जागरूकता पैदा कर रोकी जा सकती हैं सड़क दुर्घटनाएं- CM योगी

जागरूकता पैदा कर रोकी जा सकती हैं सड़क दुर्घटनाएं- CM योगी

जागरूकता पैदा कर रोकी जा सकती हैं सड़क दुर्घटनाएं- CM योगी

लखनऊ: गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर दिन सड़क दुर्घटनाओं में करीब 65 मौतें होती हैं. ऐसे में जागरूकता पैदा कर इन दुर्घटनाओं को रोका जा सकता है. 

प्रदेशभर में जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएंगे: 
सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार सड़क दुर्घटनाओं के कारकों को खत्म करने के तमाम प्रयास कर रही है. अभी भी इसमें बहुत कुछ किया जाना बाकी है. इसके लिए प्रदेशभर में जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएंगे. इस मौके पर उन्होंने परिवहन विभाग की 55.70 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया.

थोड़ी सी सावधानी से सड़क दुर्घटनाओं को रोका जा सकता: 
उन्होंने कहा कि थोड़ी सी सावधानी से सड़क दुर्घटनाओं को रोका जा सकता है. ऐसे में 20 फरवरी तक हर जिले में सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम आयोजित होंगे. इसमे परिवहन, गृह, स्वास्थ्य विभागों के साथ ही स्कूल कॉलेज शामिल होंगे. सीएम ने कहा कि हाई स्पीड भी सड़क दुर्घटना का कारण बनती है. इसी तरह हाइवे पर अवैध अवरोध भी दुर्घटना का कारण है. 

लाइसेंस देखने की जिम्मेदारी परिवहन विभाग की:
मुख्यमंत्री ने कहा कि शराब पीकर गाड़ी चलाना या वाहन चलाते समय मोबाइल फोन का इस्तेमाल करना दुर्घटना का कारण बनती है, जिसकी कीमत परिवार व समाज को चुकानी पड़ती है. गाड़ी चलाने योग्य लाइसेंस देखने की जिम्मेदारी परिवहन विभाग की है. केंद्र सरकार दुर्घटनाएं रोकने के लिए काफी सक्रिय है. उच्चतम न्यायालय भी सड़क दुर्घटनाओं के लिए काफी जागरूक है. 
 

और पढ़ें