घर में चल रही थी शादी की रस्में, बारात से दो दिन पहले कोरोना से इंजीनियर दूल्हे की मौत

घर में चल रही थी शादी की रस्में, बारात से दो दिन पहले कोरोना से इंजीनियर दूल्हे की मौत

घर में चल रही थी शादी की रस्में, बारात से दो दिन पहले कोरोना से इंजीनियर दूल्हे की मौत

कोडरमा: देश में कोरोना ने जमकर कहर बरपा रखा है. इसके लिए सरकार भी लगातार आमजन को जागरूक रहने और घर पर रहने की सलाह दे रही है. झारखण्ड (Jharkhand) के कोडरमा (Kodrma) जिले के जयनगर प्रखंड के ग्राम सतडीहा में एक इंजीनियर की शादी से दो दिन पहले मौत हो गई. बताया जाता है कि वह कोरोना संक्रमित थे.

30 अप्रैल को होनी थी शादी: 
जानकारी के अनुसार मृतक मंजीत यादव की 30 अप्रैल को शादी होने वाली थी. इसी को लेकर दूल्हा-दुल्हन (Groom Bride) दोनों घरों में शादी की तैयारी जोरों पर थी. दूल्हे की मौत हुई तो दोनों परिवारों में मातम छा गया. परिवारजनों के अनुसार मृतक मंजीत यादव हैदराबाद (Hyderabad) के एक निजी कंपनी में इंजीनियर थे.

कुछ दिन पूर्व ही शादी के लिए घर आए थे इंजीनियर:
बुधवार को उसके लग्न बांधने का मुहूर्त था. बताया जा रहा है कि वे कुछ दिन पूर्व शादी के लिए घर आए थे. उनके पिता विजय यादव धनबाद में नौकरी करते हैं, जहां मनजीत दो दिन पूर्व कुछ खरीदारी के लिए गए थे. इसी बीच उनकी तबीयत खराब हुई.  मंगलवार को वह अपने घर आए और यहां कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए गए. इसी बीच मंगलवार को हालत बिगड़ने पर तिलैया स्थित एक निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया था. जहां बुधवार की शाम मौत हो गई.

11 कोरोना मरीजों की हुई मौत, 364 हुए संक्रमित:
कोडरमा जिले में कोरोना से मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. इससे कोविड अस्पताल में इलाज की व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं. बुधवार को ज़िले में इलाजरत 11 मरीजों को मौत इलाज के दौरान हो गई. यह एक दिन में सर्वाधिक है। कोरोना के दूसरे में फेज में अबतक 55 लोगों की मौत हो गई है. वहीं बुधवार को सदर अस्पताल सहित विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में हुई जांच में 364 नये मामले सामने आए हैं.

ट्रूनेट के द्वारा 288 लोगों की हुई जांच:
जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. मनोज कुमार ने बताया की 24 घण्टे में ट्रूनेट (Trunet) के द्वारा 288 लोगों के हुई जांच से 143 एंटीजेन के द्वारा 2473 लोगों के जांच में 221 और आरटीपीसीआर के द्वारा 164 लोगों के जांच में सभी का रिपोर्ट नेगेटिव पाया गया. डॉ. मनोज ने बताया की डोमचांच स्थित कोविड अस्पताल, निजी अस्पताल और होम आइसोलेशन (Covid Hospital, Private Hospital, Home Isolation) में इलाजरत 250 लोग स्वस्थ हुए हैं.

अब तक ज़िले में मरने वालों की कुल संख्या 84 हुई: 
सीएस डॉ. एबी प्रसाद ने बताया की ज़िले में कोरोना की रफ्तार तेज़ी से बढ़ी है, वहीं स्वस्थ होने वालों की संख्या भी बेहतर है। ज़िला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग स्वास्थ्य सेवा को और बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत है। वहीं अब तक ज़िले में मरने वालों की कुल संख्या 84 हो गई है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुये कहा की अगर सर्दी, बुखार, खांसी, गले मे तकलीफ (Cold, Fever, Cough, Sore Throat) हो रही हो या सांस लेने में तकलीफ हो तो बिना देर किए कोविड जांच के साथ सीटी स्कैन अवश्य कराएं, ताकि समय रहते इलाज़ किया जा सके.

और पढ़ें