थानागाजी गैंगरेप मामले में किरोड़ी लाल मीणा का धरना, रेलवे ट्रैक जाम करने का प्रयास

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/05/14 05:19

दौसा: थानागाजी गैंगरेप मामले में पीड़िता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा के समर्थक रेलवे ट्रैक पर आ गए है. कुछ लोग रेलवे ट्रैक को जाम करने का प्रयास कर रहे है. किरोड़ी लाल मीणा भी अपने समर्थकों के साथ रेलवे ट्रैक के पास धरने पर बैठे हैं.

वहीं ट्रेक पर GRP, RPF और सिविल पुलिस के जवान भी मौजूद है. ASP अनिल चौहान, ADM लोकेश मीणा लगातार किरोड़ी मीणा से वार्ता का प्रयास कर रहे है. किसी भी तरह की अनहोनी घटना से बचने के लिए बड़ी संख्या में रेलवे टैक पर पुलिस जाब्ता तैनात कर दिया गया है. दूसरी तरफ प्रशासन किरोड़ी मीणा की रणनीति को लेकर परेशान नजर आ रहा है.

पूरे प्रकरण की जांच सीबीआई को सौपने की मांग
कूच से पहले किरोड़ी लाल मीणा ने दौसा के संत सुंदरदास स्मारक के समीप वाले मैदान में सभा का आयोजन किया. सभा में किरोड़ी मीणा ने चुनाव के चक्कर में कांग्रेस पर दुष्कर्म के प्रकरण को 10 दिन तक दबाकर रखने का आरोप लगाया. उन्होंने पूरे प्रकरण की जांच सीबीआई को सौपने की बात कही. साथ ही पीड़ित परिवार के लिए कम से कम 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की मांग की. इस मामले में किरोड़ी मीणा अलवर में विरोध प्रदर्शन कर चुके है.

राजेंद्र राठौड़ ने भी जमकर साधा कांग्रेस पर निशाना
वहीं इस मामले में किरोड़ी मीणा का साथ देने पहुंचे राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि भाजपा सरकार के समय कोई बात हुई तो उसे फांसी तक पहुंचाया गया. खुद प्रधानमंत्री भी इस प्रकरण पर बात कर रहे है. उन्होंने कहा कि कांस्टेबल की पत्नी के साथ दुष्कर्म हो जाता है लेकिन आरोपी पकड़ा नहीं जाता, दिव्यांग व मूक बधिर कोमल सी बच्ची के साथ दुष्कर्म हो जाता है, राजस्थान में ऐसी कई घटनाएं हो रही है. ऐसे में किरोड़ी लाल मीणा ने जो आंदोलन छेड़ा है उसे निर्णय तक ले जाएंगे.

आज पता नहीं कितनी द्रौपदियों का चीर हरण हो रहा है
राठौड़ ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार के दूध के दांत टूटे नहीं और थाना कचहरी निलाम होने लगे है. जब तबादले भी पैसे के दम पर हो तो न्याय की उम्मीद करना बेकार होगा. उन्होंने कहा कि आज पता नहीं कितनी द्रौपदियों का चीर हरण हो रहा है. जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है तब से तब से महिलाओं के सम्मान में कमी आई है. राठौड़ ने कहा, एक महिने में 52 दुष्कर्म की घटनाएं हुई है उनमे से 13 केसो में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है. इससे हम अंदाजा लगा सकते है कि प्रदेश में अभी महिला अत्याचारों की स्थिति क्या बनी हुई है. 

मारवाड़ में भी बड़ा आंदोलन करने की घोषणा 
वहीं किरोड़ी मीणा के नजदीकी माने जाने वाले रालोपा के हनुमान बेनीवाल भी दौसा में सभा स्थल पर पहुंचे. बेनीवाल ने भी इस दौरान कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला. साथ ही दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ डॉ. किरोड़ी लाल के नेतृत्व में हर संभव लड़ाई लड़ने की बात कहीं. साथ ही मारवाड़ में भी बड़ा आंदोलन करने की घोषणा की. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in