नई दिल्ली Uttarakhand Polls: हरीश रावत ने कहा- उत्तराखंड में कांग्रेस को करीब 48 सीटें मिलने की संभावना

Uttarakhand Polls: हरीश रावत ने कहा- उत्तराखंड में कांग्रेस को करीब 48 सीटें मिलने की संभावना

Uttarakhand Polls: हरीश रावत ने कहा- उत्तराखंड में कांग्रेस को करीब 48 सीटें मिलने की संभावना

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने उत्तराखंड में अपनी पार्टी की जीत की उम्मीद जताते हुए मंगलवार को दावा किया कि राज्य की जनता ने परिवर्तन के लिए वोट दिया है और कांग्रेस को करीब 48 सीटें मिलेंगी. उन्होंने ‘पीटीआई-भाषा’ से बातचीत में यह भी कहा कि इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत होने पर मुख्यमंत्री का फैसला पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी और उनका निर्णय सबको स्वीकार्य होगा.

मतदान के बाद मैं यह कह सकता हूं कि कांग्रेस की जीत सुनिश्चित है:

उत्तराखंड विधानसभा की सभी 70 सीटों के लिए सोमवार को मतदान हुआ. मतगणना 10 मार्च को होगी. पूर्व मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि मतदान के बाद मैं यह कह सकता हूं कि कांग्रेस की जीत सुनिश्चित है. उत्तराखंड की जनता ने परिवर्तन के लिए वोट दिया है. चुनावों में कुछ सामान्य संकेत होते हैं जिनसे यह स्पष्ट है कि कांग्रेस के पक्ष में लोगों ने मतदान किया है और उत्तराखंड में अब कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है.’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘हमारा अपना गणित कहता है कि कांग्रेस को 48 के आसपास सीटें मिलना चहिए. पिछले पांच साल उत्तराखंड के लिए बहुत कष्ट वाले रहे हैं. लोगों के स्वाभिमान पर चोट हुई है. ऐसे में यह लगता है कि लोगों ने बदलाव के लिए वोट किया है.

हमें आशा है कि उत्तराखंड की जनता ने इस बात को ध्यान में रखा है कि 2016 वाली स्थिति पैदा नहीं हो:

रावत ने यह उम्मीद भी जताई कि लोगों ने मतदान करते समय इस बात को भी ध्यान रखा होगा कि साल 2016 जैसी स्थिति पैदा न हो जब कांग्रेस के कई विधायकों के बगावत करने के बाद उनके (रावत) नेतृत्व वाली सरकार संकट में आ गई थी और कुछ महीने तक राजनीतिक अस्थिरता रही थी.

उन्होंने कहा कि हमें आशा है कि उत्तराखंड की जनता ने इस बात को ध्यान में रखा है कि 2016 वाली स्थिति पैदा नहीं हो.’’ यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस की जीत के बाद वह मुख्यमंत्री बनेंगे, रावत ने जोर देकर कहा, कि यह निर्णय सोनिया गांधी के हाथ में है. हमने इस बात को स्पष्ट किया है जो भी कांग्रेस अध्यक्ष का फैसला होगा, वह सबको स्वीकार्य होगा.’’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने यह भी कहा कि अगर उनकी पार्टी की सरकार बनती है तो सबसे पहले, घोषणापत्र में किए गए वादों को पूरा करने और अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए काम आरंभ होगा. उन्होंने कहा कि सरकार बनते ही हम अर्थव्यवस्था को सुधारने और संसाधन जुटाने के लिए काम करेंगे. हम जनता के विश्वास को बनाए रखने के लिए वादों पर अमल करेंगे. सोर्स-भाषा

और पढ़ें