T20 WC: पाकिस्तान के खिलाफ मिली शर्मनाक हार के बाद बोले विराट कोहली - यह टूर्नामेंट की शुरुआत है, खतरे की घंटी बजाने की जरूरत नहीं

T20 WC: पाकिस्तान के खिलाफ मिली शर्मनाक हार के बाद बोले विराट कोहली - यह टूर्नामेंट की शुरुआत है, खतरे की घंटी बजाने की जरूरत नहीं

T20 WC: पाकिस्तान के खिलाफ मिली शर्मनाक हार के बाद बोले विराट कोहली - यह टूर्नामेंट की शुरुआत है, खतरे की घंटी बजाने की जरूरत नहीं

दुबई: भारतीय टीम का विश्व कप में पाकिस्तान पर पिछले लंबे समय से चला आ रहा विजय अभियान थम जाने से विराट कोहली निराश हैं लेकिन उन्होंने कहा कि यह टी20 विश्व कप की शुरुआत है और अभी खतरे की घंटे बजाने की जरूरत नहीं है.

भारतीय टीम को अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से सुपर 12 के ग्रुप दो मैच में रविवार को यहां 10 विकेट से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी. भारत पहले बल्लेबाजी का न्योता पाने के बाद सात विकेट पर 151 रन ही बना पाया. पाकिस्तान ने कप्तान बाबर आजम (नाबाद 68) और मोहम्मद रिजवान (नाबाद 79) की अटूट शतकीय साझेदारी से आसान जीत दर्ज की.

कोहली ने मैच के बाद कहा कि हम जिस तरह से अपनी रणनीति पर अमल करना चाहते थे वैसा नहीं कर पाये. उन्होंने हर विभाग में हमसे बेहतर प्रदर्शन किया. उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर हमारी टीम ऐसी नहीं है जो (एक हार से) खतरे की घंटी बजा दे. यह टूर्नामेंट की शुरुआत है अंत नहीं. भारत ने पहली 13 गेंदों के अंदर दोनों सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल के विकेट गंवा दिये थे और कोहली ने कहा कि इसके बाद वापसी करना आसान नहीं था.

तीन विकेट गंवा देते हो तो वापसी करना मुश्किल:
उन्होंने कहा कि जब आप शुरू में तीन विकेट गंवा देते हो तो वापसी करना मुश्किल होता है विशेषकर तब जबकि आपको पता हो कि ओस अपनी भूमिका निभाएगी. जब आपको पता हो कि परिस्थितियां बदल सकती है तब आपको 10-20 अतिरिक्त रन की जरूरत पड़ती है. लेकिन पाकिस्तान ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की. पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने कहा कि उनके खिलाड़ियों ने हर रणनीति पर अच्छी तरह से अमल किया और पूरी टीम को जीत का श्रेय जाता है.

हमने अपनी रणनीति पर अच्छी तरह से अमल किया:
उन्होंने कहा कि हमने अपनी रणनीति पर अच्छी तरह से अमल किया. शाहीन (शाह अफरीदी) ने जिस तरह से शुरुआत की उससे हमारा मनोबल बढ़ा. बीच के ओवरों ने स्पिनरों ने स्थिति अच्छी तरह से संभाली और डेथ ओवरों में हमारे गेंदबाजों ने उन्हें खुलकर नहीं खेलने दिया. आजम ने कहा कि ओस के प्रभाव के बाद गेंद बल्ले पर अच्छी तरह से आ रही थी. हमने अच्छी तैयारी की थी और हमारे प्रत्येक खिलाड़ी ने अपना शत प्रतिशत योगदान दिया. अभी टूर्नामेंट की शुरुआत है और हमें आगे के मैचों को भी गंभीरता से लेना होगा.

शाह अफरीदी शानदार गेंदबाजी के लिये मैन ऑफ द मैच:
बायें हाथ के तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी (31 गेंदों पर तीन विकेट) को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिये मैन ऑफ द मैच चुना गया. उन्होंने कहा कि शुरू में विकेट हासिल करने से वह मैच पर पकड़ बनाने में सफल रहे. अफरीदी ने कहा कि यह पहला अवसर है जबकि हमने भारत को हराया और हमें इस पर गर्व है. मुझे पता था कि अगर हम शुरू में विकेट हासिल करते हैं तो यह हमारे लिये अच्छा होगा. मेरा प्रयास अधिक से अधिक स्विंग हासिल करना था. नयी गेंद को खेलना मुश्किल था, इसलिए बाबर और रिजवान को श्रेय जाता है. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें