18 जून 2005 का वो ऐतिहासिक दिन जब बांग्लादेश ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रचा इतिहास 

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/06/20 04:27

जयपुर: आज से ठीक 14 साल और 2 दिन पहले नेटवेस्ट ट्राई-सीरीज का दूसरा मैच बांग्लादेश और ऑस्ट्रेलिया के बीच कार्डिफ के सोफ़िया गार्डन्स स्टेडियम में खेला गया. सबका मानना था की ऑस्ट्रेलिया आसान जीत दर्ज करेगा, लेकिन हुआ इसके विपरीत. 18 जून 2005 को हुए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के 249 रनों का पीछा करने उतरी बांग्लादेश ने 4 गेंद रहते ही लक्ष्य हासिल कर लिया.

ऑस्ट्रेलिया की पारी:
ऑस्ट्रेलिया के कप्तान रिकी पोंटिंग ने टॉस जीत बल्लेबाज़ी का निर्णय लिया. ऑस्ट्रेलिया को अपनी सलामी जोड़ी- एडम गिलक्रिस्ट और मैथ्यू हेडन से ज़बरदस्त शुरुआत की उम्मीद थी. आखिर होती भी क्यों नहीं, यह सलामी जोड़ी दुनिया की बेहतरीन जोड़ी में से एक थी. युवा मशरफे मोर्तज़ा के इरादे कुछ और ही थे. उन्होंने पारी की दूसरी ही गेंद पर एडम गिलक्रिस्ट को एलबीडब्लू आउट किया. इस झटके से ऑस्ट्रेलिया अभी उभरा भी नहीं था की छठे ओवर में रिकी पोंटिंग को तपश बैस्या ने एलबीडब्लू आउट कर दिया. ऑस्ट्रेलिया का स्कोर था 9 रन पर 2 विकेट. इस परिस्थिति में बल्लेबाज़ी करने आये डेमियन मार्टिन. उन्होंने मैथ्यू हेडन के साथ पारी संभाली. 48 रनों की साझेदारी पनप ही रही थी की अचानक मैथ्यू हेडन नज़मुल हुस्सैन की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए. 

इसके बाद बल्लेबाज़ी करने आये 2015 विश्वकप के विनिंग कप्तान माइकल क्लार्क. दोनों ने संभल कर बल्लेबाज़ी करते हुए शतकीय साझेदारी निभाई. 108 रनों की साझेदारी को तपश बैस्या ने डेमियन मार्टिन की विकेट लेकर तोडा. तपश बैस्या ने इसके बाद माइकल क्लार्क को भी आउट किया. उस समय टीम का स्कोर 183 था. इसके बाद माइक हसी और साइमन कैटिच ने कोई विकेट गिरने नहीं दिया. टीम का अंतिम स्कोर 249/5 रहा. 

बांग्लादेश की पारी: 
लक्ष्य का पीछा करने उत्तरी बांग्लादेश की सलामी जोड़ी जावेद ओमर और नफीस इक़बाल ने संभल कर बल्लेबाज़ी की लेकिन इसका फल बांग्लादेश को नहीं मिला क्यूंकि आठवें ओवर की पहली गेंद पर जेसन गिलेस्पी ने नफीस इक़बाल को एडम गिलक्रिस्ट के हाथों कैच आउट करा दिया. इसके बाद बल्लेबाज़ी करने आये तुषार इमरान ने तेज़ी से बल्लेबाज़ी कर टीम का स्कोर सोलहवे ओवर में 51 तक पहुंचाया था तभी वो ब्रैड हॉग की गेंद पर साइमन कैटिच के हाथों कैच आउट हो गए. 

इस समय बल्लेबाज़ी करने आये मोहम्मद अशरफुल. इसके बाद 21वे ओवर में क्रीज़ पर संघर्ष कर रहे जावेद ओमर का संघर्ष ख़त्म हुआ. वह माइकल कास्प्रोविज़ के गेंद पर आउट हुए. इस समय बल्लेबाज़ी करने आये पूर्व कप्तान हबीबुल बशर. इसके बाद दोनों खिलाडियों ने 130 रनों की   ज़बरदस्त साझेदारी बुनी. हबीबुल बशर ने संभल कर बल्लेबाज़ी की वहीं मोहम्मद अशरफुल ने 99 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी की और अपना शतक पूरा किया. अंत में आफताब अहमद और मोहम्मद रफ़ीक ने मैच अपने बलबूते पर पर ख़त्म किया.

मोहम्मद अशरफुल को मैन ऑफ़ द मैच का अवार्ड मिला. आज 14 साल बाद एक बार फिर इंग्लैंड की सरज़मीं पर बांग्लादेश ऑस्ट्रेलिया से मुकाबला हो रहा है. देखना होगा की क्या बांग्लादेश इतिहास दोहरा पाता है या नहीं.


 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in