Live News »

चार माह में तापघात से तीन लोगों की मौत, आज विधानसभा में उठा मामला 

चार माह में तापघात से तीन लोगों की मौत, आज विधानसभा में उठा मामला 

जयपुर: प्रदेशभर में भीषण गर्मी के दौरान लू और तापघात से हुई मौतों का मामला भी आज विधानसभा में उठा. प्रश्नकाल के दौरान सदस्यों द्वारा पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब देते हुए चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि गत 15 मार्च से 14 जुलाई के बीच कुल 161 लोग लू और तापघात से पीड़ित होकर अस्पतालों मे पहुंचे थे. इसमें से तीन लोगों की जान गई.

लू-तापघात प्राकृतिक आपदा में शामिल नहीं:
मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बताया कि मृतकों में 2 व्यक्ति बारां जिले एवं एक व्यक्ति जालौर जिले का था. इन परिवारों को किसी भी तरह की सहायता को लेकर पूछे गए सवाल पर डॉ रघु शर्मा ने स्पष्ट किया कि लू-तापघात प्राकृतिक आपदा में शामिल नहीं है. ऐसे में किसी भी पीड़ित परिवार को सहायता राशि देय नहीं है. हालांकि उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में लू और तापघात से कोई भी जनहानि नहीं हो, इसकी पुख्ता व्यवस्था विभाग ने की है. 

रोगी के उपचार के लिए पर्याप्त व्यवस्था:
इससे पहले विधायक राजेंद्र सिंह राठौड़ के मूल प्रश्न के जवाब में उन्होंने जिलों में रेड अलर्ट घोषित किए जाने के पश्चात एहतियात के तौर पर की गई व्यवस्थाओं का जिक्र किया. चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन नई दिल्ली द्वारा भिजवाई गई एडवाजरी एवं हीट वेव की गाइड लाइन के अनुसार सभी चिकित्सा संस्थानों को दिशा निर्देश दिए गए है. इसके अलावा सभी चिकित्सा संस्थानों में रोगी के उपचार के लिए आपातकालीन किट में ओआरएस, ड्रिपसेट, आईवीफ्लूड एवं अन्य आवश्यक दवाइयों की व्यवस्था की गई है. 
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें
और पढ़ें

Stories You May be Interested in