त्योहारी सीजन को लेकर गृह मंत्रालय ने दी चेतावनी, कहा- भीड़ नहीं उमड़े; संबंधित अधिकारी इसे सुनिश्चित करे

त्योहारी सीजन को लेकर गृह मंत्रालय ने दी चेतावनी, कहा- भीड़ नहीं उमड़े; संबंधित अधिकारी इसे सुनिश्चित करे

त्योहारी सीजन को लेकर गृह मंत्रालय ने दी चेतावनी, कहा- भीड़ नहीं उमड़े; संबंधित अधिकारी इसे सुनिश्चित करे

नई दिल्ली: केंद्र ने शनिवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि आगामी त्योहारी सीजन के दौरान कोई बड़ी भीड़ एकत्र न हो और कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सक्रियता से कदम उठाने को कहा है.

अभी भी उच्च संक्रमण दर चिंता का विषय बनी हुई:
केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने जारी कोविड-19 दिशा-निर्देशों को एक और महीने के लिए 30 सितंबर तक बढ़ाते हुए कहा कि कुछ राज्यों में दिख रहे स्थानीय प्रसार को छोड़कर, वैश्विक महामारी की समूची स्थिति अब राष्ट्रीय स्तर पर काफी हद तक स्थिर दिखती है. उन्होंने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे गए एक जैसे पत्रों में कहा कि कुछ जिलों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या और उच्च संक्रमण दर चिंता का विषय बनी हुई है.

24 घंटों में देश में 46,759 लोगों में कोविड-19 की पुष्टि हुई:
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार सुबह आठे बजे तक अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में देश में 46,759 लोगों में कोविड-19 की पुष्टि हुई है. पत्र में उन्होंने कहा कि संबंधित राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासनों को, अपने जिलों में उच्च संक्रमण दर को देखते हुए, सक्रिय रूप से रोकथाम के उपाय करने चाहिए ताकि मामलों में वृद्धि को प्रभावी ढंग से रोका जा सके और प्रसार को रोका जा सके. उन्होंने कहा कि संभावित वृद्धि की चेतावनी के संकेतों को जल्दी पहचानना और प्रसार को रोकने के लिए उचित उपाय करना महत्वपूर्ण है. इसके लिए स्थानीय दृष्टिकोण की आवश्यकता होगी, जैसा कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की 25 अप्रैल और 28 जून की सलाह में उल्लेख किया गया है. गृह सचिव ने उन्हें आगामी त्योहारों के सीजन में भीड़ के जमा होने से बचने के लिए उपयुक्त उपाय करने की सलाह दी और यदि आवश्यक हो, तो ऐसी सभाओं को रोकने के लिए स्थानीय प्रतिबंध लागू करें. दिवाली और छठ समेत कई बड़े त्योहार आने वाले महीनों में मनाए जाएंगे.

देश ने टीकाकरण में महत्वपूर्ण प्रगति की:
उन्होंने कहा कि महामारी से निपटने के लिए नियमित रूप से कोविड-उपयुक्त व्यवहार का पालन आवश्यक है. साथ ही कहा कि मास्क, सामाजिक दूरी बनाए रखने, जुर्माना आदि लगाने के संबंध में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से मिले साप्ताहिक आंकड़े इन्हें लागू कराने के कदमों में गिरावट को दर्शाते हैं. भल्ला ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से बीमारी के प्रसार के प्रभावी रोकथाम के लिए उनके प्रवर्तन प्रयासों को बढ़ाने का आग्रह है. भल्ला ने कहा कि देश ने टीकाकरण में महत्वपूर्ण प्रगति की है और राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को अपना अभियान जारी रखना चाहिए ताकि अधिक से अधिक पात्र लोगों को टीका लगाया जा सके.

गृह सचिव ने किया आग्रह:
इसके अलावा, गृह सचिव ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि बिना वायरस या कम संक्रमण प्रसार वाले क्षेत्रों को परीक्षण और अन्य उपायों जैसे कि आईएलआई और एसएआरआई (इन्फ्लुएंजा जैसी बीमारी और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण) आदि और बाजार की निगरानी कर पर्याप्त रूप से संरक्षित रखा जाए. उन्होंने कहा कि इसलिए, मैं आपसे आग्रह करता हूं कि जिले और अन्य सभी संबंधित स्थानीय अधिकारियों को कोविड-19 के प्रबंधन के लिए आवश्यक उपाय करने के सख्त निर्देश जारी करें. संबंधित अधिकारियों को कोविड उपयुक्त व्यवहार के सख्त प्रवर्तन में किसी भी ढिलाई के लिए व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार बनाया जाना चाहिए.

भल्ला ने कहा कि मैं यह भी सलाह दूंगा कि संबंधित राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन और जिला अधिकारियों द्वारा इस संबंध में जारी किए गए आदेशों को उनके उचित कार्यान्वयन के लिए व्यापक रूप से जनता और क्षेत्र के पदाधिकारियों को प्रसारित किया जाना चाहिए. (भाषा) 

और पढ़ें