CM गहलोत से स्विट्जरलैंड के राजदूत ने की मुलाकात, आपसी सहयोग की संभावनाओं पर हुई चर्चा

CM गहलोत से स्विट्जरलैंड के राजदूत ने की मुलाकात, आपसी सहयोग की संभावनाओं पर हुई चर्चा

CM गहलोत से स्विट्जरलैंड के राजदूत ने की मुलाकात, आपसी सहयोग की संभावनाओं पर हुई चर्चा

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से सोमवार शाम को मुख्यमंत्री निवास पर भारत में स्विट्जरलैंड के राजदूत डा. राफ हैकनर ने मुलाकात की. गहलोत से हैकनर की यह शिष्टाचार भेंट थी. एक बयान में इसकी जानकारी दी गयी.

मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने राजस्थान एवं स्विट्जरलैंड के बीच आपसी सहयोग की संभावनाओं पर चर्चा की. गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार निवेश को प्रोत्साहन देने के लिए 20 एवं 21 जनवरी, 2022 को जयपुर में स्टेट इन्वेस्टर समिट ‘इन्वेस्ट राजस्थान-2022‘ का आयोजन करने जा रही है, जिसमें स्विस निवेशकों की भी भागीदारी अपेक्षित है.

एक बयान में मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में निवेश को प्रोत्साहन देने की दिशा में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं और इनमें एमएसएमई अधिनियम-2019, राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना (रिप्स-2019), राजस्थान औद्योगिक विकास नीति 2019, सौर एवं पवन ऊर्जा्र नीति, ‘वन स्टाप शाप’ प्रणाली जैसी कई महत्वपूर्ण नीतियां एवं कार्यक्रम लागू किए हैं. इन नीतिगत सुधारों से राजस्थान में निवेश का बेहतर वातावरण बना है.

हैकनर ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि निवेश की वृहद् सम्भावनाओं तथा कारोबार सुगमता के लिए राजस्थान सरकार द्वारा लगातार लिए जा रहे फैसलों से स्विस कम्पनियों एवं निवेशकों में भी सकारात्मक संदेश गया है और वे इस शिखर सम्मेलन में भागीदारी के लिए दिलचस्पी दिखा रहे हैं.

पर्यटन के क्षेत्र में स्विट्जरलैंड दुनिया का एक अग्रणी देश:
हैकनर ने बताया कि पर्यटन के क्षेत्र में स्विट्जरलैंड दुनिया का एक अग्रणी देश है. इसी प्रकार राजस्थान भी पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केन्द्र है. इस दिशा में राजस्थान और स्विट्जरलैंड एक-दूसरे की विशेषज्ञता का लाभ उठाते हुए और भी आगे बढ़ सकते हैं. इस दौरान दोनों के बीच सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में पारस्परिक सहयोग पर भी चर्चा हुई. हैकनर ने राज्य में ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में किए जा रहे नवाचारों एवं सुधारों की सराहना की.

और पढ़ें