लखनऊ UP में ADG की पोस्टिंग पर काफी दबाव, कई अफसरों को नई तैनाती का इंतजार

UP में ADG की पोस्टिंग पर काफी दबाव, कई अफसरों को नई तैनाती का इंतजार

UP में ADG की पोस्टिंग पर काफी दबाव, कई अफसरों को नई तैनाती का इंतजार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार के पास इस वक्त कुछ ज्यादा ही एडीजी हो गए हैं. योगी सरकार के प्रमोशन का लाभ पाकर एडीजी बने अफसरों को अपनी पोस्टिंग का इंतजार है. 1 जनवरी 2021 में होने वाले तबादले की लिस्ट अब 12 फरवरी 2021 में जरूर आई लेकिन उसमें सात एडीजी का नाम शामिल था ऐसे में बचे हुए एडीजी रैंक के अफसर अपने तबादले की चर्चा कर रहे हैं!

अभी भी कई एडीजी स्तर के अफसरों को नई तैनाती मिलना बाकी:  
उत्तर प्रदेश में अभी भी कई एडीजी स्तर के अफसरों को नई तैनाती मिलना बाकी है. गोरखपुर कानपुर, आगरा में एडीजी जोन की नई तैनाती भले ही हो गई हो लेकिन आगरा जोन में अभी भी एक एडीजी और तैनात है. रेंज में तैनात आईजी A सतीश गणेशन भी प्रमोशन पाकर एडीजी बन गए हैं लेकिन वह अभी भी आगरा में तैनात है लिहाजा आगरा जैसी जगह पर इस वक्त तो 2 एडीजी मौजूद है. एक एडीजी जोन की कमान संभाल रहे हैं, एक एडीजी रेंज की कमान संभाल रहे हैं. देखने वाली बात यह है कि ए सतीश गणेश को कब उनके कद के हिसाब से जगह मिलती है. इसी तरह वाराणसी आईजी रेंज विजय सिंह मीणा भी ADG प्रमोशन के बाद भी आई जी की पोस्ट संभाल रहे हैं जबकि वह एडीजी बन चुके हैं. यही नहीं पुलिस मुख्यालय में भी एडीजी का एक ही पद है लेकिन वर्तमान वक्त में एडीजी बीपी जोगदंड के अलावा एडीजी नवनीत सिकेरा और एडीजी रविंदर भी तैनात है.

प्रदेश में इस वक्त एडीजी स्तर के अधिकारी ज्यादा हो गए:
वहीं दूसरी तरफ कानून व्यवस्था में भी ADG LO प्रशांत कुमार मौजूद है...जबकि IG ला एंड ऑर्डर ज्योति नारायण प्रमोशन पाकर ADG बन गये है. इसी तरह एसटीएफ में भी एडीजी स्तर का अधिकारी तैनात है. एडीजी कानून व्यवस्था के पास ही एडीजी STF का चार्ज होता है. आई जी STF अमिताभ प्रमोशन पाकर ADG हो चुके हैं लिहाजा देखा जाए तो प्रदेश में इस वक्त एडीजी स्तर के अधिकारी ज्यादा हो गए हैं और उनके मुताबिक पद कम पड़ रहे हैं. ऐसे में ट्रांसफर पोस्टिंग में एडीजी को अर्जेस्ट करना सरकार के लिए मुश्किल साबित हो रहा है.

...फर्स्ट इंडिया न्यूज के लिए Ahtesham Siddiqui की रिपोर्ट

और पढ़ें