Live News »

बेटी के समान 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा का अपहरण कर शिक्षक ने किया दुष्कर्म

बेटी के समान 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा का अपहरण कर शिक्षक ने किया दुष्कर्म

लक्ष्मणगढ़(अलवर): जिले के लक्ष्मणगढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव में गुरु-शिष्य के रिश्ते को तार तार करने का मामला सामने आया है. एक सरकारी विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक ने विद्यालय में कक्षा 10वीं में पढ़ने वाली अपनी बेटी की उम्र की 15 वर्षिय नाबालिक छात्रा का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. मामले में पुलिस ने आरोपी वरिष्ठ अध्यापक को गिरफ्तार कर लिया है.  

 VIDEO: अंगदान मुहीम को लेकर टूट गई धर्म की दीवारें, हिन्दू युवक का अंग...मुस्लिम को नई जिन्दगी 

बेटी के उम्र की नाबालिक छात्रा का अपहरण कर किया दुष्कर्म:
लक्ष्मणगढ़ थाना पुलिस ने थाना क्षेत्र के एक सरकारी विद्यालय में पढ़ने वाली अपनी बेटी के उम्र की नाबालिक छात्रा का अपहरण कर व दुष्कर्म करने के आरोपी वरिष्ठ शिक्षक व एक महिला सहित दो सह-आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. 44 वर्षीय आरोपी वरिष्ठ शिक्षक ने कक्षा 10 वीं की छात्रा का अपहरण कर उसके साथ दुष्कर्म किया. 

4 फरवरी को परिजनों ने दर्ज करवाई थी रिपोर्ट:
डीएसपी भूपेन्द्र शर्मा व एसएचओ अजीत सिंह ने बताया कि थाना क्षेत्र के गांव निवासी एक जने ने 04 फरवरी को एक रिपोर्ट दर्ज करा कर बताया कि उसकी नाबालिक बेटी जो की चारा लेने गई थी जो घर लौट कर नही आई. पीड़ित ने उसकी बेटी को अज्ञात के द्वारा भगाकर ले जाने की आंशका जताई. पुलिस ने मामला दर्ज कर मामलें की जांच प्रारम्भ की. पुलिस जांच में गांव की सरकारी विद्यालय में कार्यरत एक वरिष्ठ शिक्षक का नाम सामने आया. जिस पर पुलिस ने नाबालिक छात्रा की बरामदगी व आरोपित की वरिष्ठ शिक्षक की गिरफ्तारी के लिए आधा दर्जन से अधिक जगहों पर दबिश दी. लेकिन पुलिस को कोई सफलता हासिल नहीं हुई. इस बीच पुलिस ने अलवर शहर, मुण्ड़ावर, सौडावास, बहरोड़, जयपुर, टोंक, भरतपुर के अलावा यूपी में कई जगहों दबिश तलाशी ली. पुलिस ने साईक्लोन सैल से मदद से संदिग्ध व्यक्तियों व पीड़िता के मोबाइल नम्बरों की डिटेल लेकर संदिग्धों को चिन्हित कर पुछताछ की गई. इस बीच सीडीआर, सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के आधार व मुखवीर की सूचना पर नाबालिक छात्रा को यूपी के अलीगढ़ जिले के इंगलास थाना क्षेत्र के ताहरपुर गांव से दस्तयाब कर लिया. बाद में पुलिस ने आरोपी वरिष्ठ शिक्षक के सुभाष चन्द पुत्र रमजूराम निवासी तिनकरूड़ी थाना मण्ड़ावर हाल निवासी धौलीदूब थाना सदर अलवर, सुरेन्द्र सिंह पुत्र प्रकाश चन्द निवासी ईटेड़ा तथा अनिता बेवा वीरी सिंह निवासी उसरानी हाल तहारपुर थाना इगलास जिला अलीगढ़ को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस तीनों आरोपितों को गुरूवार को न्यायालय में पेश करेगी. 

लिफ्ट देने के बहाने दो दरिंदो ने महिला के साथ किया कुछ ऐसा की सुनकर रह जायेंगे दंग

पुलिस टीम के अथक प्रयास से ही नाबालिक हुई दस्तयाब:
पुलिस टीम ने लगातार कई दिनों तक एक दर्जन से अधिक जगहों पर दबिश देकर बालिका के दस्तयाब करने के प्रयास किये. लेकिन पुलिस को खास सफलता हाथ नही लगी. इस बीच पुलिस ने कई रेलवे स्टेशन, टोल टैक्स व अनेक जगहों पर सीसीटीवी कैमरे खंगाले और नाबालिक की पीड़िता के मोबाइल नम्बर की सीडीआर के अलावा साईक्लोन सैल की मदद से नाबालिक को दस्तयाब करने में कामयाब रही.

उसी विद्यालय में पढ़ती है नाबालिक छात्रा:
आरोपी वरिष्ठ शिक्षक सुभाष चन्द जिस पर विद्यालय में कार्यरत है. नाबालिक छात्रा उसी सरकारी विद्यालय में कक्षा 10वीं में अध्यनरत है. आरोपी शिक्षक की उम्र 44 वर्ष है. जबकी नाबालिक की उम्र मात्र 15 वर्ष है. 

नाबालिग बालिका से छेड़छाड़ करने पर ग्रामीणों ने पुलिसकर्मी का मुंह किया काला 

आखिर किस पर विश्वास करे लोग:
गुरू-शिष्य जैसे पवित्र रिश्ते को तार तार करने वाले यह समाचार आने के बाद लोग सोचने को मजबूर है कि सबसे से पवित्र माने जाने वाले गुरू शिष्य के रिश्ते को भी लोग तार तार करने से नही चुक रहे हैं. ऐसे में लोग आखिर किस पर विश्वास करें और सरकारी विद्यालय में हुए इस घटनाक्रम के बाद लोग स्तब्ध है. 

और पढ़ें

Most Related Stories

अलवर: बेटे के साथ मारपीट की उलाहना देने गये पिता की हत्या का सनसनी खेज मामला आया सामने

अलवर: बेटे के साथ मारपीट की उलाहना देने गये पिता की हत्या का सनसनी खेज मामला आया सामने

लक्ष्मणगढ़(अलवर): जिले के लक्ष्मणगढ़ पुलिस थाना क्षेत्र के मौलिया गांव में बेटे के साथ मारपीट का उलाहना देने के गये पिता की हत्या कर देने का सनसनी खेज मामला सामने आया है. पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के मौलिया गांव निवासी असलुप ने एक रिपोर्ट दर्ज करवाकर बताया कि उसके भतीजे मुबारिक को तूड़ी भरने की मजदूरी पर गांव के ही कुछ लोग लेकर गये. वहां आरोपितों ने उसके भतीजे मुबारिक के साथ मारपीट कर दी. जिस पर मुबारिक ने घर आकर घटना की जानकारी अपने पिता को दी. जिस पर पीड़ित का पिता उलाहना देने के लिये आरोपियों के घर गये तो आरोपित मुबीन, जुमरत, जुम्मे खान, रोबदीन व तीन चार घर की महिलाओं ने एक राय होकर उसके उस्मान पर मकान के ऊपर से पथराव शुरु कर दिया.

कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर आई खुशखबरी! बंदर के बाद इंसानों पर चल रहा ट्रायल 

पथराव में उस्मान के सर में गम्भीर चोट लग गई:
आरोपियों को द्वारा किये गये पथराव में उस्मान के सर में गम्भीर चोट लग गई. आनन फानन में परिजन उस्मान को लेकर उपचार के लिये अलवर लेकर रवाना हुए. लेकिन उस्मान ने रास्ते मे ही दम तोड़ दिया. इधर पुलिस को घटना की जानकारी मिलने के बाद एसएचओ अजीत सिंह मय पुलिस जाप्ते के मौके पर पहुचे ओर शव को कब्जे में लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुचे ओर पोस्टमार्टम के लिये शव को अस्पताल की अस्थाई मोर्चरी में रखवाया. इधर पुलिस ने मृतक के शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौप दिया. इधर पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच प्रारम्भ कर आरोपितों की तलाश प्रारम्भ कर दी है. अलवर जिले के लक्ष्मणगढ़ पुलिस थाना क्षेत्र के मौलिया गांव में बेटे के साथ मारपीट का उलहाना देने के गये पिता की हत्या कर देने का सनसनी खेज मामला सामने आया है. 

कोरोना संकट के बीच भारत को वर्ल्ड बैंक ने दी बड़ी राहत, मिलेगा 1 बिलियन डॉलर का पैकेज 

पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया:
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के मौलिया गांव निवासी असलुप ने एक रिपोर्ट दर्ज करवाकर बताया कि उसके भतीजे मुबारिक को तूड़ी भरने की मजदूरी पर गांव के ही कुछ लोग लेकर गये. वहां आरोपितों ने उसके भतीजे मुबारिक के साथ मारपीट कर दी. जिस पर मुबारिक ने घर आकर घटना की जानकारी अपने पिता को दी. जिस पर पीड़ित का पिता उलाहना देने के लिये आरोपियों के घर गये तो आरोपित मुबीन, जुमरत, जुम्मे खान, रोबदीन व तीन चार घर की महिलाओं ने एक राय होकर उसके उस्मान पर मकान के ऊपर से पथराव शुरु कर दिया. आरोपियों को द्वारा किये गये पथराव में उस्मान के सर में गम्भीर चोट लग गई. आनन फानन में परिजन उस्मान को लेकर उपचार के लिये अलवर लेकर रवाना हुए. लेकिन उस्मान ने रास्ते मे ही दम तोड़ दिया. इधर पुलिस को घटना की जानकारी मिलने के बाद एसएचओ अजीत सिंह मय पुलिस जाप्ते के मौके पर पहुंचे ओर शव को कब्जे में लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे और पोस्टमार्टम के लिये शव को अस्पताल की अस्थाई मोर्चरी में रखवाया. इधर पुलिस ने मृतक के शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया. पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच प्रारम्भ कर आरोपितों की तलाश प्रारम्भ कर दी है. 

विश्वेन्द्र सिंह ने साधा केन्द्र सरकार पर निशाना, कहा-झूठे वादे करने में माहिर

विश्वेन्द्र सिंह ने साधा केन्द्र सरकार पर निशाना, कहा-झूठे वादे करने में माहिर

लक्ष्मणगढ़(अलवर): केंद्र की भाजपा सरकार झूठे वादे करने में माहिर है यह कहना है पर्यटन एवं देवस्थान विभाग के कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह का. उन्होंने ने यह बात अलवर के लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र के जटवाड़ा गांव में राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जटवाड़ा के नाबार्ड योजना में 5.25 करोड़ रूपए की लागत से बने अस्पताल परिसर के लोकार्पण समारोह में जनसभा को संबोधित करते हुए कहीं. 

मन की बात में बोले पीएम मोदी, 3 लाख कारीगरों को मिले रोजगार के अनेक अवसर 

विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि पीएम मोदी ने सत्ता में आने से पहले 2 करोड़ युवाओं को रोजगार, काला धन वापस लाने और गरीबों के खोतें में पैसे ड़लवाने के सिर्फ झूठे और खोखले वादे किए। मोदी सरकार के द्वारा एक भी वादा पुरा नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने राजस्थान सरकार के उस पैसे को रोक रखा है जिस पर राजस्थान की जनता का हक था. 

राजस्थान से भेदभाव करने का लगाया आरोप:
केन्द्र सरकार राजस्थान के लोगों के पैसे को रोककर भेदभाव करने का काम सिर्फ इसलिए कर रही है राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है. उन्होंने कहा कि गत सरकार ने राजस्थान की हालत खराब कर रखी थी उसे सुधारने में दो वर्ष का समय लगेगा. इससे पूर्व पर्यटन एवं देवस्थान विभाग कैबिनेट मंत्री महाराजा विश्वेंद्र सिंह ने फीता काट कर अस्पताल परिसर के भवन का लोकापर्ण किया.ग्राम पंचायत सरपंच गोविंद सिंह चौधरी ठेकेदार ने बताया कि समारोह के मुख्य अतिथि पर्यटन एवं देवस्थान विभाग कैबिनेट मंत्री महाराजा विश्वेंद्र सिंह थे. 

नागौर: लाडनूं अस्पताल में नवजात की मौत पर हंगामा, चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप 

अध्यक्षता कठूमर विधायक बाबूलाल बैरवा ने की. समारोह की शुरूआत में सरपंच ठेकेदार गोविन्द चौधरी, एडवोकेट समय सिंह चौधरी समेत अन्य कई सरपंचों ने मुख्य अतिथि विश्वेंद्र सिंह और कठूमर विधायक बाबूलाल बैरवा, आरएएस अमिताभ बैरवा समेत अन्य अतिथियों का 51 किलो की फूलों की माला पहना कर स्वागत किया.

अलवर में गौ तस्करों पर पुलिस का शिकंजा, 31 गोवंश को कराया मुक्त

अलवर में गौ तस्करों पर पुलिस का शिकंजा, 31 गोवंश को कराया मुक्त

लक्ष्मणगढ़(अलवर): जिले के लक्ष्मणगढ़ थाना पुलिस ने बुधवार की अल सुबह बड़ी कार्रवाई करते हुए गोवंश से भरे एक 10 चक्का ट्रक को पकड़ कर 31 गोवंश को मुक्त कराया है. 

गौतस्करों ने पुलिस पर की फायरिंग: 
पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश मीना व पुलिस थाना प्रभारी अजीत सिंह राजपूत ने बताया कि बुधवार को अल सुबह करीब 1 बजे पुलिस कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि एक 10 चक्का ट्रक कई पुलिस थानों की नाकाबंदी तोड़कर लक्ष्मणगढ़ थाना इलाके की ओर आ रहा है. जिस पर पुलिस एसएचओ अजीत सिंह ने पुलिस जाप्ते के साथ कस्बे से  रोनिजा जाट जाने वाले मार्ग पर नाकाबंदी शुरु की. रात्रि करीब 2:30 बजे कस्बे की ओर से एक 10 चक्का ट्रक तेज गति से आता हुआ देख पुलिस जवानों ने रोकने का इशारा किया. लेकिन गोस्तकरो ने पुलिस को देखकर ट्रक के अंदर से फायरिंग शुरु कर दी. अचानक हुई फायरिंग से सकते में आये पुलिस जवानों ने भी जवाबी फायरिंग की. जिस पर गोतस्कर पुलिस से घिरता देख कर खेतों के रास्ते से फरार होने में सफल हो गये. 

ट्रक में मिले गोवंशों को भिजवाया गोशाला: 
बाद में पुलिस ने ट्रक की जांच की तो ट्रक में भारी सख्या में गोवंश मिला. जिस पर पुलिस ने ट्रक में मिले गोवंशों को टोड़ा स्थित श्री राधा कृष्ण गोशाला भिजवाया. जहां ट्रक में 31 गौवंश मिले जिनमे 6 गोवंश मृत पाये गये. पुलिस अभी मामले की जांच कर रही है. इस दौरान डीएसपी ओमप्रकाश मीना, लक्ष्मणगढ़ एसएचओ अजीत सिंह, बड़ौदा मेव एसएचओ दिनेश मीना मौजूद रहे. 

Open Covid-19