जयपुर Rajasthan: कोटा में निषेधाज्ञा को लेकर ‘कश्मीर फाइल्स’ के उल्लेख पर विधानसभा में हुआ हंगामा

Rajasthan: कोटा में निषेधाज्ञा को लेकर ‘कश्मीर फाइल्स’ के उल्लेख पर विधानसभा में हुआ हंगामा

Rajasthan: कोटा में निषेधाज्ञा को लेकर ‘कश्मीर फाइल्स’ के उल्लेख पर विधानसभा में हुआ हंगामा

जयपुर: राजस्थान विधानसभा में मंगलवार को उस समय हंगामा देखने को मिला जब भाजपा विधायकों ने फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' की रिलीज के बाद कोटा जिले में निषेधाज्ञा लागू करने का विरोध किया. कोटा जिला प्रशासन ने सोमवार को जारी निषेधाज्ञा देश में आगामी त्योहारों, 'द कश्मीर फाइल्स' फिल्म व चंबल नदी और इसकी नहरों में युवाओं द्वारा स्नान किए जाने से हो रही मौतों का जिक्र किया गया है. इसका हवाला देते हुए कोटा जिले में 22 मार्च से 21 अप्रैल तक धारा 144 लगाते हुए पांच से अधिक लोगों के एकत्र होने, प्रदर्शन, विरोध, जुलूस और रैलियों जैसी गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है.

शून्यकाल के दौरान कोटा से भाजपा विधायक संदीप शर्मा ने यह मुद्दा उठाने का प्रयास किया. उन्होंने कहा, 'प्रशासन की ओर से किस तरह का आदेश जारी किया गया है? फिल्म देशभर में रिलीज हो रही है, क्या जिला प्रशासन कानून-व्यवस्था को संभालने में अक्षम है. शर्मा द्वारा मुद्दा उठाया जाने के बाद भाजपा के कई अन्य विधायकों ने उनका समर्थन दिया जिससे हंगामा हुआ. सभापति जेपी चंदेलिया ने हस्तक्षेप करते हुए सदस्यों से सदन की व्यवस्था बनाए रखने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को सरकार के संज्ञान में लाया गया है और सदस्यों को बैठने के लिए कहा गया है. उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि पार्टी इस मुद्दे पर पूर्व नोटिस देगी और सरकार से जवाब मांगेगी. वहीं मामला बढ़ने पर कोटा प्रशासन ने मंगलवार को एक ट्वीट के जरिए स्थिति स्पष्ट की. ट्वीट में कहा गया है,‘‘कोटा जिला कलेक्टर द्वारा 21 मार्च को जारी धारा 144 में ’’द कश्मीर फाइल्स’’ फिल्म के कोटा जिले के सिनेमा घरों मे प्रदर्शन/संचालन अथवा घरों में देखने पर किसी भी प्रकार की कोई निषेधाज्ञा नहीं है.’’

इस बीच फिल्म के निर्देशक विवेक रंजन अग्निहोत्री ने सोशल मीडिया पर कहा कि आतंकवादियों की ताकत यह है कि वे डर पैदा करते हैं और हम डर जाते हैं. अग्निहोत्री के साथ अपने ट्वीट में केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को टैग करते हुए लिखा,‘‘प्रिय अनुराग ठाकुर, अगर लोकतंत्र में न्याय के अधिकार पर फिल्म को राज्य द्वारा बाधित किया जाता है तो हम न्याय के बारे में क्या सोचें? आदरणीय अशोक गहलोत, आतंकवादियों की ताकत ही यह है कि वे डर पैदा करते हैं और हम डर जाते हैं. वहीं भारतीय जनता युवा मोर्चा ने कोटा प्रशासन के इस फैसले के खिलाफ बुधवार को जयपुर में प्रदर्शन की घोषणा की है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें