Live News »

VIDEO: कांग्रेस वसुंधरा जी की तारीफ करें तो हमारे लिए अच्छी बात- केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

VIDEO: कांग्रेस वसुंधरा जी की तारीफ करें तो हमारे लिए अच्छी बात- केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

जैसमलेर: राजस्थान में चल रहे सियासी संकट के बीच आज केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी का सियासी दौरा चर्चा का विषय रहा. ये साधारण सियासी घटना नहीं हो सकती है जब जैसलमेर में कांग्रेस की बाडेबंदी चल रही हो और उसी वक्त केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी का सियासी दौरा हो जाये. कैलाश चौधरी ने भाजपा की स्थानीय टीम के साथ बैठक कर जैसलमेर-बाड़मेर संसदीय क्षेत्र के विकास के मुद्दों पर गहलोत सरकार को घेरा. 

Rajasthan Political Crisis: बसपा विधायकों पर तामील हुए कोर्ट के नोटिस, राजनैतिक क्षेत्रों में आश्चर्य! 

कांग्रेस वसुंधरा जी की तारीफ करें तो हमारे लिए यह अच्छी बात: 
वहीं इस दौरान कैलाश चौधरी ने फर्स्ट इंडिया न्यूज से खास बातचीत में कहा कि कांग्रेस वसुंधरा जी की तारीफ करें तो हमारे लिए यह अच्छी बात है. उन्होंने मुख्यमंत्री रहते बेहतर काम किए थे. वहीं कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जब तक होटल में है सुरक्षित है. हालांकि सतीश पूनिया को लेकर किए गए सवाल को मंत्री  चौधरी टाल गए. हमारे संवाददाता लक्ष्मण राघव ने उनसे खास बातचीत की...

 

और पढ़ें

Most Related Stories

प्रतापगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 1 करोड़ के अफीम डोडा चूरा के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार 

प्रतापगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 1 करोड़ के अफीम डोडा चूरा के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार 

प्रतापगढ़: प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले की छोटीसादड़ी थाना पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए एक ट्रक से बड़ी मात्रा में डोडाचूरा जप्त कर दो आरोपी को गिरफ्तार किया है. वहीं पुलिस ने ट्रक भी जब्त कर लिया है. तस्करी का यह डोडा चूरा मक्का के बोरों के बीच छिपाकर ले जाया जा रहा था. बरामद अफीम डोडा चूरा की कीमत एक करोड़ रुपए बताई जा रही है.

मुखबीर की सूचना पर हुई कार्रवाई:
छोटी सादड़ी थाना अधिकारी रवींद्र प्रताप सिंह ने बताया कि पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गोमाना पुलिया के पास नाकाबंदी के दौरान एक ट्रक से 13 क्विटंल डोडाचूरा बरामद किया है और दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि कोई संदिग्ध वस्तु ले जाई जा रही है. 

{related}

पुलिस ने मामला किया दर्ज, जांच शुरू:
पुलिस ने गोमाना पुलिया पर उपनिरीक्षक बलवंत सिंह चूंडावत मय जाब्ता ने नाकाबंदी के दौरान एक ट्रक संदिग्ध लगने पर तलाशी तो सामने आया कि मक्का के बोरों के नीचे डोडाचूरा है. 65 कट्टों में भरे इस डोडा चूरा का तौल किया गया तो 13 क्विटंल डोडाचूरा निकला और आरोपी परसाराम एवं राजुराम विश्नोई निवासी डांगियावास जोधपुर को गिरफ्तार किया है. पुलिस एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

जयपुर के पावटा में ACB की कार्रवाई, नवोदय स्कूल का प्रिंसिपल 15 हजार की घूस लेते ट्रैप 

 जयपुर के पावटा में ACB की कार्रवाई, नवोदय स्कूल का प्रिंसिपल 15 हजार की घूस लेते ट्रैप 

जयपुर: प्रदेश की राजधानी जयपुर के पावटा में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB )की कार्रवाई हुई. एसीबी ने कार्रवाई करते हुए नवोदय स्कूल के प्रिंसिपल को 15 हजार की घूस लेते ट्रैप किया है. आरोपी प्रिंसिपल अशोक कुमार वर्मा ठेकेदार से कमीशन मांग रहा था. DG आलोक त्रिपाठी और ADG दिनेश एमएन के निर्देश पर कार्रवाई हुई. एसीबी आरोपी से पूछताछ कर रही है.

{related}

महिलाओं पर अत्याचार के खिलाफ योगी सरकार सख्त, अब UP में चौराहों पर लगेंगे अपराधियों के पोस्टर

महिलाओं पर अत्याचार के खिलाफ योगी सरकार सख्त, अब UP में चौराहों पर लगेंगे अपराधियों के पोस्टर

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार महिलाओं पर अत्याचार के खिलाफ सख्त हो गई है. यूपी में अब महिलाओं के साथ अपराध करने वालों की खैर नहीं है. जी हां योगी सरकार महिलाओं पर अत्याचार करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने जा रही है. योगी सरकार दुराचारियों और अपराधियों के खिलाफ ऑपरेशन दुराचारी चलाएगी. 

महिला पुलिसकर्मियों को सख्त एक्शन का ऑर्डर:
ऐसे अपराधियों के पोस्टर लगाने के निर्देश दिए गए है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कहीं भी महिलाओं के साथ कोई आपराधिक घटना हुई तो संबंधित बीट इंचार्ज, चौकी इंचार्ज, थाना प्रभारी और सीओ जिम्मेदार होंगे. योगी आदित्यनाथ ने कहा कि महिलाओं से किसी भी तरह का अपराध करने वाले अपराधियों को महिला पुलिस कर्मियों से ही दंडित कराओ. 

{related}

अपराधियों के मददगारों के नाम भी होंगे उजागर:
ऐसे अपराधियों और दुराचारियों के मददगारों के भी नाम उजागर करने का आदेश दिया. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि महिलाओं और बच्चियों के साथ किसी भी तरह की घटना को अंजाम देने वालों को समाज जाने,  इसलिए चौराहों पर लगाओ ऐसे अपराधियों के पोस्टर लगवाएं. 

होमगार्ड और यातायात पुलिसकर्मी के साथ दो युवकों ने की मारपीट, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

होमगार्ड और यातायात पुलिसकर्मी के साथ दो युवकों ने की मारपीट, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

जोधपुर: शहर के भास्कर चौराहे पर आज एक बार फिर होमगार्ड और यातायात पुलिसकर्मी के साथ दो युवकों ने जमकर मारपीट की. मारपीट का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, हालांकि इस घटना के दोनों आरोपी युवकों को रातानाडा थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. 

बाइक पर पीछे बैठे युवक के हेलमेट नहीं लगा हुआ था:
भास्कर चौराहे पर तैनात यातायात पुलिस कर्मी रघुवीरसिंह ओर होमगार्ड शंकर सिंह ड्यूटी कर रहे थे. इसी दौरान एक बाइक पर दो युवक सवार होकर गुजरे. बाइक पर पीछे बैठे युवक के हेलमेट नहीं लगा हुआ था, जिस पर होमगार्ड शंकर सिंह ने बाइक को रोकने का इशारा किया. रघुवीर सिंह का आरोप है कि दोनों युवकों ने बाइक रोकने की बजाय शंकर सिंह पर बाइक चढ़ाने का प्रयास किया, जिस पर शंकर सिंह ने गाड़ी का हैंडल पकड़ लिया. रघुवीर सिंह ने बताया कि दोनों युवकों ने गाड़ी से उतरते ही होमगार्ड शंकर सिंह के साथ मारपीट शुरू कर दी. एक युवक के हाथ में हेलमेट था उसने शंकर सिंह के साथ हेलमेट से मारपीट की और उसे एक गंदे पानी के बर्तन में गिरा दिया.

{related}

दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया:
इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम पर दी गई ओर चेतक गाड़ी मौके पर पहुंची. दोनों युवकों को गाड़ी में डालकर रातानाडा थाने लाया गया, जहां उन्हें फिलहाल 151 किया गया है. दोनों के खिलाफ राजकार्य में बाधा का मामला दर्ज हो सकता है. थाना अधिकारी ने बताया कि दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है और अब नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.  

फिट इंडिया डायलॉग 2020: पीएम मोदी ने की देशभर के फिटनेस विशेषज्ञों से बात, विराट कोहली से यो-यो टेस्ट के बारे में पूछा

फिट इंडिया डायलॉग 2020: पीएम मोदी ने की देशभर के फिटनेस विशेषज्ञों से बात, विराट कोहली से यो-यो टेस्ट के बारे में पूछा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट की पहली वर्षगांठ पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देशभर के फिटनेस विशेषज्ञों और प्रभावशाली व्यक्तियों से बात की. इसके साथ ही ऑनलाइन फिट इंडिया डायलॉग के दौरान 'फिट इंडिया एज एप्रोप्रियेट फिटनेस प्रोटोकॉल' लॉन्च किया. इस सत्र के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली, दो बार के पैरालिंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया, अभिनेता मिलिंद सोमन जैसी हस्तियों से पीएम मोदी ने बात की. 

आपका तो नाम भी विराट और काम भी विराट:
विराट कोहली से बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आपका तो नाम भी विराट और काम भी विराट. विराट बोले कि जबतक आपको खुद को महसूस ना हो कि फिटनेस कितनी जरूरी है, आज अगर प्रैक्टिस मिस हो जाए तो बुरा नहीं लगता लेकिन फिटनेस का ध्यान रखता हूं. विराट कोहली ने कहा कि शरीर के साथ दिमाग को भी फिट रखने की भी जरूरत महसूस होती है. उन्होंने कहा कि हमें खाने और नींद के बीच समय के अंतर को बनाकर रखना होगा. फिटनेस संवाद के दौरान पीएम मोदी ने विराट कोहली से यो-यो टेस्ट के बारे में भी पूछा. उन्होंने कहा कि यह टीम के लिए बहुत जरूरी है. इससे फिटनेस लेवल बना रहता है. 

देवेंद्र ने पीएम को ये मूवमेंट शुरू करने के लिए धन्यवाद किया:
दो बार के पैरालिंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया ने पीएम मोदी से बात करते हुए बताया कि नौ साल की उम्र में एक एक्सीडेंट में मेरे हाथ चले गए थे. लेकिन मेरी मां ने मुझे हौसला दिया. जिसके बाद मैंने फिर से खेल की शुरुआत की. देवेंद्र ने पीएम को ये मूवमेंट शुरू करने के लिए धन्यवाद किया. देवेंद्र ने पीएम मोदी को बताया कि वो लगातार कंधे की एक्सरसाइज करता हूं ताकि लगातार काम किया जा सके. देवेंद्र ने बताया कि उन्होंने साइकिल के टायर के ट्यूब से एक्ससाइज करना शुरू किया.

{related}

मोदी ने कहा कि भविष्य में दुनिया बेकहम नहीं बल्कि अफशां की बात करेगी:
जम्मू कश्मीर की महिला फुटबॉलर अफशां आशिक ने बताया कि उनके फुटबॉलर बनने के फैसले का समर्थन उनके घरवालों ने किया, जिसके बाद वह मुंबई में प्रैक्टिस के लिए गईं. पीएम मोदी ने कहा कि भविष्य में दुनिया बेकहम नहीं बल्कि अफशां की बात करेगी. पीएम मोदी ने कहा कि आपसे देश की लड़कियां खासा प्रभावित होंगी. अफशां ने बताया कि वह क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की प्रशंसक हैं और वह उनसे सीखने की कोशिश करती हैं.

सिर्फ अभ्यास नहीं, जीवन जीने की कला: 
फिट इंडिया संवाद के दौरान स्वामी शिवध्यानम सरस्वती ने कहा कि योग कैप्सूल से कम समय में आप योग का अधिकतम लाभ ले सकते हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों को मंत्र को धर्म से नहीं जोड़ना चाहिए. हमारा मानना है कि योग सिर्फ अभ्यास नहीं, जीवन जीने की कला है. 

मिलिंद सोमन ने लोगों से फिट रहने के लिए अपील की:
मिलिंद सोमन ने लोगों से फिट रहने के लिए अपील की. साथ ही उन्होंने कहा फिट इंडिया मूवमेंट से लोगों तक फिटनेस की सही जानकारी पहुंचेगी. मिलिंद सोमन ने कहा कि मुझे जितना भी समय मिलता है मैं खुद को फिट रखने के लिए कुछ न कुछ करता हूं. मैं जिम नहीं जाता हूं. मैं किसी मशीन का इस्तेमाल नहीं करता हूं.


 

एमएल लाठर राज्य के नए पुलिस महानिदेशक की दौड़ में सबसे आगे!

जयपुर: पुलिस महानिदेशक भूपेंद्र यादव ने पद से हटने के लिए वीआरएस लेने के लिए आवेदन करने के बाद अब पुलिस महकमे के नये मुखिया की तलाश तेज हो गई है. राजस्थान पुलिस के मुखिया के लिये संभावित नामों की दौड़ में 1987 बैच के IPS अफसर मोहन लाल लाठर को सबसे आगे बताया जा रहा है. हालांकि लाठर केवल 8 माह ही डीजीपी के पद पर रहेंगे. क्योंकि मई 2021 में एमएल लाठर का रिटायरमेंट हैं. 

10 दिन पहले ही VRS के लिए दे दिया था भूपेन्द्र यादव ने आवेदन:  
वर्तमान पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह यादव ने 10 दिन पहले ही सीएम गहलोत को इस्तीफा भेज दिया था. ऐसे में अब मुख्यमंत्री गहलोत ही फैसला लेंगे कि किस तारीख को VRS मंजूर होगा और किस तारीख को लाठर डीजीपी का पदभार ग्रहण करेंगे? अब हर किसी को इन दोनों सवालों के जवाब का इंतजार है. 

{related}

भूपेन्द्र यादव के बाद अब नजरें डॉ. आलोक त्रिपाठी के उत्तराधिकारी पर:
वहीं भूपेन्द्र यादव के बाद अब डॉ. आलोक त्रिपाठी के उत्तराधिकारी पर भी नजरें है. आलोक त्रिपाठी भी 30 सितंबर को लगभग साढ़े चार साल के एतिहासिक कार्यकाल के बाद रिटायर हो रहे हैं. ऐसे में अब डीजी, एसीबी की दौड़ में केवल दो अधिकारी शामिल है. बीएल सोनी पहले स्थान पर हैं और दूसरे स्थान पर सौरभ श्रीवास्तव हैं. यदि गहलोत ने एसीबी में बनाए रखा डीजी स्तर का अधिकारी तो दौड़ में केवल बीएल सोनी दिखाई दे रहे हैं. ऐसे में सोनी और दिनेश की जोड़ी गहलोत का मेंडेट लागू करेगी, और यदि एसीबी में रखा गया एडीजी स्तर का अधिकारी तो फिर सीनियर एडीजी के नाते सौरभ को ये जिम्मेदारी मिलेगी. 

VIDEO: दिवाली पर नहीं मिलेगी ट्रेन में सीट! रेलवे प्रशासन ने ट्रेनें नहीं बढ़ाई, तो खड़ी होगी मुश्किल

जयपुर: खबर उम्मीद भरी है, लेकिन निराश करने वाली भी. एक तरफ जहां दिवाली पर घर लौटने के लिए ट्रेनों में बुकिंग बढ़ी है, जो रेलवे के लिए उम्मीद भरी खबर है तो दूसरी तरफ रेलवे के अल्प इंतजामों के चलते यात्रियों को परेशानी भी झेलनी पड़ सकती है, यानी यह यात्रियों के लिए निराशाजनक खबर है. दिवाली पर ज्यादातर शहरों के लिए ट्रेनें या तो उपलब्ध नहीं हैं, या जिन शहरों के लिए ट्रेनें उपलब्ध हैं, उनमें सीट खाली नहीं है. ऐसे में कैसे लोग पहुंच सकेंगे अपने घर तक ? और किन रूटों पर ट्रेनें चलाए जाने की है सबसे ज्यादा जरूरत... 

भारतीय रेल भी इस बार यात्रियों को धोखा देती दिख रही: 
दरअसल, देश के सबसे बड़े त्यौहार दिवाली को हर कोई अपनों के बीच मिल-बैठकर मनाना चाहता है. इस बार भले ही कोरोना का भय हर जगह पसरा हुआ हो, लेकिन दिवाली लोग अपनों के बीच ही मनाएंगे. इसलिए लोग अपने घरों तक पहुंचने के लिए इंतजाम करने में जुट गए हैं. भारत की जीवनरेखा मानी जाने वाली भारतीय रेल भी इस बार यात्रियों को धोखा देती दिख रही है. यूं तो सरकार ने कोरोना संक्रमण का असर कम करने के लिए कम संख्या में ट्रेनें चलाई हुई हैं और केवल उन्हीं शहरों के लिए ट्रेनें चलाई जा रही हैं, जिनके लिए लोगों का यात्रा करना जरूरी है. लेकिन त्यौहार के मौके पर लोगों को ट्रेनें नहीं मिलने से बड़ी असुविधा हो सकती है. जयपुर जंक्शन की बात करें, तो अभी महज 10 जोड़ी ट्रेनों का ही संचालन जयपुर से हो रहा है. इनमें से भी 3 ट्रेनें रोजाना के बजाय सप्ताह में 2 से 3 दिन ही संचालित होती हैं. ऐसे में दिवाली पर इन ट्रेनों के भरोसे सभी लोगों का अपनों के पास पहुंचना संभव नहीं लगता. उधर, रेलवे से जुड़े सूत्रों का कहना है कि रेलवे प्रशासन भी इस बात का इंतजार कर रहा है कि ट्रेनों में ज्यादा बुकिंग बढ़े. लंबी प्रतीक्षा सूची हो तो इसे आधार बनाकर दिल्ली प्रस्तावित भिजवाया जा सके. जिससे कि कुछ अन्य शहरों के लिए ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा सके. 

जयपुर से जाने के लिए या तो ट्रेन नहीं या सीट नहीं: 
- दिवाली पर जयपुर से पटना जाना चाहते हैं, लेकिन कोई ट्रेन उपलब्ध नहीं
- जयपुर से लखनऊ के लिए फिलहाल एक भी ट्रेन संचालित नहीं
- जयपुर से वाराणसी के लिए कोई ट्रेन संचालित नहीं
- जयपुर से इंदौर के लिए कोई ट्रेन संचालित नहीं
- जयपुर से जम्मूतवी के लिए कोई ट्रेन संचालित नहीं

1. जयपुर से हावड़ा, 11 नवंबर- मात्र 1 ट्रेन उपलब्ध
- ट्रेन 02386 जोधपुर-हावड़ा स्पेशल में स्लीपर क्लास में 10 वेटिंग
- इसी ट्रेन में 3AC में RAC- 1 प्रदर्शित हो रहा

2. जयपुर से प्रयागराज, 12 नवंबर- मात्र 1 ट्रेन उपलब्ध
- ट्रेन 02404 जयपुर-प्रयागराज स्पेशल में स्लीपर क्लास में RAC- 23, 3AC में 165 सीट उपलब्ध

अभी तक हमने बात की जयपुर से जाने वाली ट्रेनों की. लेकिन अगर जयपुर आने वाली ट्रेनों की बात की जाए तो हालात और भी विकट नजर आते हैं. दरअसल, बड़ी संख्या में जयपुर शहरवासी काम के सिलसिले या फिर पढ़ाई के लिए दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद, पुणे जैसे शहरों में निवास करते हैं. दिवाली के मौके पर ज्यादातर लोग इन बड़े शहरों से जयपुर आते हैं. लेकिन जयपुर आगमन के दौरान यात्रियों को या तो इन ट्रेनों में लंबी प्रतीक्षा सूची दिख रही है या फिर कई शहरों से जयपुर आगमन के लिए ट्रेनें ही उपलब्ध नहीं हैं.  

{related}

जयपुर आगमन के लिए लंबी प्रतीक्षा:  

1. मुम्बई से जयपुर, 12 नवंबर- मात्र 1 ट्रेन उपलब्ध 
- ट्रेन 02955 मुंबई सेंट्रल-जयपुर स्पेशल में स्लीपर में 198 वेटिंग
- इसी ट्रेन में थर्ड AC में 82, सेकंड AC में 24 वेटिंग

2. अहमदाबाद से जयपुर, 12 नवंबर- 2 ट्रेन उपलब्ध
- ट्रेन 02957 नई दिल्ली राजधानी में 3AC, 2 AC में दिखा रहा रिग्रेट, यानी बुक नहीं होगी टिकट
- ट्रेन 02915 अहमदाबाद-दिल्ली स्पेशल (आश्रम) में स्लीपर में 135 वेटिंग
- इसी ट्रेन में 3AC में 52 वेटिंग, यानी सीट मिलने की उम्मीद नहीं

3. हैदराबाद से जयपुर, 13 नवंबर- मात्र 1 ट्रेन सप्ताह में 2 दिन उपलब्ध
- ट्रेन 02975 मैसूरु-जयपुर स्पेशल में स्लीपर में 32 वेटिंग
- इसी ट्रेन में 3 AC में 15 वेटिंग, सप्ताह में 5 दिन कोई ट्रेन नहीं
- चेन्नई से जयपुर के लिए कोई भी सीधी ट्रेन उपलब्ध नहीं
- पुणे से जयपुर के लिए फिलहाल एक भी ट्रेन संचालित नहीं

कुल मिलाकर यदि रेलवे प्रशासन ने ट्रेनों की संख्या में बढ़ोतरी नहीं की, तो यात्रियों के लिए दिवाली पर घर लौटना काफी मुश्किल साबित हो सकता है. चूंकि रेलवे फिलहाल वेटिंग वाले यात्रियों को ट्रेनों में यात्रा करने की इजाजत नहीं दे रहा और बड़ी संख्या में एक से दूसरे शहर के लिए ट्रेनें उपलब्ध नहीं हैं, तो ऐसे में लोगों को दिवाली पर उनके अपनों तक पहुंच पाना कठिन सफर साबित होगा. 

...काशीराम चौधरी, फर्स्ट इंडिया न्यूज़, जयपुर

किसान अध्यादेश के विरोध में कांगेस पार्टी आज करेगी देशव्यापी प्रेस कॉन्फ्रेंस, सभी बड़े नेता लेंगे हिस्सा

किसान अध्यादेश के विरोध में कांगेस पार्टी आज करेगी देशव्यापी प्रेस कॉन्फ्रेंस, सभी बड़े नेता लेंगे हिस्सा

जयपुर: किसान अध्यादेश के विरोध में कांग्रेस पार्टी आज देशभर में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी. आज सभी राज्यों की राजधानी में कृषि बिल मुद्दे पर कांग्रेस के बड़े नेताओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस होगी. इसी के चलते आज राजस्थान में भी शाम 5 बजे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश प्रभारी अजय माकन VC के जरिये प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. इस दौरान पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा भी मौजूद रहेंगे. सीएम गहलोत और पीसीसी चीफ डोटासरा जयपुर से जुड़ेंगे तो वहीं दिल्ली से VC के जरिये प्रदेश प्रभारी अजय माकन रूबरू होंगे. 

28 सितंबर को PCC से राजभवन तक पैदल मार्च:  
इसके साथ ही कांग्रेस 28 सितंबर को PCC से राजभवन तक पैदल मार्च भी करेगी. हालांकि धारा-144 के मद्देनजर कार्यक्रम में बदलाव भी हो सकता है. पैदल मार्च के बाद राज्यपाल को ज्ञापन दिया जाएगा. 

{related}

2 अक्टूबर को प्रदेश कांग्रेस मनाएगी 'किसान मजदूर दिवस:
वहीं, 2 अक्टूबर को प्रदेश कांग्रेस किसान मजदूर दिवस मनाएगी. 2 अक्टूबर को विधानसभा क्षेत्रों और जिला मुख्यालयों पर कृषि विधेयकों के खिलाफ धरने प्रदर्शन भी होंगे. 10 अक्टूबर को जयपुर सहित अन्य जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस किसान सम्मेलन आयोजित करेगी. 

पंजाब और हरियाणा में किसान इन बिलों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे: 
गौरतलब है कि पंजाब और हरियाणा में किसान इन बिलों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. इन राज्यों में कांग्रेस ने पहले ही मोर्चा खोला हुआ है. कांग्रेस का आरोप है कि इन बिलों के जरिए मोदी सरकार किसानों को कॉरपोरेट के चंगुल में फंसा रही है. इससे मंडी व्यवस्था खत्म हो जाएगी और किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं मिलेगा.