नागौर में ACB की बड़ी कार्रवाई, नेशनल हाई-वे के अधिशासी अभियंता मुकेश वर्मा को किया ट्रैप 

नागौर में ACB की बड़ी कार्रवाई, नेशनल हाई-वे के अधिशासी अभियंता मुकेश वर्मा को किया ट्रैप 

नागौर में ACB की बड़ी कार्रवाई, नेशनल हाई-वे के अधिशासी अभियंता मुकेश वर्मा को किया ट्रैप 

नागौर: राजस्थान के कई इलाकों की तरह नागौर में एसीबी ने घूसखोर अधिकारी को ट्रैप किया है. एसीबी ने राष्ट्रीय राजमार्ग ( नेशनल हाईवे) के अधिशासी अभियंता को ₹20000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार परिवादी हेमसिंह का वाहन राष्ट्रीय राजमार्ग नागौर में वित्तिय वर्ष 2021-22 के लिए किराए पर लगाया हुआ था, जिसका अप्रैल माह का वाहन किराया भुगतान होना बाकी था.

अप्रैल और आगे भी किराया भुगतान शीघ्र कर देने और पूरे साल वाहन किराये पर लगाने की एवज में विभाग का अधिशासी अभियंता मुकेश शर्मा दो माह का किराया बतौर कमीशन की मांग कर रहा था.इस पर परिवादी ने एसीबी तक मामले की जानकारी पहुंचाई, एसीबी नागौर के ASP रमेश मौर्या ने पहले तो शिकायत का सत्यापन कराया और पुष्टि होने के बाद घूसखोर मुकेश शर्मा को ट्रैप करने की योजना बनाई.

योजना के अनुसार आरोपी मुकेश शर्मा अधिशाषी अभियन्ता द्वारा माह अप्रैल के किराये की राशि का भुगतान करने की एवज में परिवादी से 30,000 /- रुपए  रिश्वत राशि की मांग की गई. इसके बाद परिवादी की और से बात 20 हजार रुपए में तय की गई. जैसे ही आरोपी एक्सईएन ने 20,000/- रुपए रिश्वत राशि ली, नागौर एसीबी की टीम ने उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. एसीबी की टीम ने मुकेश शर्मा के नागौर स्थित आवास की तलाशी ली तो एक लाख और बरामद किए एसीबी की टीम एक लाख के बारे में पूछताछ कर रही है. 

और पढ़ें