Tokyo Olympics: जर्मनी, आस्ट्रेलिया पुरुष हॉकी के सेमीफाइनल में

Tokyo Olympics: जर्मनी, आस्ट्रेलिया पुरुष हॉकी के सेमीफाइनल में

Tokyo Olympics: जर्मनी, आस्ट्रेलिया पुरुष हॉकी के सेमीफाइनल में

तोक्यो: आस्ट्रेलिया और जर्मनी ने तोक्यो ओलंपिक पुरूष हॉकी स्पर्धा के अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले जीत लिये हैं और अब सेमीफाइनल में उनका सामना एक दूसरे से होगा. पूल बी की उपविजेता जर्मनी ने रियो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता अर्जेंटीना को हराकर लगातार पांचवीं बार सेमीफाइनल में प्रवेश किया. उसके लिये लुकास विंडफेडर ने पेनल्टी कॉर्नर पर दो और टिम हर्त्जब्रूच ने एक गोल किया.

अब तीन अगस्त को उसका सामना पूल ए की शीर्ष टीम आस्ट्रेलिया से होगा जिसने नीदरलैंड को रोमांचक शूटआउट में हराया. बाकी दो क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम का सामना स्पेन से और भारत का ब्रिटेन से होगा. अर्जेंटीना की खिताब की रक्षा करने की उम्मीदों पर जर्मनी ने पानी फेर दिया. उसने चार में से तीन पेनल्टी कॉर्नर तब्दील किये. पहले 19वें मिनट में लुकास ने गोल दागा. इसके बाद तीसरे क्वार्टर में टिम ने गोल किया. हूटर से 12 मिनट पहले विंडफेडर ने गोल करके 3.0 की बढत बना ली. अर्जेंटीना ने ऐन मौके पर मेइको केसेला के पेनल्टी कॉर्नर पर किये गए गोल की मदद से खाता खोला.

दूसरे क्वार्टर फाइनल में आस्ट्रेलिया को नीदरलैंड ने कड़ी चुनौती दी. आस्ट्रेलिया के लिये टॉम विकहैम ने पहला गोल दागा. नीदरलैड ने कई हमले बोले जिन्हें ऑस्ट्रेलियाई गोलकीपर एंड्रयू चार्टर ने बचा लिया. नीदरलैंड के लिये बराबरी का गोल तीसरे क्वार्टर में मिंक वान डेर वीरडेन ने पेनल्टी कॉर्नर पर किया. आस्ट्रेलिया ने ब्रांड और विकहैम ने एक बार फिर शानदार मूव को गोल में बदला. हूटर से दस मिनट पहले नीदरलैंड टीम के जेरोन हटर्जबर्गर ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल में बदलकर मैच को पेनल्टी शूटआउट में खींचा.

शूटआउट में आस्ट्रेलियाई गोलकीपर चार्टर ने हटर्जबर्गर, रॉबर्ट कैंपरमैन और जोनास डि जियूस की पेनल्टी बचाई जबकि ब्लैक गोवर्स और फ्लिन ओजिलवी ने गोल दागे. आस्ट्रेलिया को भारत में हुए 2018 विश्व कप के सेमीफाइनल में नीदरलैंडने शूटआउट में हराया था. (भाषा) 

और पढ़ें