मुंबई रजित कपूर ने कहा, दुर्भाग्यपूर्ण है कि शाहरुख का बेटा होना ही आर्यन खान के खिलाफ जा रहा है

रजित कपूर ने कहा, दुर्भाग्यपूर्ण है कि शाहरुख का बेटा होना ही आर्यन खान के खिलाफ जा रहा है

रजित कपूर ने कहा, दुर्भाग्यपूर्ण है कि शाहरुख का बेटा होना ही आर्यन खान के खिलाफ जा रहा है

मुंबई: अभिनेता रजित कपूर ने मादक पदार्थ मामले में गिरफ्तार आर्यन खान के मामले को तूल दिए जाने को दुर्भाग्यपूण करार देते हुए कहा कि यह एक बार फिर साबित करता है कि फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों को कठोर जांच का सामना करना पड़ता है. गौरतलब है कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (NCB) ने तीन अक्टूबर को मुंबई के तट के पास, गोवा जा रहे एक क्रूज पोत पर छापेमारी के बाद शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान (23) और कुछ अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था. एजेंसी ने क्रूज से मादक पदार्थ जब्त करने का दावा किया है.

फिल्म ‘द मेकिंग ऑफ़ द महात्मा’ और टीवी सीरिज ‘ब्योमकेश बक्शी’ में नजर आ चुके कपूर ने कहा कि खान के परिवार को जिस ‘मीडिया ट्रायल’ का सामना करना पड़ रहा है वह बेहद दुर्भाग्यपूण है. कपूर ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि  फिल्म उद्योग से जुड़े लोग चूंकि चर्चा में रहते हैं, इसलिए उन्हें कठोर जांच का सामना करना पड़ता है. यह अनुचित है. यह युवा शाहरुख खान का बेटा है. आपको क्या लगता है कि अगर वह शाहरुख का बेटा नहीं होता, तो उसे इन सब से गुजरना पड़ता ? क्या मीडिया इसका तमाशा बनाता ? तब तो इसके बारे में कोई चर्चा भी ना होती. सिनेमा और रंगमंच के जाने माने अभिनेता ने कहा कि आर्यन से उन्हें सहानुभूति है, जो उन्हें लगता है, भावनाओं के कई दौर से गुजर रहा है. उन्होंने कहा कि जी बिल्कुल, अभिभावक के तौर पर, मैं काफी परेशान होता. लेकिन उस युवा लड़के के बारे में सोचिए. वह क्या झेल रहा है, वह क्या सोच रहा होगा, ‘मेरे पिता शाहरुख खान है और वह कुछ नहीं कर सकते.’ इसका मतलब है कि आज शाहरुख खान का बेटा होना ही उनके खिलाफ चला गया है.

आर्यन ने, महानगर स्थित विशेष अदालत द्वारा पिछले सप्ताह जमानत याचिका खारिज किए जाने के बाद उच्च न्यायालय का रुख किया था. उच्च न्यायालय याचिका पर 26 अक्टूबर को सुनवाई करेगा. विशेष अदालत ने आर्यन खान को जमानत देने से बुधवार को इनकार कर दिया था और कहा था कि प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है कि वह मादक पदार्थ संबंधी गतिविधियों में नियमित तौर पर शामिल थे. अदालत ने कहा था कि व्हाट्सऐप चैट से भी प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है कि वह मादक पदार्थ तस्करों के सम्पर्क में थे. सोर्स- भाषा
 

और पढ़ें