भर्ती की मांग को लेकर बेरोजगार पशु चिकित्सकों ने किया अर्धनग्न प्रदर्शन

Dinesh Kumar Dangi Published Date 2018/09/23 05:46

जयपुर। प्रदेश में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने का समय नजदीक आने के साथ ही बेरोजगार पशुचिकित्सकों की चिंता बढने लगी है। दरअसल  मुख्यमंत्री ने 2017 के बजट में राज्य में 900 पशुचिकित्सकों की भर्ती की घोषणा की थी लेकिन अभी तक इसकी भर्ती की प्रक्रिया तक शुरू नहीं हुई है। इससे बेरोजगारों पशुचिकित्सकों में जबर्दस्त नाराजगी है। 

बेरोजगार पशुचिकित्सक ने आज पहले  राजधानी जयपुर में सेंट्रल पार्क के बाहर अर्धनग्न प्रदर्शन किया। फिर पशुपालन मंत्री के आवास पर जाकर प्रभुलाल सैनी से गुहार लगाई। राजस्थान बेरोजगार पशु चिकित्सक संघर्ष समिति के डॉ पाबूराम विश्नाई और डॉ जोरावर सिंह का कहना है कि एक ओर सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुना करना चाहती है, वहीं दूसरी ओर राज्य में पशुचिकित्सकों के करीब 60 फीसदी पद खाली पड़े हुए हैं। सरकार ने 2017 में 900 पदों पर भर्ती की घोषणा की थी लेकिन आरपीएससी और पशुपालन विभाग के बीच भर्ती नियमों में संशोधन की फाइल उलझी होने से भर्ती विज्ञप्ति जारी नहीं हो रही है। 

बेरोजगार सरकार से मांग कर रहे हैं कि वो भर्ती नियमों में संशोधन की प्रक्रिया पूरी करवाकर लिखित परीक्षा के आधार पर पशुचिकित्सकों की भर्ती करवाए। इसके लिए सरकार आचार संहिता से पहले ही भर्ती विज्ञप्ति जारी करवाए। ऐसा नहीं करने पर बेरोजगार पशुचिकित्सक आंदोलन तेज करेंगे।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in