नहीं हुआ वित्त वर्ष में कोई बदलाव, 1 अप्रैल से ही शुरू होगा वित्त वर्ष

नहीं हुआ  वित्त वर्ष में कोई बदलाव, 1 अप्रैल से ही शुरू होगा वित्त वर्ष

नई दिल्ली: पूरे देशभर में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है. इसी के चलते पूरे देश को लॉकडाउन किया गया है. इमरजेंसी सेवाओं को छोडकर सभी बंद है. इस बीच एक खबर वित्त वर्ष को लेकर सामने आई है.  केंद्र सरकार ने अगले वित्त वर्ष 2020-21 शुरू होने की तारीख में बदलाव नहीं किया है. ये 1 अप्रैल से बदलकर 1 जुलाई नहीं की गई है. ये एक अप्रैल से ही शुरू होगा. 

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या हुई 79, जयपुर के रामगंज में मिले 10 नए पॉजिटिव 

इंडियन स्टाम्प ऐक्ट की तारीख में बदलाव:
केन्द्र सरकार की तरफ से बयान जारी कर उस खबर को नकारा गया है जिसमें दावा किया जा रहा था कि वित्त वर्ष को 30 जून तक बढ़ाने का फैसला किया गया है. वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि इंडियन स्टाम्प ऐक्ट की तारीख में बदलाव को वित्त वर्ष में बदलाव कहा जा रहा जो गलत रिपोर्ट है.

नोटिफिकेशन किया जारी:
केंद्र सरकार ने सोमवार को एक गजट नोटिफिकेशन जारी किया है. इसमें स्टॉम्प ड्यूटी कलेक्शन की तारीखों में बदलाव की जानकारी थी. एक अधिकारी ने बताया कि इस बदलाव के तहत स्टॉक एक्सचेंजों और डिपॉजिटरीज के माध्यम से सिक्युरिटी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स पर स्टॉम्प ड्यूटी कलेक्ट की जाएगी. पहले यह बदलाव एक अप्रैल 2020 से लागू होना था. लेकिन अब 1 जुलाई 2020 से लागू होगा. हालांकि आम लोगों के लिए कई सुविधाएं 30 जून तक बढ़ा दी गई हैं.

Lockdown: गंभीर बीमारी वाले मेडिकल पेंशनर्स बिना एनएसी निजी मेडिकल स्टोर से खरीद सकेंगे दवा

और पढ़ें