नई दिल्ली आईपीएल नीलामी में हुई खरीदारी से नाखुश सनराइजर्स के सहायक कोच कैटिच ने दिया इस्तीफा

आईपीएल नीलामी में हुई खरीदारी से नाखुश सनराइजर्स के सहायक कोच कैटिच ने दिया इस्तीफा

आईपीएल नीलामी में हुई खरीदारी से नाखुश सनराइजर्स के सहायक कोच कैटिच ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग की सनराइजर्स हैदराबाद टीम एक बार फिर गलत कारणों से सुर्खियों में आ गई जब नीलामी में महंगे दामों पर कुछ खिलाड़ियों को खरीदने से खफा सहायक कोच और आस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज साइमन कैटिच ने इस्तीफा दे दिया.कैटिच, वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा और भारत के पूर्व बल्लेबाज हेमांग बदानी को सनराइजर्स के सहयोगी स्टाफ में जोड़ा गया था जिसमें मुख्य कोच टॉम मूडी और मुथैया मुरलीधरन भी हैं .कैटिच ने नीलामी के तुरंत बाद इस्तीफा दे दिया.

काव्या मारन की अगुवाई वाले सनराइजर्स प्रबंधन ने अभी तक कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है लेकिन समझा जाता है कि उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है. मशहूर कोच साइमन हेलमोट की वापसी हुई है जो पहले भी टीम के साथ काम कर चुके हैं.

 

द आस्ट्रेलियन की रिपोर्ट के अनुसार कैटिच ने इस्तीफा इसलिये दिया क्योंकि दो दिवसीय नीलामी में पूर्व निर्धारित रणनीति का पालन नहीं किया गया. सनराइजर्स ने निकोलस पूरन (10.75 करोड़ रूपये), वाशिंगटन सुंदर (8.75 करोड़) और राहुल त्रिपाठी (8.50 करोड़) को महंगे दामों में खरीदा.बायें हाथ के स्पिन हरफनमौला अभिषेक शर्मा को पौने सात करोड़ रूपये में खरीदा गया. उसने लीग के चार सत्रों में अभी तक कोई कमाल नहीं किया है जबकि पूरन भी पिछले साल यूएई में आईपीएल में फ्लॉप रहे थे.

सनराइजर्स ने तीन खिलाड़ियों को बरकरार रखा जिस पर भी सवाल उठे . उसके सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी अफगानिस्तान के स्पिनर राशिद खान ने टीम को छोड़ने का फैसला किया जबकि न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को कोहनी की चोट के बावजूद रिटेन किया गया. 

कश्मीर के तेज गेंदबाज उरमान मलिक और हरफनमौला अब्दुल समाद को भी रिटेन किया गया.रोमारियो शेफर्ड को शायद कोई खरीदता भी नहीं लेकिन टीम ने उसे पौने आठ करोड़ रूपये में खरीदा. पिछले साल डेविड वॉर्नर से कप्तानी छिनने के कारण सनराइजर्स प्रबंधन सुर्खियों में था . इसके साथ ही यूएई में उन्हें अंतिम एकादश में भी नहीं रखा गया और 2016 में टीम को खिताब दिलाने वाले कप्तान को डगआउट में बैठने की अनुमति भी नहीं दी गई. (भाषा) 

और पढ़ें