चरणबद्ध तरीके से बहाल होंगे घाटी के हालात, जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव ने दी जानकारी

चरणबद्ध तरीके से बहाल होंगे घाटी के हालात, जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव ने दी जानकारी

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के मौजूदा हालात को लेकर वहां के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में चारों ओर विकास करना सरकार का मुख्य लक्ष्य है. सीमा पार से आतंकवाद को रोकने के लिए सरकार को कुछ निश्चित कदम उठाने की आवश्यकता थी. जिसके चलते वहां कुछ पाबंदियां लगाई गई.

विश्वसनीय इनपुट के चलते लगी पाबंदी:
उन्होंने कहा कि सरकार इस वक्त उन संगठनों के बारे में जानकारी निकाल रही है, जो भी घाटी में आतंकवाद फैलाने का काम कर रहा है उसके खिलाफ एक्शन लिया जाए. इसके लिए सरकार की तरफ से दुनियाभर से रिकॉर्ड्स इकट्ठे किए जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि विश्वसनीय इनपुट थे कि आतंकी संगठन तत्काल भविष्य में जम्मू-कश्मीर में हमले करने की योजना बना रहे थे. जिसके चलते घाटी में किसी तरह से माहौल ना बिगड़े उसी वजह से कुछ सर्विस पर रोक लगाई गई थी, जैसे कि इंटरनेट सर्विस को रोक दिया गया और स्कूलों और कॉलेजों को बंद करने का फैसला लिया गया. 

धीरे-धीरे हट रही पाबंदियां:
उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से समय-समय पर लोगों को छूट भी दी गई थी. ईद के वक्त भी लोगों को खुली छूट दी गई थी, इसके अलावा जो लोग हज से वापस लौट रहे हैं उन्हें भी पूरी सुविधा दी जा रही है. सुब्रमण्यम ने ऐलान किया कि बीते दिनों में एक भी आदमी की जान नहीं गई है. साथ ही कहा कि घाटी में धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं और हम भी पाबंदियां हटा रहे हैं. अभी सरकारी दफ्तरों को खोल दिया गया है, साथ ही सरकारी स्कूल को भी धीरे-धीरे खोला जाएगा. और उसके बाद हालात का जायजा लेकर आगे का फैसला लिया जाएगा.

और पढ़ें