तीरथ सिंह रावत ने ली उत्तराखंड के सीएम पद की शपथ, कभी बीजेपी ने काट दिया था टिकट

तीरथ सिंह रावत ने ली उत्तराखंड के सीएम पद की शपथ, कभी बीजेपी ने काट दिया था टिकट

तीरथ सिंह रावत ने ली उत्तराखंड के सीएम पद की शपथ, कभी बीजेपी ने काट दिया था टिकट

देहरादून: उत्तराखंड के गढ़वाल से बीजेपी सांसद तीरथ सिंह रावत ने राज्य के अगले मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली है. राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. तीरथ सिंह रावत ने कहा कि सबको साथ लेकर चलूंगा. मैंने आरएसएस में सबको साथ लेकर चलने की ट्रेनिंग पाई है. 

आरएसएस की पृष्ठभूमि से जुड़े तीरथ सिंह रावत गढ़वाल के सांसद हैं और उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे हैं. वह पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री पद पर रह चुके हैं. उन्हें मेजर जनरल बीसी खंडूड़ी के सबसे वफादार नेताओं में गिना जाता रहा है. भाजपा विधायक मंडल दल की बैठक में उनका नाम अचानक से सामने आया. कार्यवाहक मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने तीरथ सिंह के नाम का प्रस्ताव किया. 

कभी बीजेपी ने काट दिया था टिकट:
तीरथ सिंह रावत का साल 2017 में बीजेपी ने विधानसभा चुनाव के लिए टिकट काट दिया था. उस समय वो बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और चौबट्टाखाल के विधायक थे. रावत का टिकट काटकर कांग्रेस से आए नेता सतपाल महाराज को दे दिया गया था. उस समय उन्होंने पार्टी के निर्णय को मान लिया. इसके बाद ही तीरथ सिंह रावत को राष्ट्रीय सचिव बना दिया गया था. टिकट कटने के बाद भी वो लगातार काम करते रहे. इसी बीच 2019 में तीरथ सिंह रावत को पौढ़ी गढ़वाल से लोकसभा चुनाव लड़ाया गया और वो सांसद बन गए.

मंगलवार को त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था:
गौरतलब है कि देवभूमि उत्तराखंड में सियासत बहुत ही तेज़ी से अपना रुख बदल रही है. पार्टी विधायकों द्वारा व्यक्त की गई नाराज़गी के बाद मंगलवार को त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. पिछले करीब तीन दिनों से उत्तराखंड की राजनीति में हलचल चल रही थी. बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व पर कई विधायकों ने सवाल उठाए थे और अगले चुनाव में नुकसान होने की बात कही थी.  


 

और पढ़ें