close ads


Rajasthan Corona Update: भरतपुर में दो और नए पॉजिटिव केस आए सामने, 200 पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा

Rajasthan Corona Update: भरतपुर में दो और नए पॉजिटिव केस आए सामने, 200 पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा

जयपुर: प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है. भरतपुर में दो और नए पॉजिटिव केस आए सामने आए हैं. ये दोनों ही नए केस तबलीगी जमात के सदस्य बताए जा रहे हैं. ऐसे में आज शाम 5 बजे तक कुल 21 लोग प्रदेश में पॉजिटिव आ चुके हैं. सर्वाधिक 7 पॉजिटिव जोधपुर शहर में, झुंझुनूं में 6, चूरू, भीलवाड़ा और बांसवाड़ा में 2-2, भीलवाड़ा और बीकानेर में 1-1 पॉजिटिव केस सामने आया है. राजस्थान में अब कुल पॉजिटिव की संख्या 200 पहुंच गई है. आज कोरोना वायरस से संक्रमित एक महिला की शुक्रवार को बीकानेर में मौत भी हो गई. प्रदेश में पॉजिटिव मरीज की मौत का ये चौथा मामला है. 

Coronavirus Updates: संक्रमितों की संख्या 2902 हुई, 601 नए मामले, सरकार ने चेहरा ढक कर निकलने की एडवाइजरी जारी की 

खुद को छिपाए नहीं तुरंत अपना परीक्षण कराएं-सीएम
वहीं सीएम अशोक गहलोत ने तबलीगी जमात के संपर्क में आने वाले नागरिकों से अपील की है कि वह खुद को छिपाए नहीं और आगे आकर तुरंत अपना परीक्षण कराएं. जिससे और लोगों को इससे बचाया जा सके. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि प्रदेश के सभी जिलों में रेंडम सर्वे के आधार पर टेस्ट कराएं.

देश में एक दिन में कोरोना वायरस के 601 नए मामले सामने आए: 
देश में कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने मीडिया से बातचीत में बताया कि देश में कल से लेकर आज तक कोरोना वायरस के 601 नए मामले सामने आए हैं. वहीं इस जानलेवा वायरस से अब तक 2902 लोग संक्रमित हो चुके है और 68 लोगों की मौत हुई है. कोरोना के कुल मामलों में से 30 फीसदी तबलीगी जमात से जुड़े हुए है.

कल से अब तक 12 लोगों की इस जानलेवा वायरस से मौत हुई: 
सचिव ने बताया कि कल से अब तक 12 लोगों की इस जानलेवा वायरस से मौत हुई है. वही 183 लोग ठीक हुए है. उन्होंने बताया कि कोविड-19 के 58 मरीजों की हालत नाजुक है और वे केरल, मध्यप्रदेश और दिल्ली है. 

42 फीसदी रोगियों की उम्र 21 से 40 के बीच:
स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि इस वायरस से संक्रमित नौ फीसदी मरीजों की उम्र 0-20 है, 42 फीसदी रोगी 21-40 वर्ष की आयु के हैं, 33 फीसदी मामले 41-60 वर्ष की आयु के रोगियों के हैं, और 17 फीसदी रोगी 60 वर्ष की आयु पार कर चुके हैं. 

कोरोना वैक्सीन को लेकर अमेरिकी वैज्ञानिकों की तरफ से आई अच्छी खबर, पहले परीक्षण में मिली सफलता 

सरकार की ओर से जारी किए गए दिर्नेशों का पालन करें:
लव अग्रवाल ने कहा कि हमारी डेथ रिपोर्ट हैं उनमें ज्‍यादातर उम्र या फिर कई अन्‍य बीमारियां मौत ही वजह रही हैं. इसलिए सरकार की ओर से जारी किए गए दिर्नेशों का पालन करें. उन्‍होंने WHO की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि एक दिन में 4 हजार से ज्यादा मौतें हुई हैं. 

और पढ़ें