नई दिल्ली Twitter को सरकारी आदेशों का पालन करने के लिए मिला चार जुलाई तक का समय

Twitter को सरकारी आदेशों का पालन करने के लिए मिला चार जुलाई तक का समय

Twitter को सरकारी आदेशों का पालन करने के लिए मिला चार जुलाई तक का समय

नई दिल्ली: सरकार ने सोशल मीडिया मंच ट्विटर को नोटिस जारी कर चार जुलाई तक पूर्व के सभी सरकारी आदेशों का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है. एक आधिकारिक सूत्र ने बुधवार को यह जानकारी दी.

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने चार जुलाई की समयसीमा तय की है. इसका पालन नहीं करने पर ट्विटर मध्यवर्ती का दर्जा खो सकती है जिसका मतलब होगा कि उसके मंच पर की जाने वाली सभी टिप्पणियों की जिम्मेदारी उसकी होगी.

सरकारी आदेशों का पालन करने को कहा गया: 
सरकार के एक सूत्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि 27 जून को ट्विटर को नोटिस जारी करके अबतक जारी सभी सरकारी आदेशों का पालन करने को कहा गया है. इस महीने की शुरुआत में भी उसे नोटिस जारी किया गया था लेकिन उसने इसका पालन नहीं किया. यह अंतिम नोटिस है.

ई-मेल पर कोई जवाब नहीं मिला: 
इस बारे में ट्विटर को भेजे ई-मेल पर कोई जवाब नहीं मिला है. कई मौकों पर ट्विटर का सरकार के साथ विवाद रहा है. 26 जून को ट्विटर ने 80 से अधिक ऐसे ट्विटर खातों तथा ट्वीट की सूची सौंपी है जिनको 2021 में सरकार के आग्रह के बाद ‘ब्लॉक’ किया गया है. सरकारी सूत्र ने कहा कि कई और ऐसे आदेश हैं जिनका ट्विटर ने अभी तक अनुपालन नहीं किया है. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें