नई दिल्ली Tata Technologies 2022-23 में तय योजना से 1,000 अतिरिक्त लोगों की करेगी नियुक्ति

Tata Technologies 2022-23 में तय योजना से 1,000 अतिरिक्त लोगों की करेगी नियुक्ति

Tata Technologies 2022-23 में तय योजना से 1,000 अतिरिक्त लोगों की करेगी नियुक्ति

नई दिल्ली: टाटा टेक्नोलॉजीज ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए चालू वित्त वर्ष 2022-23 में तय योजना से कम से कम 1,000 अतिरिक्त लोगों की नियुक्ति करेगी. हालांकि, कंपनी ने 12 माह की अवधि में 3,000 से अधिक नवोन्मेषकों की नियुक्ति करने की योजना बनाई है. कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी.

वैश्विक इंजीनियरिंग और उत्पाद विकास डिजिटल सेवा कंपनी ने अपने विस्तारित प्रतिभा नियुक्ति कार्यक्रम के तहत 12 महीने की अवधि में 3,000 से अधिक नवोन्मेषणों की भर्ती करने की योजना की घोषणा की थी:

जनवरी में वैश्विक इंजीनियरिंग और उत्पाद विकास डिजिटल सेवा कंपनी ने अपने विस्तारित प्रतिभा नियुक्ति कार्यक्रम के तहत 12 महीने की अवधि में 3,000 से अधिक नवोन्मेषणों की भर्ती करने की योजना की घोषणा की थी. इसके तहत कंपनी ने दुनिया के सभी प्रमुख बाजारों के अलावा देश के कई राज्यों मसलन महाराष्ट्र, कर्नाटक और तमिलनाडु में अपने कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने की योजना बनाई थी.

कंपनी इस क्षेत्र में कितनी सफल रही है, इसका अंदाजा इसी बात से लगता है कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में हमने 1,500 लोगों को भर्ती किया:

टाटा टेक्नोलॉजीज के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) वारेन हैरिस ने पीटीआई-भाषा से कहा कि यह इस तथ्य की इशारा करता है कि हम अवसरों की कमी नहीं कर रहे हैं. हम आपूर्ति-पक्ष की कमी में हैं, इसलिए हम जो निवेश कर रहे हैं, वह क्षमता और क्षमता के प्रकार के निर्माण की ओर झुका है. उन्होंने कहा कि कंपनी इस क्षेत्र में कितनी सफल रही है, इसका अंदाजा इसी बात से लगता है कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में हमने 1,500 लोगों को भर्ती किया है. ऐसे में 3,000 की प्रतिबद्धता को कुछ हद तक कम है ... हम वित्त वर्ष 2022-23 में 3,000 से अधिक लोगों की नियुक्ति करेंगे.

3,000 से ऊपर के संदर्भ में हम अगले साल के लिए कारोबारी योजना तैयार कर रहे हैं:

यह पूछे जाने पर कि नियुक्तियां कितनी अधिक होंगी, हैरिस ने कहा कि 3,000 से ऊपर के संदर्भ में हम अगले साल के लिए कारोबारी योजना तैयार कर रहे हैं. लेकिन मुझे उम्मीद है कि हम 3,000 पर कम से कम 1,000 अधिक की और नियुक्ति करेंगे.’’ टाटा टेक्नोलॉजीज ऑटोनोमस, कनेक्टेड, इलेक्ट्रिफिकेशन एंड शेयर्ड (एसीईएस) मोबिलिटी और डिजिटल में निवेश के चलते तेजी से बढ़ रही है, क्योंकि विनिर्माण कंपनियां ग्राहकों की नई जरूरतों को पूरा करने का प्रयास कर रही हैं.
कंपनी ने 31 दिसंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 1,034.1 करोड़ रुपये की परिचालन आय और 201.2 करोड़ रुपये का कर-पूर्व लाभ दर्ज किया है जो उसका सर्वश्रेष्ठ तिमाही प्रदर्शन है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें