनेकी कीमत 1900 डॉलर प्रति औंस रह गई है. चांदी में तो 07 फीसदी की तेज गिरावट दर्ज की गई है. चांदी का भाव 24.2 डॉलर प्रति औंस रहा. पिछले सप्ताह 2,000 डॉलर प्रति औंस से ऊपर जाने के बाद, डॉलर की रिकवरी से सोना अचानक गिर गया. डॉलर सूचकांक आज प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले स्थिर रहा. सोने की कीमतों में तेज गिरावट ने गोल्ड ईटीएफ से प्रवाह शुरू हो गया है. सोने-चांदी की कीमतों में कमी आने की एक वजह अमेरिका में एक और आर्थिक पैकेज की चर्चा भी है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप  नए आर्थिक पैकेज की घोषणा जल्द कर सकते हैं, इससे सोने चांदी की कीमतों पर दबाव है. दुनियाभर के शेयर बाजारों पर निवेशकों का भरोसा बढ़ा है, जिससे सोने और चांदी की तरफ उनका झुकाव कम हुआ है. रूस में कोरोना वैक्सीन का ऐलान होने के बाद दुनिया भर के कमोडिटी बाजारों में गिरावट देखी गई है.  

- जयपुर सर्राफा में भी देखा गया सोने और चांदी के भावों में असर
- चांदी का भाव जहां 72500 रूपए था जो कि आज 64800 रूपए रह गया
- जयपुर में चांदी के भाव करीब 7700 रूपए टूटे 
- सोने के भाव कल तक 56150 रूपए प्रति दस ग्राम थे
- जो कि आज 53500 रूपए प्रति दस ग्राम रह गए
- सोने के भाव में 2650 रूपए की कमी आई

राजधानी जयपुर के बात करें तो यहां भी सोने और चांदी के भावों में खासी गिरावट देखी गई है कल की बात की जाए तो चांदी का भाव जहां 72500 रूपए था जो कि आज 64800 रूपए रह गया है एक ही दिन में जयपुर में चांदी के भाव करीब 7700 रूपए टूटे है. वहीं सोने की बात की जाए तो सोने के भाव कल तक 56150 रूपए प्रति दस ग्राम थे जो कि आज 53500 रूपए प्रति दस ग्राम रह गए. सोने के भाव में 2650 रूपए की कमी आई है. एक ही दिन में आए इस गिरावट के बाद सर्राफा व्यापारी ये अंदाज लगा रहे है कि आने वाले दिनों में भी सोने और चांदी के भाव औऱ भी अधिक टूट सकते हैं. 

VIDEO: हमने कभी सरकार गिराने की कोशिश नहीं की, हमें बागी या विरोधी कहना बिल्कुल गलत- विश्वेन्द्र सिंह 

सोने और चांदी के भावों में पिछले दो दिनों में आई गिरावट का सीधा संपर्क अमेरिका के आर्थिक पैकेज की चर्चा से जोड़ा जा रहा है जिसके चलते अंतरार्सट्रीय मार्केट में भी सोने और चांदी के भावों में कमी आई है. आगामी दिनो में सोने और चांदी के भाव और भी टूटते हुए नजर आ सकते हैं

अभिनेता संजय दत्त को स्टेज-3 का लंग कैंसर, संजय दंत की पत्नी मान्यता ने जारी किया बयान

अभिनेता संजय दत्त को स्टेज-3 का लंग कैंसर, संजय दंत की पत्नी मान्यता ने जारी किया बयान

नई दिल्ली: अभिनेता संजय दत्त को लंग कैंसर होने की खबर सामने आने के बाद उनकी पत्नी मान्यता दत्त का बयान सामने आया है. जिसमें वो संजय के लिए दुआ करने वालों का शुक्रिया अदा करते दिख रही हैं. हालांकि उन्होंने अपने बयान में इस बात का जिक्र नहीं किया कि संजय किस बीमारी से जूझ रहे हैं. 

नागौर जिले में तैनात सब इंस्पेक्टर की गाड़ी से 11.36 लाख रुपए और शराब की 21 बोतलें बरामद 

इस दौर से निकलने के लिए ताकत और दुआओं की जरूरत: 
मान्यता दत्त ने कहा कि उन सब लोगों का आभार जताना चाहती हूं जिन्होंने संजू की और जल्द ठीक होने के लिए दुआ की है. हमें इस दौर से निकलने के लिए ताकत और दुआओं की जरूरत है. परिवार पिछले कुछ समय में भी काफी चीजों से गुजर चुका है लेकिन मुझे भरोसा है कि यह समय भी गुजर जाएगा.

संजू हमेशा से फाइटर रहे हैं:
मान्यता ने आगे कहा कि संजू हमेशा से फाइटर रहे हैं और हमारा परिवार भी. भगवान ने एक बार फिर हमें परीक्षा के लिए चुना है और हम इसे भी जीत लेंगे. हमें सिर्फ जरूरत है तो आपकी दुआओं की और हमें उम्मीद है कि हम इस पर जीत हासिल कर लेंगे. इस मौके का इस्तेमाल सकारात्मकता के प्रसार के लिए करते हैं.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जोधपुर दौरा, देचू में 11 लोगों की मौत पर किया शोक व्यक्त 

संजय दत्त ने भी फैंस के लिए जारी किया था मैसेज:
इससे पहले संजय दत्त ने भी फैंस के लिए एक मैसेज जारी करते हुए कहा था कि वह इलाज के लिए शॉर्ट ब्रेक ले रहे हैं. मेरा परिवार और मेरे दोस्त मेरे साथ हैं. मैं अपने शुभचिंतकों से कहना चाहता हूं कि वो परेशान ना हो और कुछ भी फालतू का अंदाजा ना लगाएं. आपके प्यार और दुआओं से मैं जल्द लौटूंगा. हालांकि इस मैसेज में उन्होंने भी अपने बीमारी के बारे में खुलासा नहीं किया था. 

मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किया शोक व्यक्त  

मशहूर शायर राहत इंदौरी का निधन, मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किया शोक व्यक्त  

नई दिल्ली: कोरोना से संक्रमित मशहूर शायर राहत इंदौरी का मंगलवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. उन्होंने 70 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस ली. कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने के बाद वह अस्पताल में भर्ती थे. इंदौर के कलेक्टर ने उनके निधन की पुष्टि की है. जिलाधिकारी मनीष सिंह ने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित इंदौरी का अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (सैम्स) में इलाज के दौरान निधन हो गया. उन्होंने बताया कि इंदौरी हृदय रोग, किडनी रोग और मधुमेह सरीखी पुरानी बीमारियों से पहले से ही पीड़ित थे.

चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने दी जन्माष्टमी की शुभकामनाएं, कहा-जन्माष्टमी मनाएं लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के साथ

शिवराज सिंह चौहान ने जताया दुख:
मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राहत इंदौरी के निधन पर दुख जताते हुए इसे प्रदेश और देश की अपूरणीय क्षति बताया है. मध्‍यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में लिखा, अपनी शायरी से लाखों-करोड़ों दिलों पर राज करने वाले मशहूर शायर, हरदिल अज़ीज़ राहत इंदौरी का निधन मध्यप्रदेश और देश के लिए अपूरणीय क्षति है. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि उनकी आत्मा को शांति दें और उनके परिजनों और चाहने वालों को इस अपार दुःख को सहने की शक्ति दें. देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी शायर राहत इंदौरी के निधन को साहित्‍य जगत का बड़ा नुकसान बताया है. दिल्ली ​के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी समेत अनेक राजनेताओं ने राहत इंदौरी के निधन पर शोक व्यक्त किया.

राहत इंदौरी ने किया था ट्वीट :
इससे पहले मंगलवार सुबह राहत इंदौरी ने ट्वीट करके लिखा था कोविड के शरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. ऑरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं. दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं. उन्होंने उसी ट्वीट में अपने फैन्स से एक गुहार लगाई  और कहा, 'एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फ़ोन ना करें, मेरी खैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी. आपको बता दें कि इस सूचना के बाद ट्विटर पर उनके फैन्स उनकी सलामती की दुआ कर रहे थे. 

एक माह बाद सचिन पायलट दिल्ली से पहुंचे जयपुर, ​ सिविल लाइंस आवास पर लगा समर्थकों का जमावड़ा

नहीं रहे मशहूर शायर राहत इंदौरी, दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुआ निधन

 नहीं रहे मशहूर शायर राहत इंदौरी, दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुआ निधन

नई दिल्ली: मशहूर शायर राहत इंदौरी का दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया हैं. इससे पहले मशहूर शायर राहत इंदौरी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी. खुद उन्होंने इस बात की जानकारी ट्वीट करके दी थी. उन्होंने मंगलवार सुबह ट्वीट पर लिखा था कोविड के शरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. 

राहतभरी खबर! राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का दावा, रूस ने बनाई कोरोना वायरस की वैक्सीन

दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं:
ऑरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं. दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं. उन्होंने उसी ट्वीट में अपने फैन्स से एक गुहार लगाई  और कहा, 'एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फ़ोन ना करें, मेरी खैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी. आपको बता दें कि इस सूचना के बाद ट्विटर पर उनके फैन्स उनकी सलामती की दुआ क रहे हैं.

मनचलों की वजह से गई होनहार छात्रा की जान, मायावती ने किया ट्वीट, कहा-दोषियों के विरूद्ध हो सख्त कानूनी कार्रवाई

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, बेटियां भी पैतृक संपत्ति में बराबर की हिस्सेदार

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, बेटियां भी पैतृक संपत्ति में बराबर की हिस्सेदार

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को बड़ा फैसला सुनाते हुए कहा है कि बेटियों को भी पिता या पैतृक संपत्ति में बराबर का अधिकार है. कोर्ट ने कहा कि संशोधित हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम के तहत यह बेटियों का अधिकार है और बेटी हमेशा बेटी रहती है. जस्टिस अरुण मिश्रा की बेंच के फैसले में साफ कहा गया है कि ये उत्तराधिकार कानून 2005 में संशोधन की व्याख्या है.

VIDEO: राजनीति में भाषा मर्यादित होनी चाहिए, मैंने कोई मांग आलाकमान के सामने नहीं रखी- सचिन पायलट  

पिता की संपत्ति में भाई के समान ही हिस्सा मिलेगा: 
सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हिंदू महिला को अपने पिता की संपत्ति में भाई के समान ही हिस्सा मिलेगा. कोर्ट ने अपनी अहम टिप्पणी में कहा कि बेटियां हमेशा बेटियां रहती हैं. बेटे तो बस विवाह तक ही बेटे रहते हैं. यानी 2005 में संशोधन किए जाने से पहले भी किसी पिता की मृत्यु हो गई हो तब भी बेटियों को पिता की संपत्ति में बेटे या बेटों के बराबर ही हिस्सा मिलेगा.

2005 में हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम 1965 में संशोधन किया गया था:
बता दें कि 2005 में हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम 1965 में संशोधन किया गया था. इस संशोधन के तहत पैतृक संपत्ति में बेटियों को बराबरी का हिस्सा देने का प्रावधान है. इसके अनुसार कानूनी वारिस होने के बाद पिता की संपत्ति पर बेटी का भी उतना ही अधिकार है जितना कि बेटे का. इसका विवाह से कोई लेना-देना नहीं है. 

बीजेपी ने पूरा जोर लगा लिया लेकिन एक आदमी टूट कर नहीं गया- मुख्यमंत्री गहलोत 

बेटियां पूरी जिंदगी माता-पिता को प्यार करने वाली होती हैं:
सुप्रीम कोर्ट ने अहम टिप्पणी में कहा कि बेटियां पूरी जिंदगी माता-पिता को प्यार करने वाली होती हैं. एक बेटी अपने जन्म से मृत्यु तक माता-पिता के लिए प्यारी बेटियां होती हैं. जबकि विवाह के बाद बेटों की नीयत और व्यवहार में बदलाव आता है लेकिन बेटियों की नीयत में नहीं. विवाह के बाद बेटियों का प्यार माता-पिता के लिए और बढ़ता ही जाता है. इस मामले में इस नजरिए से सुप्रीम कोर्ट का फैसला अहम है कि जब पूरी दुनिया में लड़कियां लड़कों के बराबर अपनी हिस्सेदारी साबित कर रही हैं, ऐसे में सिर्फ संपत्ति के मामले में उनके साथ यह मनमानी और अन्याय ना हो.


 

Coronavirus in India: पिछले 24 घंटे में 53601 नए मामले सामने आए, अबतक 45 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

Coronavirus in India: पिछले 24 घंटे में 53601 नए मामले सामने आए, अबतक 45 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

नई दिल्ली: भारत में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों का ग्राफ बढ़ता जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा जानकारी के मुताबिक, पिछले 4 घंटे में कोरोना के 53 हजार 601 नए मरीज मिले जबकि एक दिन में 871 मौतें भी हुईं. ऐसे में देश में अब तक कोरोना संक्रमण के 22 लाख 68 हजार 675 केस हो चुके हैं. इनमें से 6 लाख 39 हजार 929 एक्टिव केस हैं. कोरोना से अब तक 45 हजार 257 मरीजों की जान जा चुकी है. वहीं, 15 लाख 83 हजार 489 लोग रिकवर हो चुके हैं. 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज जाएंगे जैसलमेर, कल सभी विधायक आएंगे जयपुर 

राहत इंदौरी कोरोना पॉजिटिव पाए गए:
राहत इंदौरी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्होंने ट्वीट कर खुद इसकी जानकारी दी है. इंदौरी ने ट्वीट किया कि कोविड के शुरुआती लक्षण दिखाई देने पर कल मेरा कोरोना टेस्ट किया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है. ऑरबिंदो हॉस्पिटल में एडमिट हूं, दुआ कीजिये जल्द से जल्द इस बीमारी को हरा दूं. एक और इल्तेजा है, मुझे या घर के लोगों को फोन ना करें, मेरी खैरियत ट्विटर और फेसबुक पर आपको मिलती रहेगी."

VIDEO: गहलोत-पायलट समझौते का बसपा "इफेक्ट"!  

दुनिया के 63% नए मरीज सिर्फ भारत में ही मिले: 
पिछले एक हफ्ते की औसत देखें तो दुनिया के 63% नए मरीज सिर्फ भारत (24.82%), अमेरिका (20.64%) और ब्राजील (17.64%) में ही मिले हैं. यानी, दुनिया के एक चौथाई मरीज अब सिर्फ भारत में मिलने लगे हैं. इन तीन देशों को छोड़कर बाकी दुनिया में सिर्फ 37% मरीज मिले हैं. राहत की बात यह है कि दुनिया में 14 दिन से नए मरीजों का औसत नहीं बढ़ा है. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है. अमेरिका, ब्राजील के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित भारत है. लेकिन अगर प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमित मामलों और मृत्युदर की बात करें तो अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति बहुत बेहतर है. 


 

Open Covid-19