नई दिल्ली: Tokyo Paralympics: गेम्स के लिये 54 सदस्यीय भारतीय टीम रवाना

Tokyo Paralympics: गेम्स के लिये 54 सदस्यीय भारतीय टीम रवाना

Tokyo Paralympics: गेम्स के लिये 54 सदस्यीय भारतीय टीम रवाना

नई दिल्ली: खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और भारतीय पैरालंपिक समिति ने आगामी तोक्यो पैरालंपिक खेलों के लिये गुरूवार को 54 सदस्यीय भारतीय टीम को औपचारिक विदाई दी. भारत 24 अगस्त से पांच सितंबर तक चलने वाले पैरालंपिक खेलों की नौ स्पर्धाओं में हिस्सा लेगा. टीम में देवेंद्र झाझरिया (एफ-46 भाला फेंक), मरियप्पन थांगवेलू (टी-63 ऊंची कूद) और विश्व चैम्पियन संदीप चौधरी (एफ-64 भाला फेंक) जैसे खिलाड़ी मौजूद हैं जो पदक के दावेदारों में शुमार हैं. इससे देश को इस बार पैरालंपिक खेलों में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की उम्मीद है.

झाझरिया अपने तीसरे पैरालंपिक स्वर्ण पदक की कोशिश में जुटे हैं. वह 2004 और 2016 में सोने का तमगा जीत चुके हैं. मरियप्पन ने रियो के पिछले चरण में स्वर्ण पदक जीता था, वह 24 अगस्त को उद्घाटन समारोह के दौरान भारतीय दल के ध्वजवाहक होंगे. तोक्यो रवाना होने वाले खिलाड़ी वर्चुअल कार्यक्रम का हिस्सा बने क्योंकि वे कड़े बायो-बबल में हैं. ठाकुर ने वीडियो संदेश में कहा कि हमारे पैरा एथलीटों की महत्वकांक्षा और आत्मविश्वास 1.3 अरब भारतीयों को प्रेरणा देता है. उनकी हिम्मम के आगे बड़ी से बड़ी चुनौतियां भी झुक जाती हैं. और वे इसके पूरे हकदार हैं. 

उन्होंने कहा कि आगामी खेलों में हमारे पैरा एथलीटों की संख्या पिछले चरण से तीन गुना ज्यादा है. मुझे उनकी काबिलियत पर पूरा भरोसा है. मेरा मानना है कि आपका प्रदर्शन भी पिछली बार से बेहतर होगा. उन्होंने कहा कि यह बहुत ही गर्व और संतोष की बात है कि पैरा खिलाड़ियों ने अब तक तीन खेल रत्न, सात पद्म श्री और 33 अर्जुन पुरस्कार जीते हैं. ठाकुर ने कहा कि यह बिलकुल भी आसान नहीं है, लेकिन आपकी कड़ी मेहनत, जीतने के जज्बे और आपके जुनून ने इन सभी चुनौतियों को जीत में तब्दील किया. मैं जानता हूं कि जब आप तोक्यो ओलंपिक जाओगे तो आप सिर्फ एक ही विचार के साथ जाओेगे कि भारत को पदक तालिका में पहले से बेहतर करना है.  

ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के खिलाड़ियों को तोक्यो ओलंपिक से पहले और इनके दौरान प्रोत्साहित करने के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ किया और वह पैरा खिलाड़ियों के लिये भी ऐसा ही करेंगे. भारत ने पैरालंपिक खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2016 रियो खेलों में किया जिसमें उसने दो स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक जीते थे. भारतीय पैरालंपिक समिति (पीसीआई) अध्यक्ष दीपा मलिक ने रियो में रजत पदक जीता था. उन्होंने कहा कि तोक्यो 2020 पैरालंपिक में हम पदकों का रिकार्ड देखेंगे क्योंकि हमारे खिलाड़ी अपनी फॉर्म के शिखर पर हैं. 

पीसीआई महासचिव गुरशरण सिंह भारतीय टीम के दल प्रमुख होंगे. बैडमिंटन पैरालंपिक खेलों में पदार्पण करेगा जिसमें सात भारतीय शटलर हिस्सा लेंगे. भारतीय प्रशंसक यूरोस्पोर्ट्स और डीडी स्पोर्ट्स पर देश के पैरा खिलाड़ियों को लाइव एक्शन में देख सकते हैं. पीसीआई ने पैरालंपिक लाइव प्रसारण अधिकार यूरोस्पोर्ट इंडिया को दिये हैं. भारतीय दल अपना अभियान 27 अगस्त से पुरूष और महिला तीरंदाजी स्पर्धा में शुरू करेगा.  (भाषा) 

और पढ़ें