लखनऊ यूपी के विकास पर सीएम योगी का बयान, कहा- सपा-बसपा की सरकारों में हिंदू पर्व प्रतिबंधित थे, अब हर वर्ग मनाता है अपने त्यौहार

यूपी के विकास पर सीएम योगी का बयान, कहा- सपा-बसपा की सरकारों में हिंदू पर्व प्रतिबंधित थे, अब हर वर्ग मनाता है अपने त्यौहार

यूपी के विकास पर सीएम योगी का बयान, कहा- सपा-बसपा की सरकारों में हिंदू पर्व प्रतिबंधित थे, अब हर वर्ग मनाता है अपने त्यौहार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर तीखा प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि पिछली सपा और बसपा की सरकारों में हिंदू पर्व और त्योहार प्रतिबंधित कर दिये जाते थे लेकिन एक वर्ग विशेष के त्यौहार को मनाने के लिए रेड कालीन बिछाई जाती थी. 

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने आज यहां इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि पिछली सरकारों में दंगे होते थे, कर्फ्यू लग जाते थे और लोग कोई पर्व और त्योहार नहीं मना पाते थे. अगर दंगा नहीं हुआ तो प्रशासन के लोग अजीब शर्त लगा देते थे कि होली नहीं मना पाएंगे, दीपावली पर आतिशबाजी नहीं करेंगे, कांवड़ यात्रा में नहीं जा पाएंगे और जाएंगे तो डीजे नहीं बजाएंगे. 

अब यूपी में हर वर्ग अपने त्यौहार मनाएगा:
योगी ने आरोप लगाते हुए कहा कि तब वर्ग विशेष के पर्व और त्योहारों को मनाने के लिए रेड कालीन बिछाई जाती थी लेकिन जब भी हिंदू पर्व और त्योहार आते थे तो उसे प्रतिबंधित कर दिया जाता था. उन्होंने कहा कि प्रदेश की जेलों और थानों में एक ही पर्व श्रीकृष्‍ण जन्‍माष्‍टमी मनाया जाता था और सपा-बसपा दोनों सरकारों ने इसे प्रतिबंधित कर दिया लेकिन जब हम लोग आए तो सबसे पहला पर्व आया कांवड़ यात्रा और प्रशासन के लोगों ने कहा कि छह राज्यों के लोग आते हैं और अगर यात्रा हुई तो दंगा हो जाएगा, मैंने कहा कि मैं क्यों बैठा हूं यहां, उसी दंगे को रोकने के लिए आए हैं. यह चिंता तुम्‍हें नहीं करनी, प्रदेश की 24 करोड़ जनता की सुरक्षा का दायित्व हमारे ऊपर है और कांवड़ यात्रा होगी. हमने कह दिया कि हम कांवड़ यात्रा नहीं रोकेंगे, सभी त्योहार मनाये जाएंगे. 

यूपी 2022 चुनाव पर टिकी सबकी नजर:
योगी ने आरोप लगाया कि सपा-बसपा को शासन का मौका मिला लेकिन इन लोगों ने अपने घर को भरा, इनके लिए परिवार ही पार्टी थी और ये अपने परिवार से बाहर नहीं निकल पाये और प्रदेश को लावारिस छोड़ दिया. 15 वर्षों में कुछ लोगों ने उप्र की दिशा बदल दी, तकदीर बदल दी और पहचान समाप्त कर दी लेकिन भाजपा के नेतृत्व की सरकार ने मात्र साढ़े चार वर्ष के अंदर प्रदेश को फ‍िर से उसके गौरव की ओर अग्रसर कर उसकी पहचान दिलाने का कार्य किया है. अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को पुन: सफलता दिलाने की जिम्मेदारी युवाओं को सौंपते हुए योगी ने कहा कि प्रदेश की 24 करोड़ आबादी है और इसमें छह करोड़ युवा हैं, इन छह करोड़ युवाओं को कैसे जोड़ेंगे, अभी से तैयारी करिए और बूथ से लेकर ऊपर तक सम्‍मेलन करिए, आपको कोई ताकत सफलता से रोक नहीं पाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हम सबके सामने 2022 चुनौती है क्योंकि 2022 का चुनाव उत्तर प्रदेश की तकदीर लिखेगा. 

बीजेपी के नेतृत्व में दंगो पर पूर्णतया रोक:
उन्होंने कहा कि हर राजनीतिक दल युवाओं पर अपना दावा करेगा लेकिन आप बहस में भाग लें और बताइए कि भाजपा की सरकार में युवाओं को कितना लाभ मिला है. कोरोना काल, बाढ़ राहत, अन्न वितरण, रक्‍तदान समेत सभी कार्यों में युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं की महत्वपूर्ण भूमिका की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर की चर्चा करते हुए कहा कि अब आम जनमानस को बताने की आवश्यकता है कि अगर भाजपा नहीं होती तो 500 वर्षों का कलंक धुल नहीं पाता. आज अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर निर्माण हो रहा है और यह केवल भारतीय जनता पार्टी कर सकती है. योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश जिस राह पर आगे बढ़ा है, आज प्रदेश में कोई दंगा नहीं कर सकता है, जो दंगाई सिर चढ़कर बोलते थे उनको बोल दिया गया कि सात पीढ़ी का नाम लिखकर छोड़ देना कि दंगा करोगे तो कौन भरपाई करेगा. उन्होंने एक-एक बूथ के लिए युवाओं की जिम्मेदारी और जवाबदेही तय करते हुए हर युवा को बिना किसी भेदभाव के जोड़ने की नसीहत दी और कहा कि सकारात्मक दिशा में राष्ट्र निर्माण के लिए आगे बढि़ए. उन्होंने कहा कि युवा मोर्चा के कार्यकर्ता अपने को अनुशासन के साथ जोड़कर संगठन को मजबूती प्रदान करें और युवा मोर्चा के किसी कार्यकर्ता पर अनुशासनहीनता या उपद्रव करने का लेवल नहीं चस्पा होना चाहिए. 

उत्तरप्रदेश 2022 चुनाव की तैयारियां तेज:
भाजपा युवा मोर्चा की ओर से जारी बयान के अनुसार इससे पहले भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद तेजस्वी सूर्या ने उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि 'मैं एक सामान्य कार्यकर्ता जिसे पार्टी ने भाजपा युवा मोर्चा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बना दिया, ऐसा केवल भाजपा में ही हो सकता है. युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्राशुदत्त द्विवेदी ने युवाओं का आवाहन किया कि अगामी विधानसभा चुनाव में एक बार फिर से भाजपा की सरकार बनाने के लिए युवा मोर्चा के एक-एक कार्यकर्ता को जुटना है. सोर्स-भाषा

और पढ़ें