दुबई T20 World Cup: एक ही ओवर में 4 छक्के जड़कर पाक को अफगानिस्तान के खिलाफ जीत दिलाने वाले आसिफ अली ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा ?

T20 World Cup: एक ही ओवर में 4 छक्के जड़कर पाक को अफगानिस्तान के खिलाफ जीत दिलाने वाले आसिफ अली ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा ?

T20 World Cup: एक ही ओवर में 4 छक्के जड़कर पाक को अफगानिस्तान के खिलाफ जीत दिलाने वाले आसिफ अली ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा ?

दुबई: टी20 विश्व कप के पिछले दो मैचों में दमदार छक्के लगाने वाले पाकिस्तानी बल्लेबाज आसिफ अली ने कहा कि राष्ट्रीय टीम में उनके चयन की आलोचना की उन्होंने कभी परवाह नहीं की. टी20 विश्व कप टीम में आसिफ के चयन को लेकर पाकिस्तानी मीडिया में काफी हल्ला हुआ था. अतीत में कई अंतरराष्ट्रीय मैचों में उनका प्रदर्शन खराब रहा है.

अफगानिस्तान के खिलाफ सात गेंद में नाबाद 25 रन बनाकर टीम को एक ओवर बाकी रहते पांच विकेट से जीत दिलाने वाले आसिफ ने कहा कि मैं सोशल मीडिया से दूर हूं और वहां जो चल रहा है, मुझे उसकी जानकारी नहीं रहती. मुझे आलोचना का पता नहीं. पाकिस्तान को आखिरी दो ओवरों में कल 24 रन चाहिये थे. आसिफ ने करीम जन्नत को चार छक्के जड़कर 19वें ओवर में ही मैच खत्म कर दिया. विश्व कप से पहले हालांकि उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं था. पिछली चार पारियों में वह दोहरे अंक तक भी नहीं पहुंच सके थे. घरेलू टी20 में 203 मैचों में वह 147 की औसत से रन बना चुके हैं.

जिम्बाब्वे और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछली श्रृंखलाओं में मैं छठे नंबर पर उतरा:
आसिफ ने कहा कि आंकड़े कहेंगे कि आपने पिछली तीन पारियों में दस रन बनाये हैं लेकिन वे यह नहीं बतायेंगे कि आपने आखिरी ओवर में दो या तीन गेंद की खेली है. उन्होंने कहा कि जिम्बाब्वे और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछली श्रृंखलाओं में मैं छठे नंबर पर उतरा. यह कठिन क्रम है और अच्छा नहीं खेलने पर सीधे आंकड़े दिखा दिये जाते हैं. यह नहीं देखा जाता कि मध्यक्रम के बल्लेबाजों को कितनी दिक्कतें आई.

प्रदर्शन के लिये पूर्व कोच मिसबाह उल हक को भी धन्यवाद दिया:
उन्होंने कहा कि मैं टीम से भीतर बाहर होता रहा लेकिन जब टीम को मेरी जरूरत थी तो मुझे बुलाया गया. मैने अपने काम पर फोकस रखा. मैं दुनिया भर में फ्रेंचाइजी लीग खेल रहा था और घरेलू क्रिकेट भी. मैं फॉर्म में था और इसी वजह से ऐसा प्रदर्शन कर सका. आसिफ ने अपने प्रदर्शन के लिये पूर्व कोच मिसबाह उल हक को भी धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि मैने फैसलाबाद में मिसबाह के साथ कैरियर की शुरूआत की. उनके मार्गदर्शन में खेला. उन्होंने मेरे साथ काफी मेहनत की और मैं हमेशा उनका शुक्रगुजार रहूंगा. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें