Live News »

अजेय नहीं मोदी, याद करें 2004- सोनिया गांधी

अजेय नहीं मोदी, याद करें 2004- सोनिया गांधी

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में पहले फेज के मतदान की शुरुआत के साथ ही राजनीती के दिग्गज दूसरे फेज के मतदान के प्रचार में जोर-शोर से जुट गए हैं। यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने आज अपनी पारंपरिक लोकसभा सीट रायबरेली से नामांकन किया। पर्चा दाखिल करने के वक्त राहुल, प्रियंका और रॉबर्ट वाड्रा उनके साथ रहे।

इस दौरान रायबरेली से नामांकन करने के बाद यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी अजेय नहीं हैं, आपको 2004 के नतीजे भी याद रखने चाहिए। 

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुली चुनौती देते हैं कि वह भ्रष्टाचार पर उनसे बहस कर लें। अगर पीएम मोदी हां करें, तो वह उनके घर पर आने को तैयार हैं। राहुल ने कहा कि बहस हुई तो पता चल ही जाएगा कि चौकीदार चोर है।

नामांकन से पहले उत्तर प्रदेश के रायबरेली में सोनिया गांधी ने परिवार सहित रोड शो किया, जिसमें बड़ी संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद रहे। एक तरफ रायबरेली में सोनिया गांधी का रोड शो , तो वहीं अमेठी में स्मृति ईरानी भी रोड शो कर रही हैं। उनके साथ यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। 

और पढ़ें

Most Related Stories

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, कामगारों को सीधे जेब में 10 हजार रुपए देने की मांग, कांग्रेस चलायेगी ऑनलाइन अभियान

जयपुर: कोरोना महामारी से त्रस्त प्रवासी श्रमिकों ,कामगारों ,लघु व्यापारियों ,असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों समेत वो लोग जो इन्कम टैक्स के दायरे में नहीं आते उनके लिए कांग्रेस बड़ा अभियान चलाने जा रही है. 28 मई को कांग्रेस के व्यापक ऑनलाइन अभियान के जरिये केन्द्र सरकार से मांग की जाएगी कि इनकी जेब में सीधे 10हजार रुपये डाले जाये. राजस्थान की कांग्रेस भी इस महा अभियान से जुडेगी. 

सभी प्रदेश कांग्रेस इकाइयों को लिखा पत्र:
बीते कुछ दिनों से कांग्रेस एक्शन में है खासतौर पर प्रवासी श्रमिकों के मसले पर.  ताबडतोड केन्द्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोला जा रहा ,नीतियों को कोसा जा रहा. अब केन्द्र सरकार से उसी मांग को दोहराया जाएगा जो कुछ दिनों पहले राहुल गांधी से की गई थी ,चलाया जाएगा देशव्यापी ऑनलाइन अभियान ,इसके लिये कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर AICC महासचिव के सी वेणुगोपाल ने सभी प्रदेश कांग्रेस इकाइयों को पत्र लिखा है.

शराब दुकान की लोकेशन में घालमेल! आबकारी विभाग में मिलीभगत से खेल, नियमों के खिलाफ दुकानों की लोकेशन मंजूर

कांग्रेस का मूवमेंट

-28 मई को कांग्रेस बड़ा ऑनलाइन अभियान चलायेगी
-केन्द्र सरकार से की जाएगी मांग
-प्रवासी श्रमिक,कामगार,छोटे व्यापारी
-असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों को मिले पैसा
-उनकी जेब में सीधे 10हजार रुपये दिये जाये
-28 मई को 11से 2 बजे के बीच चलेगा अभियान
-सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों को AICC के निर्देश
-सोनिया गांधी ने कांग्रेस नेताओं से किया आह्वान
-जो इन्कम टैक्स दायरे में नहीं आते है उनके लिये अभियान
-10हजार रुपये कैश या बैंक खाते के जरिये प्रत्येक श्रमिक को मिले
-सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर व्यापक अभियान चलेगा
-अभियान में कांग्रेस के जनप्रतिनिधि होंगे शामिल

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा बोले, प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें, मई माह के अंत तक पा लेंगे 25000 का लक्ष्य

कांग्रेस का अभियान बेहद अहम:
कांग्रेस का अभियान बेहद अहम है. ऑनलाइन अभियान का मकसद उन लोगों तक सरकार के जरिये पैसा पहुंचाना है जिनके सामने अब रोजगार का संकट खड़ा हो गया है. केन्द्र सरकार से पुरजोर मांग की जाएगी ,लॉकडाउन के कारण कांग्रेस सड़क पर नहीं आ सकती इसलिये ऑनलाइन अभियान के जरिये कांग्रेसियों से आह्वान किया जाएगा कि वे केन्द्र सरकार से राहत देने की मांग करे. 

...फर्स्ट इंडिया के लिये योगेश शर्मा की रिपोर्ट

इंटरनेट की लत बनी मुसीबत! मां-बाप के रिचार्ज नहीं करवाने पर युवक ने की आत्महत्या

इंटरनेट की लत बनी मुसीबत! मां-बाप के रिचार्ज नहीं करवाने पर युवक ने की आत्महत्या

भोपाल: तकनीकी प्रधान इस युग में इंटरनेट ने लोगों के जीवन को काफी आसान बना दिया है. लेकिन इसके अब धीरे-धीरे कुछ लोगों के लिए इंटरनेट की लत जानलेवा भी साबित हो रही है. जी हां, इंटरनेट पैक का रिचार्ज नहीं कराने पर एक युवक के आत्महत्या कर लेने की खबर है. 

कोरोना संक्रमण को लेकर नया खुलासा, इतने दिन के बाद संक्रमित से नहीं फैलता वायरस 

बार-बार कहने पर भी परिजनों ने इंटरनेट का रिचार्ज नहीं कराया:
घटना भोपाल के बागसेवनिया थाना क्षेत्र की है. जहां एक युवक ने अपने माता-पिता से मोबाइल में इंटरनेट पैक का रिचार्ज कराने को कहा. जब बार-बार कहने पर भी परिजनों ने इंटरनेट का रिचार्ज नहीं कराया, तो युवक ने आत्महत्या कर ली. इस संबंध में बागसेवनिया थाने के एसएचओ ने बताया कि युवक की मां के रिचार्ज कराने से इनकार करने पर आत्महत्या कर ली. 

भरतपुर: कई दिनों तीन युवकों ने नाबालिग से किया गैंगरेप, तीन माह की गर्भवती होने पर हुआ खुलासा  

इंटरनेट की लत नई मुसीबत बन रही: 
पुलिस के अनुसार मामले की तहकीकात की जा रही है. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है. लॉकडाउन के चलते जब लोगों के लिए दो वक्त की रोटी का जुगाड़ करना भी मुश्किल साबित हो रहा है, इंटरनेट की लत नई मुसीबत बन रही है. इस तरह की घटनाएं समाज के लिए चिंताजनक है. 

महान हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर का निधन, पंजाब के मोहाली में 95 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

महान हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर का निधन, पंजाब के मोहाली में 95 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

नई दिल्ली: भारतीय हॉकी के महान खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर का निधन हो गया. उन्होंने 95 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस ली. करीब 2 सप्ताह से ज्यादा वक्त तक सेहत संबंधी परेशानियों से जूझने के बाद सोमवार को पंजाब के मोहाली के अस्पताल में अंतिम सांस ली. बलबीर सिंह अपने पीछे बेटी सुशबीर, 3 बेटों कंवलबीर, करनबीर और गुरबीर को छोड़ गए हैं.

ईद मुबारक: बॉलीवुड हस्तियों ने दी ईद की शुभकामनाएं, सोशल मीडिया पर शेयर की अपनी पोस्ट 

8 मई को कराया था अस्पताल में भर्ती:
फोर्टिस अस्पताल मोहाली के निदेशक अभिजीत सिंह ने कहा कि उन्हें 8 मई को यहां भर्ती कराया गया था. सोमवार सुबह करीब साढे छह बजे उनका निधन हो गया. उनके नाती कबीर ने बाद में पुष्टि की. बलबीर सिंह सीनियर ने लंदन (1948), हेलसिंकी (1952) और मेलबर्न (1956) ओलंपिक में भारत के स्वर्ण पदक जीतने में अहम भूमिका निभाई थी.

तेज बुखार के बाद अस्पताल में कराया भर्ती:
बलबीर सिंह सीनियर 18 मई से अर्ध चेतन अवस्था में थे और उनके दिमाग में खून का थक्का जम गया था. उन्हें फेफड़ों में निमोनिया और तेज बुखार के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. देश के महानतम खिलाड़ियों में से एक बलबीर सिंह सीनियर अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा चुने गए आधुनिक ओलंपिक इतिहास के 16 महानतम ओलंपियनों में  शामिल थे.

फ्लाइट में 5 वर्षीय बच्चा अकेला ही सफर कर पहुंचा बेंगलुरु, 3 माह बाद मां के पास पहुंचा विहान

फ्लाइट में 5 वर्षीय बच्चा अकेला ही सफर कर पहुंचा बेंगलुरु, 3 माह बाद मां के पास पहुंचा विहान

फ्लाइट में 5 वर्षीय बच्चा अकेला ही सफर कर पहुंचा बेंगलुरु, 3 माह बाद मां के पास पहुंचा विहान

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से बचाव के लिए देशव्यापी लॉकडाउन है. लॉकडाउन के चौथे चरण में कुछ छूट सरकार द्वारा दी गई है. जैसे ट्रेन से लेकर विमान सेवा शुरू हो गई, लेकिन कुछ नियमों के साथ यह सेवा शुरू की गई है. यात्रियों को इसका पालन करना जरूरी होगा. आज से विमान सेवा शुरू हुई. ऐसे में जो इंसान अपनों से दूरा था, अब वे अपनों के पास लौटना शुरू हो गए है. मामला बेंगलुरु एयरपोर्ट का है.

आज शुरू हुईं घरेलू उड़ान सेवा, इन दो राज्यों को छोड़कर पूरे देश में संचालन बहाल

दिल्ली में अपने दादा-दादी के पास था बच्चा:
जहां पर एक 5 वर्षीय बच्चा दिल्ली से बेंगलुरु ट्रेवल कर अकेला ही फ्लाइट में बैठकर अपनी मां के पास पहुंच गया. बच्चे का फोटो सोशल मीडिया पर वायरस हुआ तो बच्चा सुर्खियों छा गया. जानकारी के मुताबिक वे 3 माह से दिल्ली में अपने दादा-दादी के पास था. लॉकडाउन की वजह से मां के पास नहीं जा पा रहा था. इस पांच वर्ष के बच्चे का नाम विहान शर्मा है. 

मां लेने बेंगलुरु एयरपोर्ट पहुंची:
विहान की मां मंजीश शर्मा बेटे को लेने बेंगलुरु एयरपोर्ट पहुंची थी. बच्चे ने मुंह पर मास्क और हाथों में ग्लव्स पहने हुए थे. साथ ही हाथ में स्पेशल कैटेगरी का स्टीकर लिए तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. गौरतलब है कि कोरोना महामारी की वजह से देश में इमरजेंसी सेवा को छोडकर सब बंद कर रखा था. दो महीने से देश के सभी एयरपोर्ट से उड़ानें रद्द कर दी गई थी. अब 25 मई से हवाई सेवा भी बहाल कर दी गई है. लेकिन यात्रियों के लिए कुछ गाइडलाइन भी जारी की गई हैं, जिनका यात्रियों को ध्यान रखना होगा.

ईद मुबारक: बॉलीवुड हस्तियों ने दी ईद की शुभकामनाएं, सोशल मीडिया पर शेयर की अपनी पोस्ट 

कोरोना संक्रमण को लेकर नया खुलासा, इतने दिन के बाद संक्रमित से नहीं फैलता वायरस

कोरोना संक्रमण को लेकर नया खुलासा,  इतने दिन के बाद संक्रमित से नहीं फैलता वायरस

नई दिल्ली: एक रिसर्च में इस बात की जानकारी सामने आई है कि कोरोना वायरस के मरीजों से 11वें दिन बाद संक्रमण नहीं फैलता. यहां तक की इस बात का भी फर्क नहीं पड़ता की वह 12वें दिन भी पॉजिटिव रहे. इस बात की जानाकारी सिंगापुर नेशनल सेंटर फॉर इंफेक्शस डिजीजेज (NCID) एंड अकेडमी ऑफ मेडिसीन की स्टडी में सामने आई है. शोधकर्ताओं के मुताबिक स्टडी के दौरान पाया गया कि कोरोना मरीजों के लक्षण दिखने के 7 से 10 दिन बाद तक संक्रमण फैलाने की क्षमता होती है. 

Coronavirus: भारत कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल, लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी 

मरीजों में एक्टिव वायरल रेप्लिकेशन घटने लगता है:
इस बारे में करीब 73 कोरोना पॉजिटिव मरीजों पर स्टडी करने पर उन्हें नई बात पता चली. शोधकर्ताओं के अनुसार 11 दिन के बाद कोरोना वायरस को आइसोलेट या Cultured नहीं किया जा सकता. शोधकर्ताओं के अनुसार लक्षण दिखने के एक हफ्ते बाद कोरोना मरीजों में एक्टिव वायरल रेप्लिकेशन घटने लगता है. ऐसे में इस बारे में हॉस्पिटल फैसला ले सकता है कि मरीजों को कब डिस्चार्ज किया जाए.  ऐसे में यह नहीं जानकारी डॉक्टरों के लिए महत्वपूर्ण हो सकती है. 

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग 

नई जानकारी को लेकर रिसर्चर्स विश्वस्त: 
शोधकर्ताओं का मानना है कि सैंपल साइज छोटा होने के बावजूद नई जानकारी को लेकर रिसर्चर्स विश्वस्त हैं. उनका मानना है कि बड़े सैंपल साइज में भी ऐसे ही परिणाम देखने को मिलेंगे. शोधकर्ताओं के अनुसार इस बात के पर्याप्त सबूत हैं कि कोरोना मरीज 11 दिन बाद संक्रामक नहीं होते हैं. बता दें कि दुनियाभर में लगातार कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है. आज सुबह तक दुनिया में कोरोना मरीजों की संख्या 54 लाख को पार कर चुकी है.  


 

पूर्व हॉकी कप्तान और तीन बार ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट रहे हॉकी लीजेंड बलबीर सिंह सीनियर नहीं रहे

पूर्व हॉकी कप्तान और तीन बार ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट रहे हॉकी लीजेंड बलबीर सिंह सीनियर नहीं रहे

चंडीगढ़: पूर्व हॉकी कप्तान और तीन बार ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट रहे 96 वर्षीय बलबीर सिंह सीनियर का निधन हो गया. सुबह 6 बजकर 17 मिनट पर उनका देहांत हो गया. 96 साल के थे. दो सप्ताह से अधिक समय तक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझने के बाद सोमवार को चंडीगढ़ के एक अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली. 

Coronavirus: भारत कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल, लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी 

उनके दिमाग में खून का थक्का जम गया था:
बलबीर सिंह सीनियर 18 मई से अर्ध चेतन अवस्था में थे और उनके दिमाग में खून का थक्का जम गया था. इस बार वह शुरू से ही वेंटिलेटर पर रहे और इस दौरान उन्हें तीन बार हार्ट अटैक भी आया. उन्हें फेफड़ों में निमोनिया और तेज बुखार के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इस बार उनकी तबीयत लगातार बिगड़ती रही और सोमवार को उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. देश के महानतम खिलाड़ियों में से एक बलबीर सीनियर अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा चुने गए आधुनिक ओलंपिक इतिहास के 16 महानतम ओलंपियनों में शामिल थे.

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग 

1956 के ओलंपिक में वह भारतीय हॉकी टीम के कप्तान बने थे:
बलबीर सिंह सीनियर लंदन ओलंपिक 1948, हेलसिंकी ओलंपिक 1952 और मेलबर्न ओलंपिक 1956 में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे हैं. 1956 के ओलंपिक में वह भारतीय हॉकी टीम के कप्तान बने थे. इसके अलावा वह वर्ल्ड कप 1971 में ब्रॉन्ज और वर्ल्ड कप 1975 में गोल्ड जीतने वाली भारतीय हॉकी टीम के मुख्य कोच थे. भारत सरकार ने उन्हें 1957 में पद्मश्री से सम्मानित किया था.


 

Coronavirus: भारत कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल, लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी

Coronavirus: भारत कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल, लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. देश में जारी स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार कोरोना संक्रमण के अब तक 138,845 मामले सामने आ चुके  हैं. इसी के साथ भारत सबसे ज्यादा संक्रमित देशों की सूची में नंबर 10 पर पहुंच गया है. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में 72 पॉजिटिव केस आए सामने, राजस्थान में फिलहाल 3081 कोरोना के एक्टिव केस 

लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी: 
पिछले 24 घंटों में देश में संक्रमित मरीजों के 6977 नए मामले सामने आए हैं. यह लगातार चौथे दिन सबसे ज्यादा बढोत्तरी है. वहीं इसके साथ ही पिछले 24 घंटे में 154 लोगों ने दम भी तोड़ा है. ऐसे में अब मृतकों की संख्या भी बढ़कर 4021 पहुंच गई है. वहीं राहत वाली खबर यह है कि 57 हजार 721 लोग ठीक भी हो चुके हैं. 

भारत दुनिया में कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल:
बता दें कि देश में कोरोना वायरस का पहला मामला 30 जनवरी को सामने आया था. तब से अब तक करीब 138,845 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते भारत दुनिया में कोरोन संक्रमित देशों की सूची में टॉप-10 में शामिल हो गया है. इस सूची में अमेरिका टॉप पर है. इसके बाद ब्राजील, रूस, स्पेन, ब्रिटेन, इटली, फ्रांस, जर्मनी और तुर्की हैं.

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग 

देश में लॉकडाउन लागू किए आज दो महीने पूरे:
वहीं देश में लॉकडाउन लागू किए आज दो महीने पूरे हो गए हैं. पीएम मोदी ने 24 मार्च को पहले लॉकडाउन की घोषणा की थी, जो कि 25 मार्च से लागू हुआ था. फिलहाल लॉकडाउन का चौथा चरण कुछ रियायतों के साथ 31 मई तक जारी रहेगी. 


 

आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग

 आज से शुरू हुआ नौतपा, आसमान से जमकर बरसेगी आग

जयपुर: हिंदू कैलेंडर के अनुसार हर साल ज्येष्ठ महीने में सूर्य रोहिणी नक्षत्र में आ जाता है. जिससे गर्मी बढ़ने लगती है.  इस बार ज्येष्ठ महीने के शुक्लपक्ष की तृतीया तिथि यानी 25 मई को सूर्य कृतिका से रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेगा और 8 जून तक इसी नक्षत्र में रहेगा. सूर्य के नक्षत्र बदलते ही नौतपा शुरू हो जाएगा. यानी 9 दिनों तक तेज गर्मी रहेगी. इसकी वजह यह है कि इस दौरान सूर्य की लंबवत किरणें धरती पर पड़ती हैं. लेकिन इस बार शुक्र तारा अस्त होने से इसका प्रभाव कम रहेगा. 

300 साल में पहली बार ईद पर नहीं हुई सामूहिक नमाज, ईदगाह और जामा मस्जिद में 5-5 नमाजियों ने अदा की नमाज 

नौतपा के दौरान महिलाएं हाथ पैरों में मेहंदी लगाती हैं:
परंरपरा के अनुसार नौतपा के दौरान महिलाएं हाथ पैरों में मेहंदी लगाती हैं. क्योंकि मेहंदी की तासीर ठंडी होने से तेज गर्मी से राहत मिलती है. इन दिनों में पानी खूब पिया जाता है और जल दान भी किया जाता है ताकि पानी की कमी से लोग बीमार न हो. इस तेज गर्मी से बचने के लिए दही, मक्खन और दूध का उपयोग ज्यादा किया जाता है. इसके साथ ही नारियल पानी और ठंडक देने वाली दूसरी और भी चीजें खाई जाती हैं. 

25 मई से 2 जून तक रहेगा नौतपा: 
25 मई को सुबह करीब 8.10 पर सूर्यदेव रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करेंगे. सूर्य जब रोहिणी नक्षत्र में होकर वृष राशि के 10 से 20 अंश तक रहता है तब नौतपा होता है. इस नक्षत्र में सूर्य करीब 15 दिनों तक रहेगा. लेकिन शुरुआती 9 दिनों में गर्मी बहुत बढ़ जाती है.  इसलिए इन 9 दिनों के समय को ही नौतपा कहा जाता है. ये समय 25 मई से 2 जून तक रहेगा. इसके अलावा ज्येष्ठ महीने के शुक्लपक्ष में चंद्रमा जब आर्द्रा से स्वाती तक 10 नक्षत्रों में रहता हो तो नौतपा होता है. रोहिणी के दौरान बारिश हो जाती है तो इसे रोहिणी नक्षत्र का गलना भी कहा जाता है. 

आखिरी दो दिन तेज हवा-आंधी चलने व बारिश होने के भी योग:
इस बार नौतपा के दौरान 31 मई को शुक्र ग्रह वक्री होकर अपनी ही राशि में अस्त हो जाएगा और सूर्य के साथ रहेगा. रोहिणी नक्षत्र का का स्वामी ग्रह चंद्रमा है. सूर्य के साथ शुक्र भी वृषभ राशि में रहेगा. शुक्र रस प्रधान ग्रह है, इसलिए वह गर्मी से राहत भी दिलाएगा. इसलिए देश के कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी और कुछ जगहों पर तेज हवा और आंधी-तूफान के साथ बारीश होने की संभावना ज्यादा है. नौतपा के आखिरी दो दिन तेज हवा-आंधी चलने व बारिश होने के भी योग बन रहे हैं. वराहमिहिर के बृहत्संहिता ग्रंथ में ने बताया है कि ग्रहों के अस्त होने से मौसम में बदलाव होता है. 

SHO की आत्महत्या का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, CBI जांच की मांग लेकर जनहित याचिका दायर 

देश के रेगिस्तानी और पर्वतीय इलाकों में ज्यादा बारीश की संभावना:
इस साल संवत्सर के राजा बुध है और रोहिणी का निवास संधि में है. इससे बारीश तो समय पर आ जाएगी लेकिन कहीं पर ज्यादा तो कहीं पर कम बारिश हो सकती है. इस बार देश के रेगिस्तानी और पर्वतीय इलाकों में ज्यादा बारीश हो सकती है. बारीश के कारण अनाज और धान की पैदावार अच्छी रहेगी. धान्य, दूध व पेय पदार्थों में तेजी रहेगी. जौ, गेहूं, राई, सरसों, चना, बाजरा, मूंग की पैदावार आशानुकूल होगी. 

Open Covid-19