Tokyo Olympics: बॉक्सिंग में मैरी कॉम कोलंबिया की बॉक्सर से हारकर ओलंपिक से बाहर, मेडल की उम्मीद खत्म

 Tokyo Olympics: बॉक्सिंग में मैरी कॉम कोलंबिया की बॉक्सर से हारकर ओलंपिक से बाहर, मेडल की उम्मीद खत्म

 Tokyo Olympics: बॉक्सिंग में मैरी कॉम कोलंबिया की बॉक्सर से हारकर ओलंपिक से बाहर, मेडल की उम्मीद खत्म

नई दिल्ली: टोक्यो ओलंपिक में 29 जुलाई को स्टार शटलर पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट (Mia Blichfeldt) के खिलाफ राउंड ऑफ 16 मुकाबला 21-15, 21-13 से जीतकर क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की कर ली है. 12वें नंबर की खिलाड़ी ब्लिचफेल्ट के खिलाफ सिंधु की छह मैचों में यह पांचवीं जीत रही. भारतीय खिलाड़ी को मिया के खिलाफ एकमात्र हार का सामना इसी साल थाईलैंड ओपन में करना पड़ा था. वहीं भारत की पुरुष हॉकी टीम ने अर्जेंटीना के खिलाफ पूल ए मैच 3-1 से अपने नाम किया. इसी के साथ भारतीय टीम पूल में दूसरे स्थान पर रही. बात अगर तीरंदाजी की करें, तो पुरुष वर्ग (1/16 Eliminations) में अतनु दास ने साउथ कोरिया के दिग्गज खिलाड़ी ओह जिन-हयेक (Oh Jin-Hyek) को शूटऑफ में शिकस्त देकर क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली.

बैडमिंटन, बॉक्सिंग और आर्चरी में मेडल की उम्मीदें कायम:
तोक्यो ओलिंपिक्स में बुधवार को मिला-जुला रहा भारत का प्रदर्शन. कुछ मुकाबलों में भारतीय खिलाड़ियों का सफर हुआ खत्म. लेकिन बैडमिंटन, आर्चरी और बॉक्सिंग में भारतीय महिला खिलाड़ियों ने चैलेंज आगे बढ़ाया. बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने नॉकआउट राउंड में जगह बनाई, वहीं महिलाओं में वर्ल्ड नंबर वन तीरंदाज दीपिका ने लय में वापसी करते हुए प्री-क्वॉर्टर फाइनल में एंट्री ली. मुक्केबाजी में पूजा रानी ने रिंग में दबदबा बनाते हुए क्वॉर्टर फाइनल में जगह बनाई. पूजा एक और मुकाबला जीतते ही कम से कम एक ब्रॉन्ज पक्का कर लेंगी.

तीसरी हार से भारतीय महिला हॉकी टीम की आगे की राह मुश्किल:
भारतीय महिला हॉकी टीम की तोक्यो ओलिंपिक्स में मेडल जीतने की राह हुई मुश्किल. बुधवार को ब्रिटेन के खिलाफ 1-4 से हारी भारतीय महिला टीम. यह पूल मैचों में उसकी लगातार तीसरी हार. भारतीय टीम को पूल-ए में अपने अंकों का खाता खुलने का अब भी है इंतजार. भारत छह टीमों के पूल में पांचवें स्थान पर. टीम को अगर क्वॉर्टर फाइनल में जगह बनाने की उम्मीदों को जिंदा रखना है तो अपने अंतिम दो मैचों में आयरलैंड और साउथ अफ्रीका के खिलाफ हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी.

मेजबान जापान का दबदबा जारी, मेडल टैली में टॉप पर बरकरार:
तोक्यो ओलिंपिक्स के मेजबान जापान ने लगातार तीसरे दिन मेडल टैली में अपनी टॉप पोजिशन बनाए रखी. उसके कुल मेडल्स की संख्या हुई 22, जबकि उसके खिलाड़ियों ने अब तक 13 गोल्ड मेडल जीते हैं. टॉप-थ्री की दिलचस्प टक्कर में चीन ने अमेरिका को दूसरे से तीसरे स्थान पर धकेला. हालांकि, अमेरिका के कुल पदकों की संख्या 31 है और उसने चीन से चार मेडल ज्यादा जीते हैं लेकिन उसके पास गोल्ड मेडल 11 हैं जबकि चीन 12 गोल्ड के साथ दूसरे नंबर पर.

ब्रिटेन के तैराकों ने रिले में रचा इतिहास रचा, 100 साल बाद मिला गोल्ड:
ब्रिटेन ने तोक्यो ओलिंपिक्स की तैराकी प्रतियोगिता में रिले स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता जबकि अमेरिकी टीम पोडियम पर भी जगह नहीं बना पाई. ब्रिटेन ने दबदबा बनाते हुए पुरुष चार गुणा 200 मीटर फ्रीस्टाइल में जीत दर्ज की. टीम में टॉम डीन, डंकन स्कॉट, जेम्स गाय और 18 साल के मैथ्यू रिचर्ड्स शामिल थे. अमेरिका टीम तैराकी के अपने गौरवपूर्ण इतिहास में रिले में हिस्सा लेते हुए पहली बार मेडल जीतने में विफल रही.

महिला तैराकी में भी अमेरिका की खिलाड़ी पीछे छूटीं:
ऑस्ट्रेलिया की ‘टर्मिनेटर’ नाम से मशहूर तैराक आरिर्यान टिटमस ने महिलाओं की 200 मीटर फ्रीस्टाइल में एक मिनट 53 सेकंड के नए ओलिंपिक्स रेकॉर्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता. अमेरिका की दिग्गज स्विमर केटी लेडेकी इस रेस में पांचवें स्थान पर रहीं. अमेरिका ने महिलाओं की 200 मीटर व्यक्तिगत मेडले में दो मेडल जीते लेकिन इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक जापान की युइ ओहाशी ने जीता.

टेनिस के मुकाबलों पर गर्मी का असर, मैचों का समय बदला:
रूस ओलिंपिक कमिटी की ओर से हिस्सा ले रहे दुनिया के नंबर दो टेनिस खिलाड़ी डेनियल मेदवेदेव को बुधवार को तेज गर्मी और उमस के कारण जूझना पड़ा. उन्होंने मुकाबले के दौरान दो मेडिकल टाइम आउट लिए और एक बार उनके ट्रेनर को कोर्ट पर आना पड़ा. अंपायर ने जब उनसे पूछा कि क्या वह खेलना जारी रखेंगे, तो मेदवेदेव का जवाब था कि वह मैच खत्म कर सकते हैं लेकिन जो हालात हैं, उनमें उनकी जान भी जा सकती है. कई और खिलाड़ियों की परेशानियों और शिकायतों के बाद सुबह 11 बजे के बजाय अब दोपहर तीन बजे से शुरू होंगे मैच.

मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देने के लिए स्टार जिम्नैस्ट सिमोन बाइल्स हटीं:
अमेरिका की सुपरस्टार जिम्नैस्ट सिमोन बाइल्स ओलिंपिक्स में अपने खिताब का नहीं करेंगी बचाव. मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देने के लिए ऑलराउंड इवेंट से हटीं. इससे पहले बाइल्स टीम फाइनल्स से भी हट गई थीं क्योंकि उन्होंने महसूस किया कि वह मानसिक रूप से तैयार नहीं हैं. बाइल्स अपनी स्थिति का आकलन करने के बाद फैसला करेंगी कि वह अगले हफ्ते होने वाली व्यक्तिगत स्पर्धाओं में हिस्सा लेंगी या नहीं.

तोक्यो में कोविड के रेकॉर्ड मामले दर्ज, खेलों से जुड़े 16 केस भी सामने आए:
ओलिंपिक्स के आयोजकों ने बुधवार को खेलों से जुड़े 16 नये कोविड केसों का किया खुलासा, लेकिन इनमें से कोई भी खिलाड़ी नहीं. अब खेलों से जुड़े कोरोना मामलों की संख्या बढ़कर हुई 169. चार दिन में पहली बार ओलिंपिक्स खेलगांव में कोई मामला नहीं. वहीं तोक्यो शहर में ओलिंपिक्स शुरू होने के बाद से कोरोना वायरस के एक दिन में अब तक के सबसे अधिक 3 हजार 177 नए मामले.

और पढ़ें