गोपेश्वर Uttarakhand: उम्मीदें तोड़ रही दम पर Rescue Operation जारी, मरने वालों की संख्या 70 पर पहुंची

Uttarakhand: उम्मीदें तोड़ रही दम पर Rescue Operation जारी, मरने वालों की संख्या 70 पर पहुंची

Uttarakhand:  उम्मीदें तोड़ रही दम पर Rescue Operation जारी, मरने वालों की संख्या 70 पर पहुंची

गोपेश्वर: उत्तराखंड के चमोली जिले में आपदा प्रभावित क्षेत्रों में 18 वें दिन भी तलाश और बचाव अभियान जारी है. आपदा के बाद से अब तक 70 शव निकाले जा चुके हैं. इसकी जानकारी पुलिस की ओर से जारी बुलेटिन में दी गई है. चमोली जिला पुलिस की ओर से जारी मीडिया बुलेटिन मे बताया गया है कि आपदा प्रभावित क्षेत्रों से अब तक 70 शव और 29 मानव अंग बरामद हो चुके हैं जिनमें से 40 शवों और एक मानव अंग की पहचान की जा चुकी है. 

134 लोग अभी भी लापता

इसके अलावा, जोशीमठ पुलिस थाने में मंगलवार को एक और लापता व्यक्ति की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है. तपोवन-विष्णुगाड जलविद्युत परियोजना में कार्यरत ऋत्विक कंपनी ने अपने एक और कामगार के लापता होने की सूचना थाने को दी है. त्रासदी के बाद से अब तक 134 लोग लापता हैं जिनकी तलाश के लिए लगातार तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. 

मानव अंगो का होगा डीएनए

बुलेटिन में कहा गया है कि 58 शवों, 28 मानव अंगों तथा आपदा का शिकार हुए लोगों के 110 परिजनों के डीएनए नमूने देहरादून स्थित फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला में मिलान के लिए भेज दिए गए हैं. 

सरकार ने दिए लापता लोगों को मृत घोषित करने के आदेश

हाल ही में राज्य सरकार ने आदेश दिए हैं कि आपदा में लापता लोगों को मृत घोषित कर दिया जाए. सीएम रावत ने इस सिलसिले में केन्द्र सरकार से भी बात की है और सरकार का कहना है कि अब लोगों के जिंदा बचने की उम्मीद ना के बराबर रह गई है. ऐसे में लापता लोगों को मृत घोषित कर देना ही बेहतर होगा.

और पढ़ें