UP Board की 10वीं की परीक्षा रद्द, बगैर Exam प्रमोट होंगे छात्र, 12वीं पर फैसला जल्द

UP Board की 10वीं की परीक्षा रद्द, बगैर Exam प्रमोट होंगे छात्र, 12वीं पर फैसला जल्द

UP Board की 10वीं की परीक्षा रद्द, बगैर Exam प्रमोट होंगे छात्र, 12वीं पर फैसला जल्द

लखनऊ: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UPMSP) की हाईस्कूल (Class 10) की परीक्षा को रद्द कर दिया गया है. उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा (Deputy Chief Minister Dr. Dinesh Sharma) ने मीडिया को बताया कि सभी छात्रों को 11वीं कक्षा में प्रमोट किया जाएगा.

12वीं की परीक्षाएं अगले माह में:
डॉ दिनेश शर्मा ने बताया कि यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षाएं जुलाई के दूसरे सप्ताह में आयोजित कराई जा सकती हैं. इस बार परीक्षा 3  घंटे की बजाए 1.5 घंटे की होगी जिसमें छात्रों को 10 में से सिर्फ 3 प्रश्नों का उत्तर लिखना होगा. इस प्रकार से अब UP बोर्ड 10वीं का रिजल्ट पिछली परीक्षाओं और आंतरिक मूल्यांकन (Internal Assessment) के आधार पर घोषित किया जाएगा. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार इंटर (12वीं) परीक्षा टाइम-टेबल पर भी दो-तीन दिन में जल्द ही फैसला ले सकती है.

पहले कई राज्यों में हो चुकि है परिक्षाएं रद्द:
उल्लेखनीय है कि पिछले कई दिनों से यूपी बोर्ड 10वीं परीक्षाओं को रद्द कर रिजल्ट तैयार करने की तैयारियों में जुटा है. यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा इतिहास में पहली बार  रद्द की गई हैं. इससे पहले CBSE, ICSCE, MP बोर्ड, PUNJAB बोर्ड, HARYANA बोर्ड आदि बोर्डों ने भी 10वीं की परीक्षा रद्द करने का ऐलान किया है.

परीक्षाओं से संबंधित 17 अधिकारी संक्रमित:
डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने कहा था कि कोरोना पीक (Covid peak) का आकलन समय-समय पर किया जा रहा है. हमारे 19 अधिकारी जो बोर्ड परीक्षाओं से संबंधित हैं, इनमें से 17 अधिकारी संक्रमित हैं. सभी के ठीक व स्वस्थ होने के बाद हम आपस में चर्चा करके मुख्यमंत्री से संवाद करेंगे. इसके बाद ही कुछ निर्णय लिया जाएगा. 

CBSE बोर्ड में 10 से 15 लाख विद्यार्थी बैठते हैं. UP बोर्ड दुनिया का सबसे बड़ा बोर्ड है जिसमें 55-56 लाख विद्यार्थी बैठते हैं. परीक्षा की तैयारियों की मॉनिटरिंग (Monitoring) चल रही थी. मुख्यमंत्री खुद परीक्षा की तैयारियों की मॉनिटरिंग कर रहे थे.

 

और पढ़ें