जीका वायरस के चलते संकट में पर्यटन उद्योग

Nirmal Tiwari Published Date 2018/10/13 09:52

जयपुर(निर्मल तिवाड़ी)। जीका वायरस ने पर्यटन उद्योग की कमर तोड़ कर रख दी है। जीका के बढ़ते प्रकोप से जहां कुछ देशों ने अपने पर्यटकों को राजस्थान न जाने की एडवाइजरी जारी की है वहीं ट्रैवल ट्रेड के सामने लगातार कैंसिल होती बुकिंग के चलते संकट खड़ा हो गया है। 

आज भी कई गाइड्स स्मारकों पर निराश नजर आए। उनके पहले से बुक क्लाइंट्स बुकिंग कैंसिल के कारण स्मारकों पर पहुंचे ही नहीं। होटलों में भी बुकिंग का प्रतिशत गिरा है। वहीं स्मारकों की दैनिक आमदनी में भी कमी आई है। आमेर और जंतर मंतर के लाइट एंड साउंड शो देखने वालों की तादाद कम हुई है। फेस्टिव सीजन में जीका वायरस के प्रकोप से निश्चित तौर पर ट्रैवल ट्रेड के सामने संकट खड़ा हो गया है। 

हालांकि घरेलू पर्यटक को की आवक में कोई ज्यादा असर नजर नहीं आया लेकिन विदेशी पावणा बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं इससे पर्यटन उद्योग के सामने आर्थिक मंदी की आशंका खड़ी हो गई है। जयपुर गाइड एसोसिएशन के अध्यक्ष मदन सिंह राजपुरा की माने तो सरकार को जल्द ही जीका वायरस पर नियंत्रण के प्रयास करने चाहिए। ताकि फेस्टिव सीजन में पर्यटन उद्योग पर बुरा असर ना हो।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in