close ads


जरूरतमंदों को राशन नही देने पर किया हंगामा, खाद्य सुरक्षा में चयनित परिवारों ने किया हंगामा

जरूरतमंदों को राशन नही देने पर किया हंगामा, खाद्य सुरक्षा में चयनित परिवारों ने किया हंगामा

बालेसर (जोधपुर): कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते जहां केन्द्र एंव राज्य सरकारें हर जरूरतमंद परिवारों को मदद करने के लिए विभिन्न प्रकार के गरीब कल्याण के कार्य कर रहे है. मगर जोधपुर जिले के बालेसर कस्बे में क्रय विक्रय सहकारी समिति के राशन वितरक द्वारा राशन के गेहूं वितरण नहीं करने पर लोगो ने हंगामा किया एंव गेहूं दिलवाने की मांग की हैं. कोरोना वायरस के संक्रमण के लॉकडाउन के चलते जहां देश भर में दिहाङी  मजदूरों,गरीब एंव असहाय परिवारों के आगे रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया हैं.

Covid-19 World Updates: दुनियाभर में कोरोना का कोहराम, मरने वालों की संख्या 2 लाख के करीब, 28 लाख के पार हुए संक्रमित लोग!

जरूरतमंद लोगों की मदद:
गरीब परिवारों की मदद करने के लिए इस बार राज्य सरकार के अलावा केन्द्र सरकार भी गरीब एंव जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए खाद्य सुरक्षा सूची से जुङे प्रत्येक परिवार के प्रत्येक सदस्य हो हर माह 05-05 किलो गेहूं महिनें में दो बार वितरण किया जा रहा हैं. बालेसर कस्बे के क्रय विक्रय सहकारी समिति के उचित मुल्य की दुकान पर कुछ लोग अप्रैल महीने का गेहूं लेने पहुंचे मगर वहां पर मौजूद कर्मचारियों ने गेहूं देने से मना कर दिया. साथ ही कहा की गेहूं खत्म हाे गए हैं.

राशन के गेहूं खत्म हो गए:
इस पर लोगों ने वहां पर हंगामा करते हुऐ कहा की तीन चार बार चक्कर काटे मगर हर बार एक ही जवाब मिलता हैं की राशन के गेहूं खत्म हो गए है. राशन कार्ड भी पहले जमा करवाये मगर बारी आई तो बोले की राशन का गेहू खत्म हो गए है. जबकी गोदाम में गेहूं रखे हुए पङे थे. वही क्रय विक्रय समिति के कर्मचारियों ने बताया की इस बार एनएफएस सूची में निधार्रित गेहूं की मात्रा से कम गेहूं आने से कई लोगों को गेहू का वितरण नही किया जा सका. गोदाम में जो गेहूं रखा वह अगले महिने के लिए एडंवास गेहू आया है.

Rajasthan Corona Updates: प्रदेश में कोरोना मरीजों का बढ़ता ग्राफ, पिछले 12 घंटे में सामने आये 25 केस, जानिए जिलेवार आंकड़े

और पढ़ें