असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक, आर्थिक सुरक्षा योजनाओं से जोड़ा जाए: CM योगी

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक, आर्थिक सुरक्षा योजनाओं से जोड़ा जाए: CM योगी

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक, आर्थिक सुरक्षा योजनाओं से जोड़ा जाए: CM योगी

लखनऊ(यूपी): मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘मिशन रोजगार अभियान’ के तहत प्रत्येक जनपद में जिला सेवायोजन कार्यालय को केन्द्र में रखते हुए असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को व्यापक स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं.

उन्होंने कहा कि एम0एस0एम0ई0 सेक्टर और ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ योजना की तर्ज पर असंगठित कामगारों/श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया जाए. असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को सामाजिक, आर्थिक सुरक्षा के साथ जोड़ने का व्यापक अभियान चलाया जाए.

असंगठित क्षेत्र को सामाजिक व आर्थिक सुरक्षा उपलब्ध कराना प्राथमिकता: 
मुख्यमंत्री आदित्यनाथ बुधवार को यहां ‘उत्तर प्रदेश कामगार और श्रमिक (सेवायोजन एवं रोजगार) आयोग’ की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे. उन्होंने कहा कि संगठित क्षेत्र के साथ-साथ असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक व आर्थिक सुरक्षा उपलब्ध कराना राज्य सरकार की प्राथमिकता है. उन्होंने कहा कि जनपद स्तर पर इन कार्यों के सम्बन्ध में निरन्तर कार्यवाही हो और जनपद स्तर पर रोजगार मेलों व लोन मेलों को आयोजित किए जायें.

अब तक लगभग 31,000 करोड़ रुपए का ऋण उपलब्ध कराया:
मुख्यमंत्री ने कहा कि रोजगार उपलब्ध कराने में सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्वम (एम0एस0एम0ई0) क्षेत्र सहित ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ योजना, ‘विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना’ जैसी योजनाओं की महत्वपूर्ण भूमिका है. एम0एस0एम0ई0 सेक्टर की पूर्व स्थापित तथा नवीन इकाइयों को अब तक लगभग 31,000 करोड़ रुपए का ऋण उपलब्ध कराया गया है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें